लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Hardoi ›   Baba Krishna Murari kept Tajia in Hardoi, said - had sought a vow for daughter's marriage, which was fulfilled

Hardoi News: बावन में बाबा कृष्ण मुरारी ने रखा ताजिया, बोले- बेटी की शादी की मन्नत मांगी थी, जो पूरी हुई

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरदोई Published by: हिमांशु अवस्थी Updated Thu, 11 Aug 2022 01:15 AM IST
सार

बावन कस्बा निवासी बाबा कृष्ण मुरारी कश्यप पिछले तीन सालों से मोहर्रम पर इमाम हुसैन की याद में अपने घर में ताजिया रख रहे हैं। इनका परिवार पिछले कई सालों से ऐसा करता आ रहा है।

बिलग्राम के मैदान पुरा से निकाला गया सफेद ताजिया और बाबा कृष्ण मुरारी के घर रखा ताजिया
बिलग्राम के मैदान पुरा से निकाला गया सफेद ताजिया और बाबा कृष्ण मुरारी के घर रखा ताजिया - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरदोई जिले में 10वीं मोहर्रम पर इमाम हुसैन को याद कर ताजिये घरों में रखे गए थे, जिन्हें घरों से निकालकर कर्बला में दफन किया गया। वहीं शिया समुदाय ने इमामबाड़ों, अजाखानों में अलम सजाए व गश्ती अलम निकाला गया।मंगलवार को दरगाह हजरत मीरा मुईजुद्दीन कर्बला में शफी अहमद साबरी की मजलिस का आयोजन हुआ। तहरीक परचमे मोहम्मदी के अध्यक्ष फरीद अहमद ने की।


छोटा चौराहा स्थित मदरसा गौसिया में डॉ. जुबैर अहमद की अध्यक्षता में जलसे का आयोजन किया गया। इसे मौलाना मेंहदी हसन ने संबोधित किया। तहरीक परचमे मोहम्मदी की ओर से मजलिस का आयोजन किया गया। कल्लू चौधरी इमाम चौक से चौधरी दाएम अली उर्फ कल्लू चौधरी के कदीमी ताजिया व मुल्लन टोला से सुन्नी समुदाय के ताजिए के जुलूस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी नदीम की निगरानी में निकाले गए। इसके अलावा अन्य स्थानों पर भी आयोजन हुए।

बड़ा ताजिया निकाला
बावन कस्बे में मंगलवार को बड़ा तजिया निकाला गया। जुलूस इमामबाड़े से शुरू हुआ जो कि पूरे कस्बे में घूमते हुए इमामबाड़े तक लाया गया। जगह-जगह सबील लगाई गई। अखाड़ों के जरिये कर्बला की रोंगटे खड़ी कर देने वाली दास्तान बयान की जा रहीं थी। जिसे सुनकर अजादार गमगीन हो गए। जुलूस में जोरदार मातम हुआ। उसके बाद बड़ा ताजिया कर्बला ले जाया गया। इस दौरान सीओ विनोद कुमार दुबे, कोतवाल विनोद यादव, चौकी इंचार्ज रजनीश त्रिपाठी रहे।

हिंदू परिवार ने रखा ताजिया, फोटो हुआ वायरल
बावन कस्बा निवासी बाबा कृष्ण मुरारी कश्यप पिछले तीन सालों से मोहर्रम पर इमाम हुसैन की याद में अपने घर में ताजिया रख रहे हैं। इनका परिवार पिछले कई सालों से ऐसा करता आ रहा है। कृष्ण मुरारी ने बताया कि तीन साल पहले बेटी की शादी की मन्नत मांगी थी, जो पूरी हुई। तब से ताजिया रखकर हिंदू, मुस्लिम समाज में आपसी प्रेम और सामाजिक सौहार्द को मजबूत कर रहे हैं।

ताजियों की जियारत के साथ छुरी का मातम
बिलग्राम। कस्बे में मंगलवार को सफेद ताजिया और 32 कहार ताजिये निकाले गए। इनके साथ छुरी का मातम हुआ। मोहल्ला सैयदवाड़ा में बज्म ए आजाए हुसैन ने इमामबाड़ा के सामने आग पर चलकर मातम किया। इसमें अफसर अली, विरासत हुसैन, पप्पू मियां, हैदर मेहंदी, ताज जैदी ने भी मातम किया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग रहे।

अकीदतमंदों ने ताजिया को अंतिम विदाई दी
गोपामऊ में यौम के आशूरा 10 मोहर्रम सागर मियां का ताजिया जुलूस मंगलवार को निकाला गया। सभासद शमसुल खां, गुफरान खां ने लोगों को सबील लगाकर पिलाया शर्बत। अकीदतमंदों ने ताजिया को कर्बला तक अंतिम विदाई दी।

आयोजक मकसूद खां ने बताया कि मोहल्ला उत्तरी फराश में सागर मियां का कदीमी ताजिया कई वर्षों से मोहल्ला उत्तरी फर्राष में सागर मिया मस्जिद के सामने इमाम चौक पर रखा जाता है। जिसे कर्बला में दफन किया गया। शकील, मल्हू रस्तोगी, प्रदीप भारद्वाज, सीतू रस्तोगी, मास्टर शंभू दयाल, मुईद सागरी, मास्टर जै राम, मो. अनवार, यूनुस खां, गुफरान सेठ रहे। एसओ राजदेव मिश्रा, चौकी इंचार्ज ने सुरक्षा व्यवस्था मुस्तैद रखी।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00