Hindi News ›   Business ›   Property ›   Over 61 percent homebuyers feel housing prices to rise in next one year according to Knight Frank survey

सर्वे: महामारी के दौरान 26 फीसदी लोग हुए नए घर में शिफ्ट, एक साल में बढ़ेगी मकान की कीमतें

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: ‌डिंपल अलावाधी Updated Thu, 26 Aug 2021 12:40 PM IST
सार

महामारी के दौरान देश में 26 फीसदी लोग नए घर खरीदकर शिफ्ट हो गए है। 61 फीसदी लोगों का मानना है कि अगले 12 महीनों में मकान की कीमतें बढ़ जाएंगी।

रियल एस्टेट प्रॉपर्टी
रियल एस्टेट प्रॉपर्टी - फोटो : pixabay
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

कोरोना वायरस महामारी के कारण देश में रियल एस्टेट सेक्टर में काफी बदलाव आए हैं। प्रॉपर्टी कंसल्टेंट नाइट फ्रैंक ग्लोबल एंड इंडिया द्वारा किए गए बायर सर्वे के भारतीय संस्करण के अनुसार, महामारी के दौरान 26 फीसदी लोग नए घर खरीदकर शिफ्ट हो गए है। इनको घर में ज्यादा जगह चाहिए थी और साथ ही वे अपने परिवार और दोस्तों के नजदीक रहना चाहते थे। वहीं, 32 फीसदी लोग अगले एक साल में नया घर खरीदने की योजना बना रहे हैं। 61 फीसदी लोगों के अनुसार, आगामी एक साल में मकान की कीमतें बढ़ जाएंगी।



प्रॉपर्टी कंसल्टेंट नाइट फ्रैंक ने भारतीय खरीदारों को उच्च आयवर्ग और मध्यम आयवर्ग में बांटकर सर्वे किया। उच्च आयवर्ग के लोगों का जिक्र 'ग्लोबल इंडिया सेगमेंट' और मध्यम आयवर्ग में घर खरीदारों का जिक्र 'मेनस्ट्रीम इंडियन सेगमेंट' के तौर पर किया। 


अगले 12 महीनों में घर को बदलने की इच्छा रखने वालों में से 87 फीसदी लोग अपने मौजूदा शहर में ही शिफ्ट होना चाहते हैं। वहीं, 13 फीसदी लोग किसी अन्य शहर में घर लेना चाहते हैं। दुनियाभर में 64 फीसदी लोगों को लगता है कि उनके मौजूदा घरों की कीमतें अगले एक साल में बढ़ेंगी। 

विश्व भर की बात करें तो, रिपोर्ट के मुताबिक, दुनियाभर से सर्वे में भाग लेने वाले 19 फीसदी लोग महामारी की शुरुआत में ही अपने घर में शिफ्ट हो गए थे। ऑस्ट्रेलिया और उत्तर अमेरिका में यह संख्या बढ़कर 25 फीसदी थी। वहीं अब तक अपने घर में शिफ्ट नहीं करने वाले 20 फीसदी लोग 2021 के आखिर तक अपना घर खरीदना चाहते हैं।

पिछले महीने नाइट फ्रैंक इंडिया ने एक वेबिनार में आठ शहरों (मुंबई महानगरीय क्षेत्र (एमएमआर), दिल्ली-एनसीआर, कोलकाता, चेन्नई, बंगलूरू, हैदराबाद, पुणे और अहमदाबाद) के लिए अपनी रिपोर्ट 'इंडिया रियल एस्टेट- रेजिडेंशियल, जनवरी-जून 2021' जारी की थी। इस रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में 2021 कैलेंडर वर्ष (एच1 2021) की पहली छमाही में नई आवास इकाइयों की पेशकश भी 2020 की 1422 इकाइयों से 107 फीसदी बढ़ कर 2943 इकाई हो गई।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00