लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

आधार और पैन कार्ड से बड़ा फर्जीवाड़ा, शातिरों ने कई राज्यों में खोले जाली बैंक खाते, रहें सावधान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लुधियाना (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Wed, 25 Nov 2020 07:49 PM IST
आरोपी।
1 of 5
विज्ञापन
अनपढ़ लोगों का आधार कार्ड हासिल कर जाली बैंक खाते खुलवा लगभग 30 लाख रुपये ठगी कर रहे गिरोह का भंडाफोड़ पंजाब की लुधियाना पुलिस ने किया है। पुलिस ने गिरोह में शामिल सात शातिरों को गिरफ्तार किया है। आरोपी बेहद ही शातिर अंदाज में वारदात को अंजाम देते थे। यह खबर पढ़कर आप भी अपने आधार कार्ड और पैन कार्ड को बेहद सुरक्षित रखेंगे। अगर थोड़ी सी भी लापरवाही की तो बड़ा नुकसान हो सकता है।
Punjab
2 of 5
थाना साहनेवाल पुलिस ने उक्त आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। यह गिरोह उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, पुणे और पंजाब समेत कई प्रदेशों में ठगी की वारदात को अंजाम दे रहा था। पुलिस कमिशनर राकेश अग्रवाल ने बताया कि यह गिरोह ज्यादातर अनपढ़ और भोले-भाले लोगों को अपना निशाना बनाता था। आरोपी कई बार धनी एप व रेड कारपेट से लोन भी हासिल कर चुके है। इन दोनों एप के माध्यम से अब तक करीब तीस लाख रुपये ठग चुके हैं।
विज्ञापन
आरोपियों के कब्जे से बरामद सामान।
3 of 5
गिरोह के शातिर किसी तरह व्यक्ति का आधार कार्ड और पैन कार्ड हासिल करते थे, इसके बाद बैंक में खाता खुलवाते थे। कुछ बैंक ने ऑनलाइन बैंक खाता खुलवाने की सुविधा दे रखी है। गिरोह का सरगना विजय कुमार पहले एक मोबाइल कंपनी में सिम कार्ड प्रमोशन का काम करता था, इसलिए उसे सिम कार्ड जारी करवाने के सभी तरीके पता था। आरोपी रामनरायण एक कोरियर कंपनी में काम करता है। वह जाली तरीके से खुलवाए जाने वाले बैंक खातों के एटीएम और चेकबुक को लुधियाना के पते पर मंगवाने का काम करता था।  
Ludhiana police busted gang of thugs, who opens fake bank accounts through Aadhar card
4 of 5
आरोपी जाली खाते खुलवाकर इन्हें आगे यूपी और पश्चिम बंगाल के कुछ गैंग को महज 15 सौ से तीन हजार रुपये में बेच रहे थे। ये शातिर इन खातों का इस्तेमाल ओएलएक्स पर वाहन या अन्य सामान बेचने के लिए करते थे। जैसे ही कोई व्यक्ति पैसा खाते में भेजता, आरोपी तुरंत निकलवा लेते थे। पुलिस कमिश्नर ने बताया जांच के दौरान पता चला है कि गिरोह के शातिर हैदराबाद, दिल्ली व पुणे में ओला चालकों को जाली राइड बुक करते थे। उनके पास ओला कैब चालक का नंबर आ जाता था। इसके बाद दूसरे नंबर से कंपनी का अधिकारी बनकर आधार कार्ड और पैन कार्ड की मांग करते थे। इसके बाद उनके नाम पर विभिन्न बैंक में खाता खुलवा ऑनलाइन नगदी इधर से उधर करने के साथ लोन भी हासिल कर लेते थे।
विज्ञापन
विज्ञापन
Ludhiana police busted gang of thugs, who opens fake bank accounts through Aadhar card
5 of 5
पुलिस आरोपियों से गिरोह के बारे में अन्य जानकारी जुटा रही है। उम्मीद है कि कई अन्य खुलासे हो सकते है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 5.45 लाख रुपये नगद, 11 मोबाइल फोन, तीन क्रेडिट कार्ड, 17 सिम, दो लैपटाप, एक कलर प्रिंटर, 45 आधार कार्ड और 11 एटीएम कार्ड बरामद किए है। 

पकड़े गए आरोपी
  • विजय कुमार निवासी गांव नाटवा, थाना कास्या, तहसील खुशीनगर जिला गोरखपुर (यूपी)
  • अंशुमन उर्फ अंशु निवासी समस्तीपुर बिहार, हाल पता लक्ष्मी नगर लुधियाना।
  • सुशील कुमार पटेल निवासी महादेव नगर ढंडारी कलां लुधियाना।
  • सूरज कुमार निवासी मक्कड़ कालोनी गयासपुरा लुधियाना।
  • संजय कुमार निवासी प्रेम नगर लोहारा रोड लुधियाना।
  • रोहित भोरा कालोनी नजदीक जालंधर बाईपास लुधियाना।
  • राम नारायण उर्फ डबलू निवासी लक्ष्मी नगर गयासपुरा लुधियाना।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00