लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Emphasis on linking literature with social media

साहित्य को सोशल मीडिया और नई तकनीक से जोड़ने की जरूर: नरेंद्र सिंह नेगी

Dehradun Bureau देहरादून ब्यूरो
Updated Sun, 14 Aug 2022 12:57 AM IST
प्रेस क्लब सभागार में लेखक मितेश्वर आंनद द्वारा लिखित कहानी संग्रह हैंडल-पैंडल पर परिचर्चा एवं ?
प्रेस क्लब सभागार में लेखक मितेश्वर आंनद द्वारा लिखित कहानी संग्रह हैंडल-पैंडल पर परिचर्चा एवं ? - फोटो : DEHRADUN
विज्ञापन
ख़बर सुनें
साहित्य को समाज के बीच लोकप्रिय बनाने के लिए इसे आज के दौर में नई तकनीक और सोशल मीडिया से जोड़ने की जरूरत है। यह बात गढ़ रत्न सुप्रसिद्ध लोक गायक व साहित्यकार नरेंद्र सिंह नेगी ने उत्तरांचल प्रेस क्लब में मितेश्वर आनंद के कहानी संग्रह हैंडल पैंडल पुस्तक पर परिचर्चा कार्यक्रम में कहीं।

शनिवार को आयोजित परिचर्चा कार्यक्रम में पुस्तक के लेखक मितेश्वर आनंद ने कहा कि मेरी किताब जीवन में घटित अनुभूति को शब्दों में संजोने की कोशिश है। पर्यावरणविद पद्मश्री कल्याण सिंह रावत मैती ने कहा कि हैंडल पैंडल ऐसी किताब है, जिसमें प्रस्तुत कहानियां हर पाठक के जीवन से जुड़ी हुई हैं और लेखक अपने जीवन में घटित घटनाओं को सामाजिक संदेशों से जोड़ने में सफल रहे हैं। ने कहा कि साहित्य समाज के लिए आवश्यक है। पाणी राखो आंदोलन के प्रणेता मशहूर पर्यवारणविद सच्चिदानंद भारती ने कहा कि जीवन के अनुभवों को कलमबंद करना बहुत जरूरी है। पुस्तक पीछे छूट गए प्रसंगों और अपने परिवेश की बानगी पेश करती है। इस मौके पर प्रो. अधीर कुमार, प्रबोध उनियाल, गंभीर सिंह पालनी, साहित्यकार व पुलिस अधिकारी अमित श्रीवास्तव, प्रो. अधीर कुमार, अरुण शर्मा, ओमकाश राणा, गणेश रावत, राकेश जुगरान, जयदीप रावत, राजेश सकलानी, हरेंद्र रावत, गजेंद्र रमोला आदि मौजूद रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00