लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Bihar ›   Chirag Paswan slammed CM Nitish Kumar days after touching his feet saying for new political script in being made

बिहार की राजनीति: कुछ दिन पहले छुए थे पैर, अब फिर बोला मुख्यमंत्री नीतीश पर हमला, पढ़िए क्या बोले चिराग पासवान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना Published by: गौरव पाण्डेय Updated Sun, 24 Apr 2022 04:41 PM IST
सार

कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री के पैर छूने वाले चिराग पासवान ने रविवार को एक बार फिर उनको निशाने पर लिया और गंभीर आरोप लगाए।

चिराग पासवान
चिराग पासवान - फोटो : पीटीआई (फाइल)
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने रविवार को कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव की इफ्तार पार्टी में जाना बड़े स्तर पर राजनीतिक असर डाल सकता है। पासवान ने इस बात पर भी जोर दिया कि नीतीश कुमार का अपने आधिकारिक बंगले से दूसरे आवास में जाना भी उतना साधारण नहीं है जितना दिख रहा है। 



नीतीश कुमार ने मरम्मत के कार्यों का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास (1, एन मार्ग) को खाली किया है और दूसरे आवास (7, सर्कुलर रोड) पर रहने चले गए हैं। इसे लेकर किए गए एक सवाल पर चिराग पासवान ने कहा, 'हम सब लोग अपने घरों में मरम्मत का काम करवाते हैं। लेकिन, क्या कभी किसी को अपना सभी सामान यहां तक कि जानवरों को भी ले जाते हुए देखा गया है?'

 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अक्सर निशाने पर लेने वाले चिराग पासवान ने बीते शुक्रवार को विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव की ओर से आयोजित की गई इफ्तार पार्टी में नीतीश के पैर छूकर सबको चौंका दिया था। पासवान ने जोर दिया कि नीतीश कुमार का यादव के घर तक पैदल जाना बहुत बड़ा संकेत है। उन्होंने कहा, मैं एक बड़े नेता के दूसरे राजनीतिक नेता के घर जाने की अहमियत की पुष्टि कर सकता हूं।

चिराग पासवान ने कहा कि एक बार सोनिया गांधी मेरे पिता (राम विलास पासवान) के घर पैदल आई थीं। इसके बाद मेरे पिता कांग्रेस नीत यूपीए का हिस्सा बन गए थे।

नीतीश के सभी काम एक स्क्रिप्ट के हिस्से, जल्द दिखेगा क्लाइमेक्स 
उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार का बड़े राजनीतिक मोड़ लेना उनका इतिहास रहा है। नरेंद्र मोदी के उभार को लेकर उन्होंने भाजपा के साथ अपने पुराने संबंध तोड़ लिए थे। वहीं, अपने चिर राजनीतिक शत्रु लालू प्रसाद यादव से हाथ केवल इसलिए मिलाया था कि वह उन्हें धोखा दे सकें और बाद में एनडीए के साथ सरकार बना सकें। उन्होंने आरोप लगाया कि हाल के दिनों में नीतीश और भाजपा एक साथ कभी नहीं रहे।

पासवान ने कहा कि नीतीश कुमार ने जनसंख्या कानून और पेगासस जासूसी मामले जैसे मुद्दों पर भाजपा से बिल्कुल विपरीत रुख अपनाया है। कई मुद्दों पर केंद्र ने भी नीतीश की उपेक्षा की है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बिहार दौरे से ठीक पहले आयोजित हुई इफ्तार पार्टी में जाने वाले मुख्यमंत्री के सभी हालिया काम किसी स्क्रिप्ट का हिस्सा लगते हैं, जिसका क्लाइमेक्स हम सबको जल्द देखने को मिलेगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00