लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   28 year old youth shot dead in Panipat of Haryana

पानीपत: झगड़े में बीच-बचाव करने पर चचेरे भाई की गोली मारकर हत्या, तीन अन्य लोग गंभीर घायल, गांव में तनावपूर्ण माहौल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पानीपत (हरियाणा) Published by: ajay kumar Updated Sat, 09 Apr 2022 01:30 AM IST
सार

कुछ माह पहले संदीप के परिवार का रितिक के परिवार के साथ 600 गज के प्लॉट पर विवाद हुआ था। विवाद पंचायती तौर पर सुलझा लिया गया था। रितिक के परिवार ने समझौते पर संदीप के परिवार को पैसे भी दे दिए थे लेकिन दिलों में रंजिश अब भी बरकार थी।

संदीप की फाइल फोटो
संदीप की फाइल फोटो - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पानीपत के गांव पसीना खुर्द में झगड़ा सुलझाने गए युवक की दो चचेरे भाइयों ने गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक के बड़े भाई ने भागकर जान बचाई। इनको बचाने आए तीन युवकों को गंड़ासियों से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी।



एसपी शशांक कुमार सावन मौके पर पहुंचे। पुलिस ने घटना स्थल से एक दर्जन से अधिक खोल बरामद किए हैं। एफएसएल की टीम ने मौके से नमूने जुटाए। सेक्टर 29 थाना पुलिस ने मामले में पांच महिलाओं समेत 13 लोगों पर हत्या व हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर लिया है। वारदात के बाद गांव में तनावपूर्ण माहौल है। 


गांव पसीना खुर्द निवासी रोशन पुत्र जनेश्वर ने बताया कि वे पांच भाई हैं। उनमें सबसे छोटा संदीप (28) था। गुरुवार रात नौ बजे रोशन और संदीप शिमला गुजरान गांव में अपने खेत में पानी देने जा रहे थे। रास्ते में उनके चाचा रकम सिंह का बेटा सोनू गन्ने से लदी ट्रॉली लेकर आ रहा था, जबकि सामने से दूसरे चाचा ब्रह्मपाल का बेटा रितिक ट्रैक्टर लेकर आ गया।

दोनों में रास्ता देने को लेकर विवाद हो गया। यह देख रोशन और संदीप दोनों को समझाने लगे। इसी बीच रितिक ने फोन कर अपने पिता ब्रह्मपाल, चाचा महिपाल, दूसरे चाचा ओमपाल, और उनके बेटे नरेश, प्रदीप, प्रवीण व सचिन को बुला लिया। आरोप है कि ब्रह्मपाल ने आते ही लाइसेंसी पिस्तौल से संदीप की छाती में गोली मार दी। उसकी मौत हो गई। जबकि सचिन पुत्र महिपाल ने देसी पिस्तौल से रोशन पर कई फायर किए लेकिन वह बाल-बाल बच गया। ओमपाल पुत्र हुकमसिंह ने भी दोनों पर फायरिंग की। चाचा रकम सिंह पुत्र भागू, सोनू व सतबीर पुत्र रकम सिंह पर गंडासियों से हमला किया गया। तीनों का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। परिजनों का आरोप है कि संदीप की हत्या ब्रह्मपाल, रितिक और ओमपाल ने की है।

प्लॉट के विवाद में हुई दुश्मनी 
कुछ माह पहले संदीप के परिवार का रितिक के परिवार के साथ 600 गज के प्लॉट पर विवाद हुआ था। विवाद पंचायती तौर पर सुलझा लिया गया था। रितिक के परिवार ने समझौते पर संदीप के परिवार को पैसे भी दे दिए थे लेकिन दिलों में रंजिश अब भी बरकार थी। इसे ही घटना का कारण माना जा रहा है।

जसबीर पर भी चलाई गोलियां 
सोनू का भाई जसबीर भी झगड़े की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच गया था। उसने बताया कि ओमपाल, रितिक व ब्रह्मपाल ने उस पर भी तीन गोलियां चलाई थीं। लेकिन वह बच गया।
पुलिस ने मामले में पांच महिलाओं समेत 13 पर केस दर्ज किया है। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है। ये झगड़ा परिवार के लोगों के बीच आपसी विवाद को लेकर हुआ है। पुलिस की टीमें आरोपियों को पकड़ने का प्रयास कर रही है। जल्द आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा। -उमर मोहम्मद, एसएचओ सेक्टर 29 थाना पुलिस
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00