लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Russian strike in Ukrainian city of Zaporizhzhia kills 23

Ukraine War: विलय के पहले रूस ने जैपोरिझ्झिया में मानवीय काफिले पर की बमबारी, 23 की मौत

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, कीव Published by: सुरेंद्र जोशी Updated Fri, 30 Sep 2022 12:52 PM IST
सार

जैपोरिझ्झिया समेत यूक्रेन के चार इलाकों को रूस में शामिल किए जाने को लेकर जनमत संग्रह हो चुका है। आज इनका औपचारिक रूप से रूस में विलय किया जाएगा। ताजा बमबारी क्यों की गई, यह पता नहीं चला है। 

यूक्रेन में बमबारी
यूक्रेन में बमबारी - फोटो : Social Media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

रूसी द्वारा यूक्रेन के चार हिस्सों को आज अपने देश में मिलाने के औपचारिक एलान के पूर्व जैपोरिझ्झिया शहर में मानवीय काफिले पर बमबारी किए जाने की खबर आई है। रूसी हमले में कम से कम 23 लोग मारे गए और 28 घायल हो गए हैं। 



जैपोरिझ्झिया समेत यूक्रेन के चार इलाकों को रूस में शामिल किए जाने को लेकर जनमत संग्रह हो चुका है। आज इनका औपचारिक रूप से रूस में विलय किया जाएगा। ताजा बमबारी क्यों की गई, यह पता नहीं चला है। रूस और यूक्रेन के बीच 24 फरवरी से जंग जारी है। इसमें अब तक हजारों लोग मारे जा चुके हैं। जंग थमने का नाम नहीं ले रही है।

रूस ने अब तक उत्तर से कीव-खारकीव की ओर से, पूर्व में डोनबास (डोनेत्स्क और लुहांस्क) क्षेत्र से और दक्षिण में खेरसन, जैपोरिझ्झिया और माइकोलेव की तरफ से, पूर्व और दक्षिण में रूस ने यूक्रेन की अच्छी-खासी जमीन पर कब्जा कर लिया है। फिलहाल जिन चार क्षेत्रों को रूस में शामिल कराने के लिए जनमत संग्रह कराया जा रहा है, उनमें डोनेत्स्क, लुहांस्क (पूर्वी यूक्रेन) और खेरसन, जैपोरिझ्झिया (दक्षिण यूक्रेन) शामिल हैं। यह चार क्षेत्र यूक्रेन का करीब 15 फीसदी जमीनी हिस्सा हैं।  

चारों क्षेत्रों का आज रूस में विलय होगा
रूसी संसद के मुख्यालय ‘क्रेमलिन’ ने कहा है कि यूक्रेन के जिन चार क्षेत्रों को रूस में शामिल किए जाने को लेकर जनमत संग्रह कराया गया है उन्हें शुक्रवार को देश में जोड़ लिया जाएगा। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा कि यूक्रेन के चार क्षेत्रों - लुहांस्क, दोनेत्सक, खेरसान और जापोरिझिया को क्रेमलिन में एक समारोह के दौरान रूस में शामिल कर लिया जाएगा। पेसकोव ने कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन क्रेमलिन के इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसी कार्यक्रम के दौरान जनमत संग्रह कराए गए चारों क्षेत्रों को आधिकारिक तौर पर रूस में शामिल करने की घोषणा की जाएगी। पेसकोव ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा कि चार क्षेत्रों के प्रमुख क्रेमलिन के सेंट जॉर्ज हॉल में शुक्रवार को एक समारोह के दौरान रूस में शामिल होने के लिए संधियों पर हस्ताक्षर करेंगे। 


अमेरिका ने कहा जनमत संग्रह झूठा व अवैध
उधर, अमेरिका और पश्चिमी देशों ने कहा है कि यह जनमत संग्रह झूठा और अवैध है। इसे किसी भी सूरत में मान्यता नहीं दी जाएगी। इसे लेकर रूस और पश्चिमी देशों में नया टकराव पैदा होने की आशंका बढ़ गई है। यूक्रेन और पश्चिमी देशों ने इस जनमत संग्रह की निंदा की है। नाटो देशों ने कहा है कि वह रूस के खिलाफ जल्द ही प्रतिक्रियात्मक कदम उठाएगा।

अमेरिकी नागरिकों को रूस छोड़ने का अलर्ट
रूस-यूक्रेन में जंग को थमता न देखते हुए अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए सुरक्षा अलर्ट जारी किया है। उसने अपने देश के नागरिकों से तुरंत रूस छोड़ने को कहा है। उसने कहा, जो कोई भी अमेरिकी नागरिक इस वक्त रूस में हैं वे तत्काल वहां से निकल जाएं और जो रूस जाने की योजना बना रहे हैं वे फिलहाल वहां की यात्रा से बचें।
विज्ञापन

ब्लिंकन ने रूस पर यूक्रेन में 'भूमि हड़पने' के लिए जनमत संग्रह का आरोप लगाया
अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने गुरुवार को यूक्रेन में जनमत संग्रह के बाद रूस पर "भूमि हड़पने" का आरोप लगाया और कहा कि अमेरिका कभी भी दिखावटी जनमत संग्रह की वैधता या परिणाम को मान्यता नहीं देगा। ब्लिंकन ने कहा कि क्रेमलिन का दिखावटी जनमत संग्रह यूक्रेन में भूमि हड़पने के एक और प्रयास को छिपाने का एक निरर्थक प्रयास है। यह स्पष्ट है कि जनमत संग्रह के  परिणाम मास्को द्वारा प्रायोजित थे और यूक्रेन के लोगों की इच्छा को प्रतिबिंबित नहीं करते हैं।

फिनलैंड में रूसी पर्यटकों पर रोक
इस बीच फिनलैंड ने कहा कि वह शुक्रवार से अपने यहां अधिकांश रूसी पर्यटकों के प्रवेश पर रोक लगाएगा। फिनलैंड की सरकार ने बताया कि रूसी पर्यटकों पर प्रतिबंध गुरुवार आधी रात से ही लागू होगा। अब देश में रूसी पर्यटकों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है। सरकार ने कहा कि वह रूस से लगी अपनी सीमा पर यात्रियों की आवाजाही को सीमित करेगी। पर्यटक वीजा पर आने वाले रूसी नागरिकों पर पाबंदी लगाएगी। विदेश मंत्री पेक्का हाविस्टो ने कहा कि सैद्धांतिक रूप से इस फैसले का मकसद फिनलैंड में रूसी पर्यटकों पर पूरी तरह से पाबंदी लगाना है।
 

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00