लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Mahendragarh/Narnaul ›   CM Flying Squad raided in Narnaul, two stone grinding units found illegal

Narnaul: CM Flying Squad ने मारा छापा, दो पत्थर पिसाई यूनिट मिली अवैध, प्रदूषण विभाग ने दिया नोटिस

संवाद न्यूज एजेंसी, नारनौल (हरियाणा) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Wed, 10 Aug 2022 09:49 PM IST
सार

अवैध यूनिटों के संचालकों को प्रदूषण विभाग ने नोटिस दिया है। अवैध पत्थरों से भरे एक ट्राले को कब्जे में लिया गया है। कार्रवाई के दौरान यूनिट संचालकों में अफरातफरी मची रही। मुख्यमंत्री उड़नदस्ता को अवैध पत्थर पिसाई यूनिटों का संचालन होने की सूचना मिली थी।

कागजों की जांच करती विभाग की टीम।
कागजों की जांच करती विभाग की टीम। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरियाणा में मुख्यमंत्री उड़नदस्ता और खुफिया विभाग की टीम ने बुधवार को नारनौल के निजामपुर में पत्थर पिसाई यूनिटों पर छापा मारा। इस दौरान दो यूनिटें अवैध रूप से चलती पाई गई। प्रदूषण विभाग ने दोनों यूनिटों के संचालकों को नोटिस देकर विभागीय कार्रवाई की। टीम ने इस मौके पर अवैध पत्थरों से भरे एक ट्राले को भी कब्जे में लिया। कार्रवाई के दौरान यूनिट संचालकों में अफरातफरी मची रही।



मुख्यमंत्री उड़नदस्ता टीम को निजामपुर क्षेत्र में अवैध पत्थर पिसाई यूनिटों का संचालन होने की सूचना मिली थी। इसके बाद मुख्यमंत्री उड़नदस्ता से उप निरीक्षक सत्येंद्र कुमार, उप निरीक्षक कर्मपाल, सहायक उप निरीक्षक सचिन कुमार, खुफिया विभाग से उप निरीक्षक लीलाराम, सहायक उप निरीक्षक संदीप कुमार, सहायक उप निरीक्षक नरेंद्र कुमार, मुख्य सिपाही अनिल कुमार, सिपाही संजय पाल के अलावा खनन विभाग से निरीक्षक तनु जोशी, आबकारी एवं कराधान विभाग से कन्हैया कौशल, बिजली निगम से उपमंडल अधिकारी मुकेश गौड़ तथा प्रदूषण विभाग की तरफ से उपमंडल अधिकारी अनुज कुमार की टीम ने पत्थर पिसाई यूनिटों पर छापा मारा।


टीम ने सबसे पहले अग्रवाल पिसाई यूनिट व कलर्स इंडिया पिसाई यूनिट पर छापा मारा। इस दौरान टीम को मिक्सिंग प्लांट के सामने एक ट्रक को कब्जे में लिया जिसपर लगभग 30 टन पिसा हुआ पत्थर भरा हुआ था। सेल टैक्स एनफोर्समेंट टीम ने बिल्टी व बिल न होने पर ट्रक का चालान किया। वहीं खनन विभाग की ओर से ई रवाना न होने पर इस गाड़ी का चालान किया। 

इस कार्रवाई में टीम मिक्सिंग यूनिटों पर लगभग 800 मीट्रिक टन अवैध पत्थर पाया गया। मामले में  खनन विभाग की ओर से माइंस एंड मिनिरल एक्ट के तहत नोटिस दिया गया। वहीं बिजली विभाग द्वारा 700 किलोवॉट एक्सेस बिजली प्रयोग करते पाया। बिजली विभाग ने अपनी बुक में सिपरेशन ऑफ पॉवर सप्लाई का उल्लंघन करते हुए पाया गया।

जिस पर निगम द्वारा जुर्माना लगाया जाएगा। इस दौरान प्रदूषण विभाग द्वारा जांच की गई कुल 8 पिसाई यूनिटों में 6 यूनिटों के ही लाइसेंस मिले। जबकि दो यूनिट अवैध रूप से चलती हुई पाई गई। इस पर प्रदूषण विभाग की ओर से उन्हें प्रदूषण एक्ट के तहत नोटिस दिया गया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00