लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Indian Predator: रूह कंपा देगी दिल्ली में मौत का कहर बरपाने वाले सनकी हत्यारे की कहानी, जानें कब और कहां होगी रिलीज

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: निधि पाल Updated Wed, 29 Jun 2022 05:08 PM IST
इंडियन प्रीडेटर: द बुचर ऑफ डेल्ही
1 of 4
विज्ञापन
नफरत और दिल में सिस्टम के प्रति गुस्सा लिए हत्यारे ने दिल में अजीबोगरीब वारदात को अंजाम दिया था। ऐस सनकी हत्यारा जो लोगों की हत्या करके उसकी लाश को तिहाड़ जेल के बाहर छोड़ जाता था। इसका बाद पुलिस को चुनौती देता कि पकड़ सकते हो तो पकड़ लो। पुलिस के लिए ये केस एक चुनौती बन गया था। उसको पकड़ने के लिए पुलिस लाख कोशिश करती है, लेकिन हर कोशिश नाकाम हो जाती है। ये है दिल्ली के सबसे सनकी किलर की कहानी जो बहुत जल्द ओटीटी पर आने वाली है। इसकी कहानी आपको अंदर तक झकझोर तक रख देगी। 
इंडियन प्रीडेटर: द बुचर ऑफ डेल्ही
2 of 4
आयशा सूद द्वारा निर्देशित और वायस इंडिया द्वारा निर्मित वेब सीरीज इंडियन प्रीडेटर: द बुचर ऑफ डेल्ही दिल्ली की कहानी पर आधारित है, जिसमें पुलिस इन्वेस्टिगेशन दिखाया जाएगा। इस सीरीज का ट्रेलर मंगलवार को रिलीज कर दिया गया है। ये एक डॉक्यू-सीरीज है। ट्रेलर की शुरुआत ही बहुत खतरनाक और दिल दहला देने वाले तरीके से होती है। बैकग्राउंड में आवाज आती है- एक डेड बॉडी तिहाड़ के गेट नंबर 3 के बाहर रख दी है...अगर मुझे पकड़ सकते हो तो पकड़कर दिखाओ। हत्यारे ने डेड बॉडी से उसकी गर्दन अलग कर दी थी। 
विज्ञापन
इंडियन प्रीडेटर: द बुचर ऑफ डेल्ही
3 of 4
हत्यारा मर्डर करके लाश को बोरे में भरकर टोकरी में रख के  जेल के सामने छोड़ जाता था। साथ में एक चिट्ठी भी होती थी। वह जैसे-पुलिस को चैलेंज दे रहा था, पुलिस की मुश्किलें बढ़ती जा रही थीं। उसकी चिट्ठियों से लग रहा था कि वह सिस्टम से काफी नफरत करता है। उस चिट्ठी में उसने पुलिस के लिए जमकर गालियां लिखने के बाद अंत में लिखा- तुम्हारे इंतजार में तुम्हारा बाप और जीजा। 

इंडियन प्रीडेटर: द बुचर ऑफ डेल्ही
4 of 4
सीरीज का ट्रेलर जबरदस्त है और इसकी कहानी रुह कंपा देगी।  इंडियन प्रीडेटर: द बुचर ऑफ डेल्ही 20 जुलाई को नेटफ्लिक्स पर रिलीज के लिए तैयार है। सीरीज के डायरेक्टर आयशा सूद का कहना है, 'भारत में नॉन-फिक्शन स्पेस लगातार विकसित हो रहा है और मैं एक दिलचस्प कहानी बनाने के लिए इसका हिस्सा बनकर बहुत खुश हूं। इस कहानी ने मुझे मानव मनोविज्ञान और न्याय प्रणाली को समझाने में मदद की है'।  
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00