लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

खटमल
पंचतंत्र की कहानियां

पंचतंत्र की कहानियां : चालाक खटमल और जूं

12 August 2022

Play
2:38
अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है चालाक खटमल और जूं...

पंचतंत्र की कहानियां : चालाक खटमल और जूं

1.0x
  • 1.5x
  • 1.25x
  • 1.0x
10
10
X

सभी 25 एपिसोड

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है शेर,ऊंट,सियार और कौवा ...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है वंश की रक्षा...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है ब्राह्मण और केकड़ा  ...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है जैसे को तैसा...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है उल्लू और कौवे का बैर...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है मूर्ख को सलाह नहीं

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था।

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है जीवित हो गया शेर...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है मूर्ख बगुला और नेवला...

अमर उजाला के पोडकास्ट में आपको सुनने को मिलेंगी पंचतंत्र की मजेदार कहानियां। दरअसल ईसा से लगभग दो सौ साल पहले पंडित विष्णु शर्मा ने पंचतंत्र की कहानियां लिखी थीं। इन कहानियों को लिखने का मकसद राजा अमरशक्ति के तीन बिगड़े बेटों को सही राह दिखाना था। आज की कहानी का शीर्षक है ब्राह्मणी और नेवला...

आवाज

एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00