लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Huge enthusiasm in temples for Navratri: Get tickets from temple app, no need to wait for darshan

नवरात्रि के लिए मंदिरों में भारी उत्साह: मंदिर एप से पाएं टिकट, दर्शन के लिए नहीं करना पड़ेगा इंतजार

डिजिटल ब्यूरो, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अभिषेक दीक्षित Updated Sun, 25 Sep 2022 08:33 PM IST
सार

राजधानी दिल्ली के ऐतिहासिक झंडेवालान मंदिर के मुख्य प्रशासक रवीन्द्र गोयल ने अमर उजाला को बताया कि इस बार नवरात्रों को लेकर मंदिर में विशेष व्यवस्था की जा रही है।

Delhi Temple
Delhi Temple - फोटो : Amar Ujala
ख़बर सुनें

विस्तार

नवरात्रों को लेकर राजधानी दिल्ली के मंदिरों में भारी उत्साह है। राजधानी के सभी प्रमुख मंदिरों में सजावट को लेकर भारी जोश दिख रहा है और देशी-विदेशी फूलों से मंदिर को भव्य तरीके से सजाया जा रहा है। मंदिरों में विशेष झांकियां बनाई जा रही हैं, जो यहां आने वाले भक्तों का मन मोह लेंगी। कोरोना काल के बाद इस बार मंदिरों में भारी भीड़ होने की उम्मीद है और प्रशासकों का अनुमान है कि इस बार माता के दर्शनों के लिए भारी संख्या में भक्त मंदिरों में आ सकते हैं। यही कारण है कि भारी भीड़ को संभालने के लिए विशेष तकनीकी का सहारा लिया जाएगा और इसके लिए पुलिस से मिलकर कार्य योजना बनाई जा रही है।



राजधानी दिल्ली के ऐतिहासिक झंडेवालान मंदिर के मुख्य प्रशासक रवीन्द्र गोयल ने अमर उजाला को बताया कि इस बार नवरात्रों को लेकर मंदिर में विशेष व्यवस्था की जा रही है। झंडेवालान मंदिर के एप से दर्शन के टिकट लेने वालों को दर्शन के समय भीड़ में नहीं लगना पड़ेगा। उन्हें एप पर एक विशेष क्यूआर कोड मिलेगा, जिसे वे मंदिर के गेट पर दिखाकर सीधे प्रवेश पा सकेंगे। एप पर ऑनलाइन बुक कर दर्शन के लिए आने वाले भक्तों के लिए मंदिर में गरुड़ द्वार और सिंह द्वार नाम के दो विशेष द्वार बनाए गए हैं। इन गेट से इन भक्तों को सहूलियत के साथ प्रवेश मिल जाएगा। 


पिछली बार की तरह इस बार भी मंदिर का पूरा प्रसाद इको फ्रेंडली होगा, यानी भक्तों के लिए बन रहे प्रसाद को देने के लिए कागज-लकड़ी के पात्रों का इस्तेमाल होगा। पूरे नवरात्रों में मंदिर में चाय और बिस्कुट जैसी हल्के नाश्ते का लगातार इंतजाम रहेगा। माता के दर्शनों के लिए आने वाली बहनों के लिए नवों दिन मेहंदी लगवाने की व्यवस्था रहेगी। इसके लिए मंदिर की ओर से 70 बहनों को जिम्मेदारी दी गई है।  

मंदिर में सुरक्षा को लेकर 170 विशेष सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था की गई है, जिससे मंदिर आने-जाने वाले हर व्यक्ति पर नजर रखी जा सके। मंदिर के 2500 सेवादार मंदिर की व्यवस्था सुचारू बनाए रखने में सहयोग देंगे। दिल्ली पुलिस के जवानों के साथ मिलकर वे सुरक्षा को भी सुनिश्चित कराएंगे।  

झंडेवालान मंदिर में देवी की मुख्य प्रतिमा, सजावट के दृश्य।
झंडेवालान मंदिर में देवी की मुख्य प्रतिमा, सजावट के दृश्य। - फोटो : Amar Ujala
छतरपुर मंदिर में चौकस व्यवस्था
छतरपुर मंदिर के मुख्य प्रशासक एनके सेठी ने अमर उजाला को बताया कि भक्त नारियल का फल देवी को नहीं चढ़ा सकेंगे, लेकिन वे अपने साथ फूल, माला, मिष्ठान्न जैसे प्रसाद चढ़ा सकेंगे। मंदिर के बाहर स्वतंत्र रूप से बेचने वालों के यहां भी ये चीजें उपलब्ध रहती हैं। मंदिर की ओर से लगातार नौ दिन के लिए भंडारा किया जाएगा, जिसका प्रसाद आने वाले भक्त ग्रहण कर सकेंगे। सुरक्षा की दृष्टि से हजारों सेवादारों के साथ दिल्ली पुलिस के जवान ड्यूटी पर होंगे। मंदिर के चारों ओर सीसीटीवी कैमरे लगाये गये हैं जिससे यहां आने वाले हर व्यक्ति पर नजर राखी जा सके। 

बिड़ला मंदिर में होगा सप्तशती का पाठ
बिड़ला मंदिर के मुख्या प्रशासक विनोद कुमार मिश्रा ने बताया कि नवरात्रों को लेकर देवी की पूजा-अर्चना के लिए विशेष प्रावधान किये जा रहे हैं। दुर्गा सप्तशती के पाठ का विशेष आयोजन किया जाएगा। नवरात्रों के सातवें, आठवें और नवें दिन माता के पूजन के लिए विशेष आयोजन किया गया है। भक्त प्राथमिकता के साथ आकर इस पूजन-हवन में भाग ले सकेंगे। अन्य मंदिरों में भी इसी तरह नवरात्रों को लेकर विशेष तैयारियां अंतिम चरण में हैं। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00