लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

हांथी
गजब है

उछल क्यों नहीं पाते हाथी?

31 August 2022

Play
2:44
शेर भले ही जंगल का राजा हो, मगर हाथी जंगल का सबसे शक्तिशाली जानवर होता है, क्या आप जानते हैं हाथी उछल नहीं सकते?

उछल क्यों नहीं पाते हाथी?

1.0x
  • 1.5x
  • 1.25x
  • 1.0x
10
10
X

सभी 346 एपिसोड

कॉन्गो बेसिन में रहने वाली कैटफिश प्रजाति की कई ऐसी मछलियां हैं जो सीधा ना तैरकर उल्टे तैरती हैं. देखने वालों को तो ये भी लग जाता है कि मछली मर चुकी है क्योंकि मछलियां मरने के बाद पलट जाती हैं

किसी ज़माने में जापान के साथ-साथ आसपास के कई एशियाई देशों में ये मान्यता प्रचलित थी. इन देशों में जापान, चीन, थाईलैंड, फिलिपीन्स, वियतनाम, आदि प्रमुख थे मगर इसकी शुरुआत जापान से ही मानी जाती है

टैक्स को देश की प्रगति के लिए ज़रुरी चीजों में इन्वेस्ट किया जाता है. लेकिन क्या आपने कभी किसी देश में मोटापे के लिए टैक्स देने की खबर सुनी है?

विश्व रिकॉर्ड बनाना कोई छोटा काम तो है नहीं, ये तो हम सब जानते ही है... यूं तो आपने कई तरह के विश्व रिकॉर्ड के बारे में सुना होगा, मगर आज जानिए दुनिया के कुछ अनोखे विश्व रिकॉर्ड के बारे में... 

रवांडा के गीतारामा जेल को दुनिया के सबसे घटिया और डरावने जेल  में गिना जाता है. एक तो यहां सलाखों में कैदी क्षमता से ज्यादा भरे होते हैं. दूसरा यहां के कैदियों की हरकत इसे डरावना बना देती है

सेंट ईव्स के एक रेस्टोरेंट में मौजूद 900 साल पुराना भूत, यहां के स्टाफ को तब तक लाइट ऑफ नहीं करने देता, जब तक वो उसे गुड नाइट विश नहीं करते. कहते हैं कि भूत एक 17 साल की लड़की का है.

जर्मन सिटी ऑफ वोल्फ्सबर्ग के एक म्यूज़ियम में लगे आर्टवर्क पर विवाद हो गया क्योंकि इसमें मक्खियों के अधिकारों का हनन हो रहा था,जानवरों के अधिकारों के लिए लड़ने वाली संस्था PETA ने इस पर सवाल उठाया था

वैज्ञानिकों का मानना है कि दीवारों को बनाने में एक चौथे बल का हाथ हो सकता है, जो कि एक नए कण का परिणाम हो सकता है जिसे सिम्मीट्रॉन कहा जाता है।

दुनिया में कई तरह के नक्शे मौजूद हैं. वर्ल्ड मैप में कुल 195 देश हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि नक़्शे में ऐसे सात देश हैं, जो शामिल ही नहीं किये गए हैं.

एक छोटा सा घर, हरियाली के बीच, जहां तक नज़र जाऐ केवल पेड़-पौधे, औऱ इस बीच आप शाम को बाहर निकलें, मगर, आपको चलने के लिए सड़कें न मिले... बल्कि वहां आपको कल-कल बहती नदी मिले जो ठीक आपके घर के सामने से जाती हो... और आप एक नांव में बैठकर उंचे-उंचे पर्वतों का दीदार करें...

आवाज

एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00