Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Kanpur ›   UP Weather Update, scorching heat broke the 12-year record, the temperature crossed 44 degrees Celsius

UP Weather Update: गर्मी ने 12 साल का रिकॉर्ड तोड़ा, तापमान 44 डिग्री सेल्सियस के पार, मौसम विभाग ने जारी की एडवाइजरी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Published by: हिमांशु अवस्थी Updated Sat, 14 May 2022 11:56 AM IST
सार

उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है। गर्मी ने मई के महीने में ही पिछले 12 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। मौसम विभाग के अनुसार, अगले दो दिनों में पारा 45 डिग्री तक जा सकता है। 

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

गर्मी ने शुक्रवार को पिछले 12 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 44.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग के अनुसार इस बार मार्च, अप्रैल से ज्यादा मई में गर्मी पड़ने के संकेत हैं। अगले दो दिनों में तापमान 45 डिग्री या उससे भी अधिक जा सकता है।


मौसम विभाग के अनुसार केरल में एक तरफ इस बार समय से पहले (15 मई तक) मानसून आने की प्रक्रिया शुरू हो गई है तो उत्तर भारत के क्षेत्रों में आग बरसाने वाली गर्मी बढ़ती जा रही है। तिब्बत, पाकिस्तान, थार मरुस्थल, आगरा होते हुए बुंदेलखंड और कानपुर व इसके आसपास के क्षेत्रों में उत्तर पश्चिम से आने वाली गरम हवाओं का सिलसिला तेज हो गया है। 24 घंटे में इन हवाओं की गति दो किमी प्रति घंटा बढ़कर 6.8 किमी प्रति घंटा हो गई। इसमें और भी तेज आ सकती है।

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विशेषज्ञ डॉ. एसएन पांडेय के अनुसार आमतौर पर मई में अधिकतम तापमान 40 डिग्री या इससे अधिक 20 मई के बाद पहुंचता है। पहली बार है कि इस महीने के दूसरे सप्ताह से ही इतनी धूप पड़ने लगी है। इसकी बड़ी वजह तेजी से बढ़ते हीट आईलैंड (भवन निर्माण से पैदा हुई गर्मी का क्षेत्र) को माना जा रहा है।

गर्मी से हवा की नमी में कमी
दिन में चिलचिलाती धूप और रात के समय गरम हवाओं के चलते हवा की नमी में काफी कमी आई है। दिन में नमी दो प्रतिशत कम होकर 65 प्रतिशत और रात में 22 प्रतिशत कम होकर 15 प्रतिशत पर आ गई।

47 डिग्री तक जा चुका है पारा
इस महीने में 1973 में 9 मई को अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस तक जा चुका है। इसके अलावा पिछले कई वर्षों में तापमान इस माह अधिकतम पारा 45 डिग्री सेल्सियस रहा है, लेकिन वह 20 से लेकर 31 मई के बीच किसी दिन रिकॉर्ड हुआ है।
 

मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी कर लू से बचने के उपाय बताए हैं। इसके तहत बताया गया कि लोगों को क्या करना है और क्या न करें। साथ ही लू से बचाव के तरीकों की जानकारी भी दी गई है। 
- ज्यादा पानी पिएं, शरीर में पानी की कमी न होने दें।
- हल्के, ढीले सूती कपड़े पहने, यह पसीना सोेख कर शरीर को ठंडा रखता है।
- यात्रा करते समय अपने साथ पानी जरूर रखें।
- गर्मी के दिनों में ओआरएस का घोल पिएं।
- कच्चे आम का पना, नींबू पानी, लस्सी का प्रयोग करें।

लू लगने की पहचान
कमजोरी आना, सिर दर्द होना, उल्टी महसूस होना, तेज पसीना और मांस पेशियों में ऐंठन व अधिक पसीना आना।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00