लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   who More than 35 thousand cases of monkeypox have come across the world so far

WHO: दुनियाभर में मंकीपॉक्स के अब तक आए 35 हजार से ज्यादा मामले, बीते सप्ताह के मुकाबले 20 फीसदी की वृद्धि

वर्ल्ड न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जेनेवा Published by: शिव शरण शुक्ला Updated Wed, 17 Aug 2022 08:06 PM IST
सार

दुनिया भर में मंकीपाक्स के मामलों की संख्या बढ़ रही है। मंकीपॉक्स के मामलों में पिछले सप्ताह की तुलना में 20 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। दुनियाभर के 92 देशों में अब तक 35 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं।

दुनियाभर में मंकीपॉक्स का खतरा तेजी से बढ़ रहा है।
दुनियाभर में मंकीपॉक्स का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

कोरोना के बाद अब मंकीपॉक्स का खतरा तेजी से बढ़ता जा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक डॉ टेडरोस अदनहोम गेब्रेहेसुस ने बुधवार को मंकीपॉक्स के बढ़ते मामलों को लेकर चिंता जाहिर की है। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, 92 देशों में अब तक मंकीपॉक्स के 35,000 से अधिक मामले सामने आए हैं। इसके अलावा इसके कारण अब तक 12 लोगों की मौत भी हुई है। 



WHO चीफ डॉ टेडरोस अदनहोम गेब्रेहेसुस ने बताया कि पिछले सप्ताह मंकीपॉक्स के लगभग 7,500 मामले सामने आए थे। उन्होंने बताया कि मंकीपाक्स के मामलों में पिछले सप्ताह की तुलना में 20 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। इन आंकड़ों पर चिंता जाहिर करते हुए उन्होंने इससे बचाव के लिए टीकाकरण पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि टीके भी मंकीपॉक्स के प्रकोप को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। 


मंकीपॉक्स वायरस के वेरिएंट के लिए नामों की घोषणा की 
इससे पहले हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने मंकीपॉक्स वायरस के वेरिएंट के लिए नामों की घोषणा की थी। संगठन के एक बयान के मुताबिक, मंकीपॉक्स वायरस के वेरिएंट के लिए क्लैड I, क्लैड II ए और क्लैड II बी नाम दिया गया है, जिसमें II बी वर्ष 2022 में फैले वेरिएंट का समूह है। 

वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी ने मंकीपॉक्स के नए नाम तुरंत प्रयोग में लाने का सुझाव दिया है। एजेंसी ने बताया कि इस वायरस का नया नाम देने के पीछे का मकसद सांस्कृतिक और सामाजिक अपराध से बचना है। 

एजेंसी ने बयान जारी कर बताया कि मंकीपॉक्स के वेरिएंट्स को क्लेड्स I, IIa और IIb नाम दिया गया है। पॉक्स वायरोलॉजी, इवोल्यूशनरी बायोलॉजी के विशेषज्ञों और दुनियाभर के अनुसंधान संस्थानों के प्रतिनिधियों ने मंकीपॉक्स वायरस के ज्ञात और नए रूपों या समूहों के नामकरण की समीक्षा की थी।

मंकीपॉक्स से जुड़ी बड़ी बातें

  • मंकीपॉक्स चेचक से मिलता-जुलता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि बीमारी का संचरण मां से भ्रूण (जिससे जन्मजात मंकीपॉक्स हो सकता है) या जन्म के दौरान और बाद में निकट संपर्क के माध्यम से भी हो सकता है। 
  • संक्रमित व्यक्ति से निकट शारीरिक संपर्क सबसे अधिक जिम्मेदार है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या मंकीपॉक्स संक्रमित व्यक्ति से यौन संबंधों के जरिए भी फैलता है। 
  • यूरोप में इसके अब तक 100 से ज्यादा मामले मिल चुके हैं। स्पेन में शुक्रवार को 24 मामले मिले। 
  • अमेरिकी अधिकारियों का कहना है कि देश में फिलहाल इसकी जोखिम कम है, लेकिन कुछ समय बाद यह बढ़ सकता है। इसके अधिकांश मामले निकट संपर्क के कारण हुए हैं, इसका आगे अध्ययन किया जा रहा है। 
  • यह आमतौर पर पश्चिमी व मध्य अफ्रीकी देशों में मंकीपॉक्स वायरस के कारण फैला है। यह कोविड वायरस जितना संक्रामक नहीं है। 
  • इस बात की आशंका कम है कि यह महामारी लंबे समय तक चलेगी। संक्रमितों को आइसोलेट कर इस पर काबू किया जा सकता है। दवाएं और प्रभावी टीके भी उपलब्ध हैं।
  • मनुष्यों में मंकीपॉक्स के लक्षण चेचक के समान लेकिन हल्के होते हैं। मंकीपॉक्स आमतौर पर बुखार, चकत्ते और सूजी हुई लिम्फ नोड्स के साथ मनुष्यों में प्रकट होता है। 
  • इससे कई प्रकार की स्वास्थ्य जटिलताएं हो सकती हैं। मंकीपॉक्स आमतौर पर दो से चार सप्ताह तक चलने वाली बीमारी है। 
  • डब्ल्यूएचओ ने कहा कि हाल के दिनों में मृत्यु अनुपात लगभग 3 से 6 फीसदी रहा है। मंकीपॉक्स वायरस घावों, शरीर के तरल पदार्थ, श्वसन बूंदों और बिस्तर से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। 
  • बड़े समारोहों, त्योहारों व पार्टियों आदि में यदि कोई मंकीपॉक्स संक्रमित शरीक हुआ तो वह अन्य लोगों में संक्रमण फैला सकता है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00