विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

बीएड की वार्षिक परीक्षा में बुशहर कॉलेज की पारुल हिमाचल में अव्वल

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित बीएड की वार्षिक परीक्षा सत्र 2018-20 में बुशहर बीएड कॉलेज कलना (नोगली) की पारुल नेगी ने प्रदेश भर में पहला...

21 अक्टूबर 2021

Digital Edition

एनआईओएस: अब पसंद के अध्ययन केंद्र में पढ़ाई कर सकेंगे विद्यार्थी

राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय शिक्षा संस्थान (एनआईओएस) के विद्यार्थी अब अपने पसंदीदा अध्ययन केंद्र में पढ़ाई कर सकेंगे। शिक्षण संस्थान ने इसी शैक्षणिक सत्र से विद्यार्थियों को यह मौका दिया है। इससे पहले विद्यार्थी अपने संबंधित जिले में बने अध्ययन केंद्र में ही पढ़ाई कर सकते थे। 

क्षेत्रीय निदेशक एनआईओएस धर्मशाला डॉ. रचना भाटिया ने बताया कि दूरस्थ शिक्षा प्रणाली के अंतर्गत विद्यार्थियों के लिए व्यावसायिक पाठ्यक्रमों को बढ़ावा देने के लिए नई पहल की गई है। इसके अंतर्गत विद्यार्थी व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में वर्तमान ब्लॉक से किसी भी व्यावसायिक संस्थान का चयन ऑनलाइन कर सकते हैं और अध्ययन केंद्र में पढ़ाई कर सकते हैं। 

उन्होंने बताया कि विद्यार्थी आधार कार्ड और स्थायी पते का संबंधित दस्तावेज जमा कर यह सुविधा प्राप्त कर सकते हैं।  उन्होंने बताया कि इससे पहले विद्यार्थी अपने जिले के अध्ययन केंद्र में ही प्रवेश ले सकता था। संस्थान का यह महत्वपूर्ण कदम विद्यार्थी के कौशल को बढ़ाने में सहायक साबित होगा। डॉ. रचना ने बताया कि वर्तमान ब्लॉक से व्यावसायिक अध्ययन केंद्रों की क्षमता को भी बढ़ाया गया है और प्रवेश सत्र से बैच संख्या को दोगुना कर दिया गया है। अब अध्ययन केंद्र दो बैचों के स्थान पर चार बैचों का संचालन कर सकेंगे। 
... और पढ़ें

बैठक में बनी सहमति: ट्रक ऑपरेटर यूनियन ने तीन रुपये बढ़ाया मालभाड़ा

हिमाचल प्रदेश चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज पांवटा इकाई और सिरमौर ट्रक यूनियन पांवटा साहिब की संयुक्त बैठक हुई। इस दौरान लगातार पेट्रोल व डीजल के दाम में बढ़ोतरी होने पर यूनियन ने मालभाड़ा बढ़ाने की मांग रखी। बैठक में पूर्व निर्धारित मानकों व नियमों से मालभाड़ा बढ़ाने का आपसी सहमति से फैसला लिया गया, जिसमें तीन रुपये प्रति किलोमीटर की बढ़ोतरी की गई है। 

मालभाड़े की नई दरें  22 अक्तूबर से ही लागू कर दी जाएंगी। अब पांवटा साहिब से बेंगलूरु का मालभाड़ा 1.10 लाख से बढ़कर 117200 रुपये (प्रति 9 टन) होगा। बता दें कि सिरमौर ट्रक यूनियन ऑपरेटर पांवटा साहिब में करीब 1350 से अधिक छोटे-बड़े माल वाहक पंजीकृत हैं। ये वाहन पंजाब, हरियाणा और बेंगलूरु समेत देश के विभिन्न राज्यों में प्रतिदिन माल ढुलाई के लिए आते व जाते हैं। 

सिरमौर ट्रक ऑपरेटर यूनियन पांवटा साहिब के प्रधान बलजीत सिंह नागरा, चेयरमैन सोमनाथ, उपाध्यक्ष बलविंदर सिंह, भूपेंद्र सिंह, गुरपाल सिंह, जसमेर सिंह भूरा ने कहा कि लगातार पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। महंगाई की मार के अलावा आपरेटरों को भारी भरकम टोल टैक्स समेत अन्य आर्थिक बोझ उठाने पड़ रहे हैं। 

माल भाड़ा संयुक्त रूप से सभी ट्रक ऑपरेटरों की सहमति से बढ़ाया गया है। उधर, हिमाचल प्रदेश चैंबर आफ कॉमर्स अध्यक्ष सतीश गोयल, महासचिव नवीन गोयल व अशोक गोयल ने कहा कि प्रति नौ टन के हिसाब से माल भाड़े की नई दरें शुक्रवार 22 अक्तूबर से ही लागू कर दी गई हैं।

स्टेशन      पुराना            नया 
              भाड़ा            भाड़ा 

बेंगलुरु    1.10 लाख    117200 
कोलकाता    73300    82400
मुंबई    75300    80400 
अहमदाबाद    53350    59250
दिल्ली    18250     19100
... और पढ़ें

मंडी संसदीय उपचुनाव: सात में महिलाएं, दस विस क्षेत्रों में पुरुषों के हाथ रहेगी जीत की चाबी

संसदीय उपचुनाव के लिए 30 अक्तूबर को होने वाले मतदान को लेकर प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है। मंडी संसदीय क्षेत्र के 17 विस क्षेत्रों में 1299756 मतदाता हैं। 638756 महिला मतदाता और 647619 पुरुष वोटर हैं। सर्विस वोटर की संख्या 13374 हैं। सात अन्य वोटर में विदेश में रह रहे दो प्रवासी और पांच थर्ड जेंडर के हैं। सात विस क्षेत्रों में महिलाओं और दस में पुरुषों के हाथ जीत की चाबी होगी। चुनाव कर्मियों के प्रशिक्षण एवं पूर्वाभ्यास को लेकर दो रिहर्सल की जा चुकी हैं। 

मंडी जिले में तीसरी और अंतिम रिहर्सल 27 अक्तूबर को होगी और 28 अक्तूबर को पोलिंग पार्टियां अपने-अपने मतदान केंद्रों के लिए रवाना होंगी। निर्वाचन अधिकारी अरिंदम चौधरी ने बताया कि मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत 6 जिलों के कुल 17 विधानसभा क्षेत्र आते हैं। 

इनमें मंडी के 9 विधानसभा क्षेत्रों के अलावा कुल्लू के चार विधानसभा क्षेत्र, शिमला के रामपुर और चंबा के भरमौर क्षेत्र के साथ किन्नौर और लाहुल-स्पीति विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं। मंडी का धर्मपुर विस क्षेत्र हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में आता है। 

2365 मतदान केंद्र : स्वास्थ्य कर्मी समेत हर बूथ में आठ की होगी तैनाती
मंडी संसदीय क्षेत्र में उपचुनाव के लिए 2365 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। हर पोलिंग बूथ पर करीब 8-8 कर्मचारी तैनात रहेंगे। इनमें हर बूथ पर 4 मतदान कर्मियों के अलावा 2 सुरक्षा कर्मी, 1 बूथ स्तरीय अधिकारी और कोरोना के चलते स्वास्थ्य सुरक्षा नियमों की अनुपालन सुनिश्चित बनाने के लिए एक स्वास्थ्य कर्मी ड्यूटी पर रहेगा।

विस क्षेत्र    महिला    पुरुष
सराज    38695    41296 
द्रंग    42392    43645 
भरमौर    36423    38654 
मनाली    36088    36428 
कुल्लू    43493    44818 
बंजार     35437    36428 
आनी    41265    43024 
करसोग    36370    37499 
सुंदरनगर    39427    39974 
रामपुर    35823    38294 
सदर मंडी    38068    36361
नाचन    42251    41854 
जोगिंद्रनगर    48070    46902 
बल्ह    39210    38179 
सरकाघाट    44858    43405 
लाहौल-स्पीति    11949    11841
किन्नौर    28937    28791 

वोटर कार्ड के अलावा 11 दस्तावेज मान्य
मतदाताओं को लोकसभा उपचुनाव के दौरान मतदान करने के लिए मतदाता पहचान पत्र (वोटर कार्ड) प्रस्तुत करना होगा। डीसी ने बताया कि यदि किसी कारणवश वोटर कार्ड उपलब्ध न हो तो पहचान के लिए आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, बैंकों/डाकघरों की ओर से जारी की गई फोटोयुक्त पासबुक, स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, पैन कार्ड, स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज तथा सरकारी पहचान पत्र वैकल्पिक दस्तावेज के रूप में प्रस्तुत किए जा सकते हैं।
... और पढ़ें

कोरोना: हिमाचल में दो संक्रमितों की मौत, 35 बच्चों समेत 172 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव, स्कूलों में कोविड नियमों को लेकर सख्ती

हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को दो और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई है। इनमें कांगड़ा के 63 और कांगड़ा के 70 वर्षीय बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। वहीं, प्रदेश में 35 बच्चों समेत 172 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।  प्रदेश में कोरोना मृतकों का आंकड़ा 3717 पहुंच गया है। प्रदेश में अब तक कोरोना के 222312 मामले आ चुके हैं। इनमें से 217095 ठीक हो चुके हैं। कोरोना सक्रिय मामले 1483 हो गए हैं। इसमें से बिलासपुर जिले में 92, चंबा नौ, हमीरपुर 300, कांगड़ा 547, किन्नौर सात, कुल्लू 35, लाहौल-स्पीति शून्य, मंडी 186, शिमला 85, सिरमौर शून्य, सोलन 34 और ऊना में 183 सक्रिय मामले हैं। बीते 24 घंटों के दौरान 141 मरीज ठीक हुए हैं और कोरोना की जांच के लिए 9530 लोगों के सैंपल लिए गए।

ये भी पढ़ें: 
मौसम: हिमाचल में दो दिन भारी बारिश का अलर्ट, अटल टनल से आगे नहीं होगी ट्रकों की आवाजाही

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने वाले विद्यार्थियों की संख्या बढ़ने लगी है। शुक्रवार को आठवीं से 12वीं कक्षा के 37 विद्यार्थियों में कोरोना संक्रमण पाया गया। ऊना में 21 मामले सामने आए हैं। कांगड़ा में 12 विद्यार्थी पॉजिटिव आए। ये सभी स्लेटी स्कूल के हैं। हमीरपुर में तीन और कुल्लू में एक विद्यार्थी की रिपोर्ट पॉजीटिव पाई गई। 27 सितंबर से प्रदेश में विद्यार्थियों के लिए स्कूल खुले हैं। 27 सितंबर से 22 अक्तूबर तक प्रदेश में कुल 160 विद्यार्थी संक्रमित हो चुके हैं। 20 विद्यार्थी स्वस्थ भी हुए हैं। इधर, बढ़ते मामलों पर शिक्षा निदेशालय का कहना है कि अभी स्कूल बंद करने जैसी नौबत नहीं है। 

स्कूल बंद करने जैसे हालात अभी नहीं: शिक्षा निदेशक
20 अक्तूबर को कांगड़ा के एक स्कूल में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से नवीं कक्षा की छात्रा की मौत के बाद शिक्षा विभाग ने नियमों का पालन करवाने में सख्ती बरतना शुरू कर दिया है। शुक्रवार को उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा की ओर से सभी जिला उपनिदेशकों और प्रिंसिपलों को निर्देश दिए गए हैं कि स्कूल परिसरों में थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही विद्यार्थियों और शिक्षकों को प्रवेश दिया जाए। उन्होंने बुखार, खांसी और जुकाम के लक्षण वाले बच्चों से अभी स्कूलों में नहीं आने की अपील की है। शिक्षा निदेशक ने कहा कि स्कूल बंद करने जैसे हालात अभी नहीं हैं।

आठवीं से 12वीं कक्षा में साढ़े तीन लाख बच्चे रोजाना आ रहे हैं। कोरोना संक्रमित मामले मिलने पर दो दिन के लिए स्कूल बंद किए जाते हैं। अगर पॉजीटिव केस और बढ़ते तो सात दिनों के लिए स्कूल बंद करने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला के जिस स्कूल की छात्रा की मौत हुई है, वहां के प्रिंसिपल के अनुसार 12 अक्तूबर के बाद छात्रा स्कूल नहीं आई। उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने कहा कि कॉलेजों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने नहीं आए हैं। कॉलेजों में अधिकांश को वैक्सीन लग गई है। कुछ स्कूलों में शिक्षक मास्क नहीं पहन रहे। बच्चे ग्रुप में घूम रहे हैं। ऐसे मामलों पर अब कड़ा संज्ञान लिया जाएगा।

शुक्रवार को 65 फीसदी विद्यार्थियों ने भरी हाजिरी
प्रदेश के सरकारी स्कूलों में शुक्रवार को आठवीं से जमा दो कक्षा में 65 फीसदी विद्यार्थियों ने हाजिरी भरी। आठवीं कक्षा में 62 फीसदी, नवीं में 67, दसवीं में 67, जमा एक में 62 और जमा दो कक्षा में 67 विद्यार्थियों ने नियमित कक्षा लगाई।
... और पढ़ें
कोरोना की जांच(फाइल) कोरोना की जांच(फाइल)

बड़ा फैसला: एचआरटीसी पेंशनरों को 19 प्रतिशत डीए और चार प्रतिशत आईआर

हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम (एचआरटीसी) के पेंशनरों के लिए राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। शुक्रवार को अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) परिवहन जेसी शर्मा और राज्य पथ परिवहन पेंशनर्स कल्याण संगठन की बैठक में सरकार ने पेंशनरों को भविष्य की पेंशन के साथ 19 प्रतिशत महंगाई भत्ता और 4 प्रतिशत अंतरिम राहत (आईआर) देने का निर्णय लिया। यह भी तय हुआ कि अब पेंशनरों को हर माह के पहले हफ्ते में पेंशन का भुगतान कर दिया जाएगा।

सरकार के इस फैसले से हजारों पेंशनरों को लाभ मिलेगा। संगठन के पदाधिकारी केसी चौहान और सत्य प्रकाश शर्मा ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि चिकित्सा बिलों को तीन माह के अंदर दो बराबर की किस्तों में देने पर भी सरकार ने हामी भर दी है। वहीं वर्ष 2015 से रुके डीए के मामले को चुनाव खत्म होने के बाद वित्त विभाग व प्रबंधन के अधिकारियों के बीच चर्चा के बाद जारी करने पर निर्णय लिया जाएगा। 
... और पढ़ें

मौसम: हिमाचल में दो दिन भारी बारिश का अलर्ट, अटल टनल से आगे नहीं होगी ट्रकों की आवाजाही

हिमाचल प्रदेश के कई क्षेत्रों में शनिवार और रविवार को भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने भारी बारिश के साथ अंधड़ और बर्फबारी का येलो अलर्ट जारी किया है। 25 अक्तूबर को मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है। शुक्रवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। ऊना में अधिकतम तापमान 32.4, बिलासपुर में 30.5, सुंदरनगर में 30.1, भुंतर में 29.2, कांगड़ा में 29.1, चंबा में 28.6, सोलन में 28.2, हमीरपुर में 28.0, नाहन में 26.3, धर्मशाला में 24.2, शिमला में 23.8, कल्पा में 20.1, डलहौजी में 18.2 और केलांग में 15.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

ये भी पढ़ें:
लाहौल-स्पीति: बर्फबारी से फंसे 59 सैलानियों को सुरक्षित काजा पहुंचाया

वहीं,  पहली बर्फबारी के बाद फंसे सैलानियों और आम लोगों को रेस्क्यू करने के बाद अब जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति में फिर से बर्फबारी का अलर्ट जारी किया गया है। घाटी में 23 और 24 अक्तूबर को बारिश के साथ बर्फबारी होने की संभावना है। उपायुक्त लाहौल-स्पीति नीरज कुमार ने कहा कि मौसम विज्ञान केंद्र शिमला की ओर से जारी चेतावनी के मद्देनजर लाहौल-स्पीति जिले में 23 से 25 और 27 से 29 अक्तूबर तक मौसम खराब रहने और बर्फबारी की आशंका है। उन्होंने कहा कि बीआरओ के मुताबिक मनाली-लेह हाइवे तीन बारालाचा पास पर बर्फबारी के कारण बंद है।

इस अलर्ट के मद्देनजर मनाली-लेह मार्ग पर अटल टनल रोहतांग से आगे ट्रकों की आवाजाही बंद रहेगी। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति और सैलानी खतरे वाली जगहों पर आवाजाही न करे। उपायुक्त ने विशेष रूप से बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों से आग्रह किया कि वे आने वाले समय में भी इस तरह के प्रतिकूल मौसम के दौरान लाहौल का रुख न करें। यदि किसी को कोई अत्यंत आवश्यक यात्रा करने की जरूरत रहती है तो भी जिला आपदा नियंत्रण कक्ष के नंबर 94594-61355 के अलावा 01900-202509 और टोल फ्री नंबर 1077 पर संपर्क कर मदद ली जा सकती है। 
... और पढ़ें

ठियोग: संधू-चिखड़ मार्ग पर खाई में गिरी कार, दो की मौत

हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले में पुलिस थाना ठियोग के तहत संधू-चिखड़ मार्ग पर वीरवार रात करीब 1 बजे एक कार 400 मीटर गहरी खाई में गिर गई। हादसे में कार सवार दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने दोनों शवों को ठियोग अस्पताल पहुंचाया। पुलिस मामला दर्ज कर हादसे के कारणों की छानबीन करने में जुट गई है।  मिली जानकारी के मुताबिक संधू-चिखड़ संपर्क मार्ग पर कार एचपी 63बी-8942 में दो लोग जा रहे थे। रुनकली मंदिर के पास चालक ने कार नियंत्रण खो दिया।

हादसा इतना भयानक था कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे में अनिल (30) निवासी संधू, तहसील ठियोग और देवेंद्र (53) गांव कुमारसैन, जिला शिमला की मौके पर ही मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस थाना ठियोग को दी। सूचना मिलते ही पुलिस का दल मौके पर पहुंचा। पुलिस और स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद दोनों शवों को खाई से बाहर निकाला। ठियोग अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं। डीएसपी ठियोग लखबीर सिंह ने पुष्टि की है।
... और पढ़ें

लाहौल-स्पीति: बर्फबारी से फंसे 59 सैलानियों को सुरक्षित काजा पहुंचाया

संधू-चिखड़ मार्ग पर खाई में गिरी कार
हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति में अचानक हुई बर्फबारी के कारण बीते 17 अक्तूबर से छतडू, छोटा दड़ा बातल और चंद्रताल में फंसे सैलानियों समेत 80 लोगों में से 59 सैलानी शुक्रवार को सुरक्षित काजा पहुंचाए गए। ये सभी पर्यटक बर्फबारी के बीच रास्ते में एक ट्रक के खराब होने के कारण फंस गए थे। सेना की नागा बटालियन ने लोसर, हल और पंगमो के ग्रामीणों की मदद से बचाव अभियान चलाया। वहीं, चंद्रताल में फंसे सैलानी 15 किमी पैदल चलकर बातल पहुंचे, जहां चाचा-चाची ढाबे में इन लोगों ने शरण ली। जिला प्रशासन पहले दावा कर रहा था कि सिर्फ 17 लोग ही फंसे हैं, लेकिन जब लोसर, हल और पंगमो के ग्रामीण कुंजम दर्रा से पैदल बातल पहुंचे तो वाहन फंसे पर्यटकों का जमावड़ा लगा था।



इनमें बच्चे और महिलाएं भी शामिल थीं। ग्रामीणों को अपने बीच पाकर पर्यटकों की जान में जान आई। बचाव टीम की अगवाई स्वयं एसडीएम काजा महेंद्र प्रताप सिंह ने की। उपायुक्त नीरज कुमार लगातार सेटेलाइट फोन से टीम के संपर्क में रहे। डीसी ने बताया कि शुक्रवार को 40 लोगों को सुरक्षित  दोपहर तक काजा पहुंचाया गया है, जबकि 19 अन्य सैलानियों को भी शाम को काजा लाया गया। करीब 21 ढाबा संचालकों और उनके स्टाफ ने फिलहाल बातल से निकलने से मना कर दिया है। उपायुक्त ने कहा कि शनिवार शाम तक कोकसर-ग्रांफू-काजा सड़क मार्ग बहाल कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

आजादी के अमृत महोत्सव: तिरंगे की रोशनी से जगमगाया नूरपुर किला

आजादी के अमृत महोत्सव और देश में 100 करोड़ कोरोना टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने के के उपलक्ष्य में हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के नूरपुर किले में गुरुवार रात दीवारों पर लाइटों की रोशनी से बने तिरंगा आकर्षण का केंद्र रहा। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के शिमला मंडल के तत्वावधान में यह कार्यक्रम करवाया गया। नूरपुर किले की बनावट अद्भुत है। क्षतिग्रस्त होने के बावजूद किले की कला शैली और इतिहास रोचक है।

इस किले का निर्माण राजा बासु के समय में 1580 से 1613 के मध्य हुआ था। वर्तमान में इसका रखरखाव भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण करता है। 1849 में यह किला अंग्रेजों के अधीन आ गया था, तब उन्होंने किले के ज्यादातर हिस्से को तहस-नहस कर दिया था और बाकी का हिस्सा साल 1905 में भूकंप के दौरान बरबाद हो गया। नूरपुर के इस किले में जहांगीर भी अपनी पत्नी नूरजहां के साथ रुका था। इसके बाद ही इस स्थान का नाम नूरपुर पड़ा था। 

किले के मंदिर में कृष्ण के साथ होती है मीरा की पूजा
भगवान श्रीकृष्ण के साथ हमेशा देवी राधा का नाम लिया जाता है और देश के अधिकतर मंदिरों में दोनों की मूर्ति ही एक साथ नजर आती हैं। इस किले में मौजूद एक प्राचीन मंदिर में भगवान श्रीकृष्ण और मीरा की मूर्तियां एक साथ मौजूद हैं। भगवान कृष्ण और मीरा की पूजा एक साथ होती है। 
... और पढ़ें

हिमाचल: किन्नौर के छितकुल में लापता 2 और ट्रैकर के शव मिले, सात की मौत, दो की तलाश जारी

उत्तरकाशी के हर्षिल से छितकुल के लम्खागा पास में ट्रैकिंग पर निकले दो और ट्रैकरों के शव शुक्रवार को बरामद किए गए। ट्रैकिंग पर निकले 11 सदस्यीय दल के 7 सदस्यों के शव अब तक बरामद हो चुके हैं, जबकि दो को वायु सेना ने घायल अवस्था में रेस्क्यू कर लिया है। अब लापता बचे दो ट्रैकरों की शनिवार सुबह फिर से तलाश की जाएगी।
हिमाचल: किन्नौर के छितकुल में लापता पांच ट्रैकरों के शव मिले, चार की तलाश जारी
उपायुक्त किन्नौर आबिद हुसैन सादिक ने बताया कि हर्षिल से छितकुल के लम्खागा दर्रे के लिए निकले 11 ट्रैकरों में से 5 ट्रैकरों के शव गुरुवार को तलाश कर लिए थे, जबकि दो घायल अवस्था में सेना के जवानों ने रेस्क्यू किए थे। वहीं शुक्रवार सुबह से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू हुआ, जिसमें लापता चार में दो और ट्रैकरों के शव बरामद किए गए।

एसडीआरएफ टीम की ओर से एयरफोर्स सरसावा एवं एयरफोर्स बरेली की मदद से ट्रैक का एरियल सर्वे किया गया है। उपायुक्त किन्नौर ने बताया कि शनिवार को लापता ट्रैकरों की तलाश के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जाएगा।
 
... और पढ़ें

राज्य स्तरीय क्रिकेट प्रतियोगिता: सोलन को छह विकेट से हराकर फाइनल में हमीरपुर

अटल बिहारी वाजपेयी क्रिकेट स्टेडियम अमतर में हमीरपुर की टीम ने सोलन को सेमीफाइनल में छह विकेट से हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। अंडर-25 वर्ग की अंतर जिला प्रतियोगिता के दौरान हमीरपुर और सोलन के बीच सेमीफाइनल मुकाबला शुक्रवार को हुआ। सोलन की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 43.1 ओवर में 160 रन बनाए। सोलन की ओर से बल्लेबाजी करते हुए अनिल और आदित्य ने 21-21 रनों का योगदान दिया। राहुल ने 27 रन बनाए।

 हमीरपुर की ओर से गेंदबाजी करते हुए मृदुल सरोच ने चार, शौर्य गर्ग ने तीन विकेट, रोहित ने दो और रिशित ने एक विकेट हासिल किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी हमीरपुर की टीम ने 33.2 ओवर में ही 4 विकेट पर 161 रन बनाकर यह मुकाबला अपने नाम कर लिया। अतुल जसवाल ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 53 रनों का योगदान दिया। जबकि मृदुल सरोच ने शानदार 65 रन बनाए।
... और पढ़ें

सख्त निर्देश: शिक्षा बोर्ड का पाठ्यक्रम नहीं पढ़ाया तो निजी स्कूल की मान्यता रद्द

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से प्रकाशित पाठ्यक्रमों को नहीं पढ़ाने वाले निजी स्कूलों की मान्यता रद्द कर दी जाएगी। इस बारे में बोर्ड प्रबंधन ने सभी संबद्धता प्राप्त स्कूलों को सख्त निर्देश जारी किए हैं। साफ किया गया है कि स्कूलों में बोर्ड के प्रकाशित पाठ्यक्रम को ही पढ़ाया जाए। ऐसा न करने पर कार्रवाई की जाएगी।  स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने बताया कि बोर्ड से मान्यता प्राप्त निजी शिक्षण संस्थानों में केवल बोर्ड का पाठ्यक्रम ही पढ़ाया जाना अनिवार्य है।

उन्होंने बताया कि बोर्ड की ओर से पहली से 12वीं तक की एनसीईआरटी की ओर से संकलित की गई पुस्तकें उपलब्ध की गई हैं, ताकि पाठ्यक्रम में किसी तरह की समस्या न आए। उन्होंने निजी स्कूलों से आग्रह किया है कि बोर्ड की ओर से निर्धारित पाठ्य पुस्तकों और प्रैक्टिकल पुस्तकों को बोर्ड से संबंधित पुस्तक वितरण, सूचना, मार्गदर्शन केंद्र और पंजीकृत विक्रेता से ही खरीदें। समय-समय पर निजी संस्थानों में बोर्ड की ओर से औचक निरीक्षण किया जाएगा। निरीक्षण में किसी तरह की खामी नजर आई तो तुरंत प्रभाव से संस्थान की मान्यता को बोर्ड की ओर से रद्द कर दिया जाएगा। 
... और पढ़ें

मंडी: चार गुना मुआवजे के लिए गरजा भूमि अधिग्रहण प्रभावित मंच, डीसी कार्यालय तक निकाली रैली

भूमि अधिग्रहण प्रभावित मंच ने शुक्रवार को मंडी में फोरलेन प्रभावितों को चार गुना मुआवजे की मांग के लिए धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान रैली भी निकाली गई। रैली सुबह 12 बजे सेरी मंच से निकली और जिलाधीश कार्यालय तक पहुंची। यहां उपायुक्त अरिंदम चौधरी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजते हुए प्रभावितों की मांग को पूरा करने की अपील की गई। रैली में फल उत्पादक संघ के अध्यक्ष और विधायक (ठियोग) राकेश सिंघा और संयुक्त किसान मंच के संयोजक संजय चौहान ने कहा कि पूरे प्रदेश के किसान-बागवान नाराज चल रहे हैं। किसान और बागवानों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अध्यक्ष बेली राम कौंडल ने कहा कि राज्य सरकार भूमि अधिग्रहण 2013 कानून को लागू करने में आनाकानी कर रही है। एक के बाद दूसरी कमेटी बनाकर फैसले पर टालमटोल करती जा रही है। केंद्र सरकार भूमि अधिग्रहण कानून, 2013 के अनुसार चार गुना मुआवजा, पुनर्वास और पुनर्स्थापना को यथावत लागू करने के लिए राजी है।

उत्तराखंड, बिहार और झारखंड आदि में चार गुना मुआवजा दिया जा रहा है। इस दौरान कुल्लू जिला के सह संयोजक नरेश कुकू, प्रेम सिंह ठाकुर ने कहा कि टनल परियोजना से प्रभावित मकानों, जमीन और बगीचे आदि को हुए नुकसान का मुआवजा दिया जाए। बिलासपुर जिले से मदन शर्मा ने मांग उठाई कि सरकार राष्ट्रीय उच्च मार्ग-रोड प्लान के अनुसार भूमि अधिग्रहण करे। उसमें कोई बदलाव न हों।
कोटली-मंडी के अध्यक्ष प्रशांत मोहन, सरकाघाट-धर्मपुर के संयोजक मान सिंह ने कहा कि अधिग्रहित भूमि पर आश्रित अन्य लोगों को हुए आजीविका के नुकसान का आकलन कर उन्हें भी उचित मुआवजा दिया जाए। किसान सभा के राज्य अध्यक्ष डॉ. कुलदीप तंवर ने सरकार से मांग की कि नए मेगा प्रोजेक्ट्स के लिए स्थान का चयन तकनीकी आधार पर सोशल इंपेक्ट सर्वे के पश्चात ही किया जाए। रैली के संयोजक, जोगिंद्र वालिया, कुशाल भारद्वाज, हिमालयन नीति अभियान से गुमान सिंह इस दौरान मौजूद रहे। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00