लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

आफत बनकर आई बारिश: 26 साल का रिकॉर्ड टूटा, कई कच्चे मकान गिरे; हाईवे ठप, चार लोग बहे

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Published by: Vikas Kumar Updated Fri, 12 Aug 2022 07:12 AM IST
जम्मू में बारिश के बाद सड़कों पर जलभराव
1 of 5
विज्ञापन
जम्मू संभाग में 12 घंटे से अधिक समय तक हुई मूसलाधार बारिश के कारण कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए। जम्मू जिले में बारिश का 26 साल का रिकॉर्ड टूट गया। 24 घंटे में 238.8 मिलीमीटर सर्वाधिक बारिश दर्ज की गई। यह अगस्त माह में सर्वाधिक है। इससे पहले 23 अगस्त 1996 को 218.4 मिलीमीटर बारिश हुई थी। संभाग में नदी-नाले उफान पर हैं। चिनाब और उज्ज दरिया में जलस्तर काफी बढ़ गया। जम्मू-श्रीनगर हाईवे ठप होने से एक हजार से अधिक वाहन फंस गए। रामबन और सांबा में चार लोग बह गए, जिन्हें खोजने के लिए तलाशी अभियान चलाया गया। कई इलाकों का सड़क संपर्क कट गया। कटड़ा में मां वैष्णो देवी चॉपर सेवा बाधित रही। लगभग एक दर्जन कच्चे मकान गिर गए। सांबा में निर्माणाधीन पुल में दरार आने से जम्मू-पठानकोट हाईवे चार घंटे बंद रहा। लोगों के घरों और दुकानों में पानी घुस जाने से काफी नुकसान हुआ है। कई स्कूलों में पानी भर गया। कई जगहों पर पुलों के ऊपर पानी बह रहा था।   
जम्मू में बारिश के बीच सड़क पार करते लोग
2 of 5
जम्मू-कश्मीर में वीरवार को मानसून की बारिश आफत लेकर आई। रामबन के मेहाड़ इलाके में बादल फटने से नाले में आई बाढ़ में एक महिला और बच्चा बह गए। दोनों को खोजने के लिए पुलिस, एसडीआरएफ और सिविल क्यूआरटी ने बचाव अभियान चलाया, लेकिन देर शाम तक कुछ पता नहीं लग पाया था। सांबा नए बस अड्डे के पास नाले में भी एक महिला बह गई। बाड़ी ब्राह्मणा, सांबा के बरोड़ी क्षेत्र में पुलिया के तेज बहाव में सेंट्रल यूनिवर्सिटी जम्मू का एक स्कॉलर बह गया। रामबन के मेहाड़ और कैफेटेरिया मोड़ पर पहाड़ों से पत्थर गिरने और भूस्खलन के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही बंद है। लोगों को सलाह दी गई है कि वे टीसीयू जम्मू से पुष्टि के बिना जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यात्रा न करें। उधर, श्री माता वैष्णो देवी के आधार शिविर कटड़ा में दिनभर बारिश से कटड़ा-सांझीछत चापर सेवा बाधित रही। बारिश से प्रभावित कई इलाकों में बिजली आपूर्ति प्रभावित है। 
विज्ञापन
जम्मू में बारिश के दौरान हाईवे से गुजरते लोग।
3 of 5
जम्मू-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर जलभराव और मानसर मोड़ पर अस्थायी पुल बहने से चार घंटे यातायात बंद रहा। सांबा-मानसर मार्ग के दवोह में नाले पर पुल टूट गया। जम्मू के सर्कुलर रोड, मांडा, जानीपुर जवाहर नगर सहित कई इलाकों में पेड़ गिरने और भूस्खलन से दर्जनों वाहनों को नुकसान पहुंचा है। उदयवाला, न्यू प्लाट सहित कई इलाकों में भारी जलभराव से पानी लोगों के घरों और दुकानों में घुस गया। मढ़ पुल में जलस्तर बढ़ने से मढ़-जम्मू का मार्ग बंद रहा। पहाड़ों पर बारिश से अखनूर में चिनाब और तवी नदी में जलस्तर बढ़ा रहा। रियासी में दिनभर बारिश होती रही। राजोरी में बारिश से कई जगह कच्चे मकानों के गिरने की सूचना है। कठुआ में तेज बारिश के बाद नदी नाले उफान पर रहे। उज्ज दरिया खतरे के निशान से पार बहा। राजधानी श्रीनगर समेत कश्मीर के कई हिस्सों में बीती रात से बारिश होती रही। मौसम के बदले मिजाज से दिन के तापमान में भारी गिरावट आई है।
जम्मू में बारिश के दौरान हाईवे से गुजरते लोग।
4 of 5
शुक्रवार को भी हल्की बारिश के आसार
मौसम विज्ञान केंद्र श्रीनगर के अनुसार शुक्रवार को भी प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है। लेकिन 13-14 को कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है। 


 
विज्ञापन
विज्ञापन
जम्मू में बारिश के बाद सड़कों पर लगा जाम
5 of 5
कहां कितनी बारिश ( मिलीमीटर में)
जम्मू             238.8 
सांबा             221.0
कटड़ा           116.2
रियासी           198.5
बटोत             33.4
भद्रवाह           13.9
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00