लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Gorakhpur ›   CM Yogi Adityanath's district Officers not wanting to remove out blue light

CM योगी के जिले में नीली बत्ती उतारना नहीं चाह रहे अफसर

amarujala.com- Submitted By: अभिषेक तिवारी Updated Tue, 02 May 2017 03:09 PM IST
VIP Culture (file Photo)
VIP Culture (file Photo)
विज्ञापन
ख़बर सुनें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जिले के डीएम राजीव रौतेला, एडीएम, एसडीएम सदर और एसडीएम सहजनवां नीली बत्ती का मोह नहीं छोड़ पा रहे हैं। सोमवार को भी इन अफसरों की कार पर नीली बत्ती देखी गई।



पर्यटन विभाग के उप निदेशक की कार में भी नीली बत्ती लगी है। प्रतिबंधित श्रेणी में रखे गए परिवहन विभाग के तमाम अफसर नीली बत्ती, हूटर लगाकर घूम रहे हैं। तर्क दे रहे हैं कि नीली बत्ती हटाने के औपचारिक आदेश नहीं मिले हैं।   


केंद्र सरकार ने देश में वीआईपी कल्चर (लाल, नीली बत्ती) खत्म कर दिया। यह व्यवस्था एक मई से लागू भी हो गई। इसके बावजूद जिले के अफसर वीआईपी कल्चर नहीं छोड़ पा रहे हैं। बताते चलें कि वीआईपी कल्चर खत्म किए जाने की पहल का यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वागत किया था। साथ ही अपनी कार से लाल बत्ती हटवा दी थी।

कमिश्नर गोरखपुर मंडल ने भी कार से नीली बत्ती हटा दी लेकिन कलक्ट्रेट से संबंधित अफसर नीली बत्ती का मोह नहीं छोड़ सके। वह नियम-मानक को धता बताकर वीआईपी कल्चर में घूम रहे हैं। पूछने पर कह रहे हैं कि नीली बत्ती हटाने का आदेश अभी नहीं है। देवरिया ब्यूरो के मुताबिक सीडीओ राजेश त्यागी ने भी कार से नीली बत्ती नहीं उतारी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00