खुलासा: आपसी रंजिश में चचेरे भाई ने ही थी युवक की हत्या, पुलिस को बताई लूट की झूठी कहानी

आशू गौतम, संवाद न्यूज एजेंसी, पानीपत (हरियाणा) Published by: निवेदिता वर्मा Updated Tue, 21 Sep 2021 01:05 PM IST

सार

शामली के कैराना निवासी नाजिम अपने ताऊ के लड़के गालिब के साथ बाइक पर सोमवार रात पथरी की दवाई लेने के लिए पानीपत आया था। सोमवार देर रात घर लौटते समय उसकी गोली मार कर हत्या कर दी गई थी।
पानीपत में लूट के बाद युवक की हत्या।
पानीपत में लूट के बाद युवक की हत्या। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पानीपत के चौटाला रोड पर गांव डाडौला के पास सुबह 3 बजे युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अब खुलासा हुआ है कि हत्या मृतक के चचेरे भाई ने ही की थी। हत्या के बाद आरोपी ने खुद डायल 112 पर फोन कर वारदात की सूचना दी थी। पुलिस ने पूछताछ की तो चचेरे भाई ने लूटपाट की झूठी कहानी सुनाई। शक के आधार पर सीआईए-2 चचेरे भाई से गहनता से पूछताछ की तो आरोपी ने कबूल लिया कि उसी ने गोली मारकर हत्या की है। जिसके बाद सीआईए ने आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।
विज्ञापन


शामली के कैराना के गांव मन्ना माजरा निवासी नाजिम (41) पुत्र युसुफ खेती बाड़ी करता था। वह रविवार को 3 बजे घर से बाइक में पेट्रोल डलवाने के लिए निकला था। उसके बाद से ही वह लापता था। उसके चचेरे भाई गालिब ने बताया कि वह सोमवार दोपहर को पथरी की दवाई लेने के लिए नाजिम के साथ बाइक पर पानीपत आया था। दवाई लेते समय उन्हें देर हो गई, लेकिन फिर भी वह देर रात ही पानीपत से घर के लिए निकल पड़े थे। परिजनों का आरोप है कि चचेरे भाई गालिब ने चौटाला रोड पर गांव डाडौला के पास पहुंचते ही नाजिम की गोली मारकर हत्या कर दी।  


चचेरे भाई ने पुलिस को सुनाई झूठी कहानी
हत्या के प्रत्यक्षदर्शी चचेरे भाई गालिब से जब पुलिस ने पूछताछ की तो गालिब ने पुलिस को लूटपाट होने की झूठी कहानी सुना दी गालिब ने पुलिस को कहा कि जब वह गांव डाडौला के पास पहुंचे तो दो बाइकों पर सवार होकर चार बदमाश आए और ओवरटेक करते हुए उन्हें रोक लिया। बदमाशों ने पिस्तौल के बल पर उनसे 2 हजार रुपये लूट लिए। नाजिम ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उसे एक गोली मार दी और फरार हो गए

यह भी पढ़ें- होशियारपुर पुलिस को सफलता: युवक को अगवा कर मांगी थी दो करोड़ की फिरौती, पुलिस ने 24 घंटे में ढूंढ निकाला 

खून से सने कपड़े देख पुलिस को हुआ शक
पुलिस सूत्रों के अनुसार गालिब ने वारदात के बाद डायल 112 पर फोन कर हत्या की सूचना दी थी पुलिस मौके पर पहुंची तो गालिब के कपड़े खून से सने हुए थे। जिसके बाद पुलिस को गालिब पर शक हुआ और पूछताछ के लिए उसे सीआईए दफ्तर ले जाया गया।

दूसरे भाइयों पर भी घूम सकती है पुलिस की सुई
सूत्रों के अनुसार, आपसी रंजिश के चलते नाजिम की चचेरे भाई ने हत्या की है। पुलिस रंजिश का पता लगाने के लिए पूछताछ कर रही है। इस मामले में पुलिस की सुई मृतक के भाइयों की तरफ भी घूम सकती है।

मामले का खुलासा होते ही अस्पताल से लापता हुआ मृतक का छोटा भाई
सामान्य अस्पताल में शव गृह के बाहर बैठे मृतक नाजिम के छोटे भाई तालिब और आलिम को जब यह पता चला कि गालिब ने ही नाजिम की गोली मारकर हत्या की है तो तालिब संदिग्ध परिस्थितियों में वहां से लापता हो गया। सीआईए आलिम को पूछताछ के लिए साथ ले गई।
शव को पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल के शव गृह में रखवाया गया है। परिजनों की तरफ से अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली है। फिलहाल पुलिस चचेरे भाई गालिब और मृतक के भाइयों से पूछताछ कर रही है। - इंस्पेक्टर अंकित नांदल, सेक्टर 29 थाना प्रभारी

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00