आतंक पर प्रहार: बांदीपोरा में आतंकी भर्ती मॉड्यूल का भंडाफोड़, महिला समेत चार गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Published by: प्रशांत कुमार Updated Thu, 23 Sep 2021 08:05 PM IST

सार

पकड़े गए मॉड्यूल से पेट्रोल बम बनाने की सामग्री बरामद की गई है। इस दौरान आतंकी बनने जा रहे दो युवक भी हिरासत में लिए गए। सभी से पूछताछ जारी है। इस मामले में कुछ और गिरफ्तारियां संभव हैं। 
आतंकवाद
आतंकवाद - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा जिले के हाजिन में लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ करते हुए सुरक्षाबलों ने एक महिला समेत चार सदस्यों को गिरफ्तार किया। ये सभी सीमा पार के निर्देश पर संगठन में युवाओं की भर्ती करते थे। साथ ही सरकारी भवनों पर पेट्रोल बम से हमले में भी शामिल थे। पकड़े गए मॉड्यूल से पेट्रोल बम बनाने की सामग्री बरामद की गई है। इस दौरान आतंकी बनने जा रहे दो युवक भी हिरासत में लिए गए। सभी से पूछताछ जारी है। इस मामले में कुछ और गिरफ्तारियां संभव हैं। 
विज्ञापन

यह भी पढ़ें- शहीद के पिता की दर्द भरी दास्तां: बेटे की तलाश में रोज फावड़ा लेकर निकलता था, कई कब्रें खोद डालीं, फिर...    


पुलिस ने बताया कि सूचना के आधार पर हाजिन से असदुल्लाह पररे को गिरफ्तार किया गया जो लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी भर्ती मॉड्यूल का सरगना है। यह सीमा पार के आतंकी हैंडलर के करीबी संपर्क में रहता था। हैंडलर के इशारे पर वह युवाओं की संगठन में भर्ती करने के साथ ही उनके लिए हथियार तथा अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराता था। इससे पहले वह जमात-ए-इस्लामी से जुड़ा था। जमात से पहले वह मसरत आलम के मुस्लिम लीग से भी जुड़ा हुआ था। उस पर दर्जनभर पीएसए तथा मुकदमे दर्ज हैं। वह लंबे समय तक जेल में भी रहा है। 
यह भी पढ़ें-  उड़ी में 2016 दोहराना चाहते थे आतंकी: भनक लगते ही जवानों ने संभाला मोर्चा, पढ़ें दहशतगर्दों के खात्मे की कहानी    

पुलिस के अनुसार असदुल्लाह अपने भतीजे नसीर अहमद पररे (हाजिन), हसीना (शीरी), खुर्शीद (नादखाई) व अन्य के सहयोग से मॉड्यूल संचालित कर रहा था। यह ग्रुप लगातार सीमापार के हैंडलर के संपर्क में रहते हुए रोजाना की गतिविधियों के लिए निर्देश प्राप्त करता था। संगठन में युवाओं की भर्ती करने के साथ ही यह ग्रुप युवाओं को सरकारी भवनों व सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों पर पेट्रोल बम हमले के लिए उकसाता था। साथ ही साफ्ट टारगेट की रेकी भी कराता था। पकड़े गए गिरोह के सदस्यों से पूछताछ में पता चला कि रफीक (नादखाई) व हिलाल अहमद शाह (शाह मोहल्ला हाजिन) आतंकी संगठन में शामिल होने वाले हैं। इस आधार पर उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00