लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Latest Jokes in Hindi: पिंकी ने ऑटोरिक्शा वाले से पूछा- रेलवे स्टेशन चलने के कितने पैसे लोगे, मिला मजेदार जवाब

फीचर डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: राजेश मिश्रा Updated Tue, 01 Mar 2022 05:36 PM IST
जोक्स
1 of 5
विज्ञापन
आज की भागमभाग भरी जिंदगी में लोगों पर काम-काज का इतना तनाव होता है कि लोग हंसना-मुस्कुराना भूलते जा रहे हैं। इसीलिए अगर आपको सेहतमंद रहना है तो हंसने और हंसाने में कंजूसी मत करिए। हंसी-मजाक करना शुरू से ही इंसान के लिए फायदेमंद रहा है। हंसने से इंसान दिल की और ब्लड प्रेशर जैसी गंभीर बीमारियों से दूर रहता है। हंसने के लिए किसी खास मौके की जरूरत नहीं होती है। इसलिए आपको हंसते रहना चाहिए और हंसने में आपकी मदद करते हैं मजेदार जोक्स और चुटकुले। इसीलिए हम लाए हैं मजेदार जोक्स...... 
 
पिंकी - रिक्शावाले भैया,  स्टेशन तक के कितने पैसे लोगे...?
रिक्शावाला- मैडम सिर्फ बीस रुपये...!
पिंकी (हैरान सा मुंह बनाते हुए)- स्टेशन के बीस रुपये...?
रिक्शावाला- हां मैडम, स्टेशन पूरा दो किलोमीटर है यहां से...!
पिंकी  (हाथ से इशारा करते हुए) ये तो रहा स्टेशन...!
रिक्शावाला-  मैडम हाथ पीछे कर लो, कही रेल के नीचे ना आ जाए...!
जोक्स
2 of 5
मुझे भी देखने दो, किसका एक्सीडेंट हुआ है...?
टीटू  भीड़ को हटाते हुए बोला...!
जब कोई हटा नहीं, तो वह चिल्लाता हुआ बोला-
जिसका एक्सीडेंट हुआ है, वो मेरे बाप हैं.
रास्ता मिल गया और टीटू ने देखा तो एक गधा मरा पड़ा था..
विज्ञापन
जोक्स
3 of 5
रिंकी ने अपने ब्वॉयफ्रेंड को अपनी मम्मी से
मिलवाने ले गई...!
दूसरे दिन...
रिंकी - मेरी मम्मी को तुम बहुत पसंद आए...!
ब्वॉयफ्रेंड- चल पगली....कुछ भी हो,
मैं शादी तो तुमसे ही करूंगा...!
मम्मी से बोलना मुझे भूल जाएं...!
जोक्स
4 of 5
बाप- बेटा इस बार तेरे 90% नंबर आने चाहिए...
बेटा- नहीं पापा इस बार तो मैं 100% नंबर लेकर आऊंगा..
बाप हंसते हुए- क्यों मजाक कर रहा है?
बेटा- शुरू किसने किया था...
विज्ञापन
विज्ञापन
जोक्स
5 of 5
एक बार बस के कंडक्टर ने राजू से पूछा -
तुम हर रोज दरवाजे के पास ही खड़े रहते हो,
तुम्हारा बाप चौकीदार है क्या?
राजू बहुत ही शरारती था।
बोला - तुम हमेशा मुझसे पैसे मांगते रहते हो,
तुम्हारा बाप भिखारी है क्या?
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00