लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

तो भारत के ये 7 एथलीट भी साक्षी और सिंधू की तरह रियो में चमकते!

सुरेंद्र कुमार वर्मा/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Wed, 24 Aug 2016 11:18 AM IST
Rio 2016
1 of 9
विज्ञापन
रियो ओलंपिक के शुरुआत से पहले यह दावा किया गया था कि भारत के खाते में इस बार रिकॉर्डतोड़ 10 से ज्यादा पदक आएंगे, लेकिन खेलों के महाकुंभ खत्म होने के बाद सिर्फ दो पदक ही आए। ये दो पदक भी तब आए जब यह महाकुंभ अपने समापन की ओर चल निकला था। शुरुआती 12 दिनों तक पदक के इंतजार को खत्म करते हुए साक्षी मलिक ने देश को पहला पदक दिलाया तो अगले ही दिन पीवी सिंधू ने रजत पदक जीतकर इतिहास रच दिया। भारत भले ही ज्यादा पदक नहीं जीत सका लेकिन कई खिलाड़ियों ने एक बार शानदार खेल दिखाकर पदक की उम्मीद तो जता ही दी थी।

तो भारत के ये 7 एथलीट भी साक्षी और सिंधू की तरह रियो में चमकते!

Rio 2016
2 of 9
भले ही भारत के खाते में सिर्फ 2 पदक आए और भविष्य में इन्हीं 2 पदकों को ही याद किया जाएगा, लेकिन कुछ खिलाड़ियों के जोरदार प्रदर्शन को कमतर आंका नहीं जा सकता। अगर किस्मत साथ देती तो भारत में नाम करीब 10 पदक तो होते ही। आइए जानते हैं कि भारत की ओर से उन 7 प्रदर्शन को जिन्होंने एक समय पदक की उम्मीद जगा दी थी, लेकिन किस्मत उनके साथ दगा कर गई।
विज्ञापन

तो भारत के ये 7 एथलीट भी साक्षी और सिंधू की तरह रियो में चमकते!

सानिया मिर्जा
3 of 9
शुरुआत सानिया मिर्जा से। भारत को टेनिस से 2 पदक की आस थी, लेकिन लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना की पुरुष युगल जोड़ी पहले ही दौर में हार गई, लेकिन मिश्रित युगल में बोपन्ना सानिया के साथ सेमीफाइनल में पहुंचे, लेकिन पहले अमेरिकी जोड़ी से हार के बाद कांस्य के लिए हुए मुकाबले में भारतीय जोड़ी को चेक गणराज्य की जोड़ी से सीधे सेटों में हार मिली। सानिया-बोपन्ना की जोड़ी को पदक के लिए 2 मौके मिले लेकिन पदक उनके करीब नहीं आ सकी। 

तो भारत के ये 7 एथलीट भी साक्षी और सिंधू की तरह रियो में चमकते!

दीपा करमाकर
4 of 9
दीपा करमारकर जिन्होंने जिमनास्ट में करिश्नाई प्रदर्शन कर स्वर्ण पदक की आस जगा दी थी, लेकिन फाइनल मुकाबले में वह 0.15 अंक से पदक से चूक गईं। वह आर्टिस्टिक जिम्नास्ट स्पर्धा के फाइनल में 15.066 अंक लेकर चौथे स्थान पर रहीं। स्वर्ण पदक अमेरिका की सिमोन वाइल्स को मिला। दीपा ओलंपिक इतिहास में महिला जिम्नास्ट के किसी स्पर्धा के फाइनल में पहुंचने वाली पहली महिला बनी थीं।
विज्ञापन
विज्ञापन

तो भारत के ये 7 एथलीट भी साक्षी और सिंधू की तरह रियो में चमकते!

जीतू राय
5 of 9
जीतू राय इस बार निशानेबाजी में भारत की ओर से सबसे बड़ा नाम था और उनसे एक नहीं बल्कि दो पदक की आस थी। 31वें ओलंपिक के पहले दिन 10 मीटर एयर पिस्टल के फाइनल में पहुंच गए थे, लेकिन पदक के लिए हुई निशानेबाजी में उनकी पिस्टल काम न आई और 8वें स्थान पर रहे।
 
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00