इकलौते बेटे का खुलासा: एक कमरे में कीं तीन हत्याएं, पहले बहन फिर मां-नानी को बुलाकर मारा, पापा को भी नहीं छोड़ा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, रोहतक (हरियाणा) Published by: ajay kumar Updated Sat, 04 Sep 2021 03:05 AM IST
लाल घेरे में आरोपी अपने माता-पिता और बहन के साथ (फाइल फोटो)
1 of 6
विज्ञापन
रोहतक के विजय नगर हत्याकांड की जांच आगे बढ़ने के साथ-साथ चौंकाने वाले खुलासे सामने आ रहे हैं। गुरुवार सुबह पौने 6 बजे डीएसपी सज्जन सिंह और डीएसपी गोरखपाल राणा के नेतृत्व में पुलिस आरोपी अभिषेक को लेकर वारदात स्थल पर पहुंची। यहां आरोपी ने पुलिस के सामने 45 मिनट तक क्राइम सीन दोहराया। पूछताछ में उसने वारदात को अंजाम देने की पूरी बातें विस्तार से बताईं। पुलिस के मुताबिक अभिषेक ने बताया कि पैसे न मिलने से वह अपने परिजनों ने नाराज था। उसने गत शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे घर में रखी 32 बोर की रिवाल्वर ली और अपने ऊपर वाले कमरे में चला गया। वहां पर उसके कमरे में बहन नेहा उर्फ तमन्ना (19) सो रही थी। उसने उसके कनपटी से सटाकर गोली मारी। आरोपी ने बताया कि बहन को गोली मारने के बाद उसने आवाज देकर नीचे से नानी रोशनी को काम के बहाने ऊपर कमरे में बुलाया। इस दौरान उसने नेहा को कपड़े से ढक दिया, ताकि नानी को लगे की नेहा सो रही है।
बिलखता आरोपी बेटा।
2 of 6
नानी जैसे ही अंदर आई, उसके सिर में भी गोली मार दी। नानी फर्श पर गिर पड़ी। शरीर में थोड़ी हरकत होने पर उसने दूसरी गोली भी चलाई। इसके बाद उसने मां को कमरे में आने के लिए आवाज दी। साथ ही कहा कि उन्हें नानी बुला रही है। इस दौरान उसने दरवाजा आधा खुला छोड़ दिया। जैसे ही मां ने अंदर प्रवेश किया, जब तक वह कुछ समझ पाती। उनके सिर में भी गोली दाग दी। मां भी फर्श पर गिर पड़ी। ऊपर कमरे में बहन, नानी व मां को गोली मारने के बाद अभिषेक तेजी से नीचे आया। उस समय अंदर वाले कमरे में पिता बबलू पहलवान फोन पर किसी से बात कर रहे थे। अभिषेक ने माथे में गोली मार दी। इसके बाद बबलू गिरकर अचेत हो गए। इसके बाद उसने जिंदा बचने की गुंजाइश न रहे, इसलिए पिता के सिर में दो और गोली मार दी।
विज्ञापन
पति-पत्नी की फाइल फोटो।
3 of 6
सभी को गोली मारने के बाद अभिषेक ने घर के दरवाजे बंद कर दिए और दोस्त के घर पहुंच गया। करीब दो बजे वापस आया। इसके बाद मामा को फोन किया। फिर छत पर जाकर अनहोनी होने की बात कह शोर मचाने लगा। इसके बाद आसपास के लोग आ गए और शव बाहर निकाले। उस समय नेहा की सांसें चल रहीं थीं। उसे एक युवक पीजीआई ले गया, जबकि बबलू, बबली व रोशनी दम तोड़ चुके थे। बाद में नेहा की भी मौत हो गई।
आरोपी को ले जाती पुलिस।
4 of 6
नैनीताल के कार्तिक से है दोस्ती, पूछताछ की तैयारी
पुलिस ने अभिषेक के दोस्त नैनीताल निवासी कार्तिक से पूछताछ की तैयारी शुरू कर दी है। ढाई साल पहले कार्तिक व अभिषेक दिल्ली में क्रू-मेंबर का कोर्स करते थे। वहां दोनों की दोस्ती हो गई। इसके अलावा पुलिस दो और दोस्तों की तलाश में जुटी हुई है। हत्याकांड में कार्तिक की भूमिका की जांच के लिए पुलिस उससे पूछताछ करेगी। 
विज्ञापन
विज्ञापन
बहन की फाइल फोटो
5 of 6
रिवॉल्वर वैध या अवैध, जांच कर रही पुलिस 
पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसे 32 बोर का रिवॉल्वर घर में ही मिला है। अब पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि रिवाल्वर लाइसेंसी है या नहीं। अभिषेक के पिता बबलू पहलवान के पास लाइसेंसी डोगा बंदूक थी, जिसे उन्होंने जमा करवा दिया था। इसके बाद उन्होंने लाइसेंस पर रिवॉल्वर निकलवाया था या नहीं, यह अभी साफ नहीं हो सका है। 
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00