विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

उत्तराखंड: आयुष्मान योजना में मुफ्त होगा किडनी प्रत्यारोपण और इलाज, एक नवंबर से मिलेगी सुविधा

उत्तराखंड अटल आयुष्मान योजना में अब गोल्डन कार्ड धारकों का किडनी प्रत्यारोपण (ट्रांसप्लांट) और इलाज निशुल्क किया जाएगा। एक नवंबर से गोल्डन कार्ड पर सूचीबद्ध अस्पतालों में इलाज की सुविधा मिलेगी। राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण ने इसकी मंजूरी देने के साथ इलाज की दरें भी तय कर दी है। इससे किडनी रोगियों को देश भर में 22 हजार से अधिक सूचीबद्ध अस्पताल में मुफ्त इलाज की सुविधा मिल सकेगी। 

प्रदेश सरकार ने राज्य अटल आयुष्मान योजना में सभी 23 लाख से अधिक परिवारों को शामिल किया है। जिसमें प्रत्येक परिवार को पांच लाख तक मुफ्त इलाज की सुविधा है। प्रदेश के सभी लोगों को इस सुविधा को देने में उत्तराखंड देश का पहला राज्य है। राज्य अटल आयुष्मान योजना के तहत सभी गोल्डन कार्ड धारकों को राष्ट्रीय पोर्टेबिलिटी से जोड़ा गया है। योजना में 1600 से अधिक बीमारियों के इलाज की पैकेज की दरें तय हैं लेकिन अभी तक किडनी प्रत्यारोपण का इलाज इसमें शामिल नहीं था।

अब सरकार ने गोल्डन कार्ड पर किडनी प्रत्यारोपण के इलाज की सुविधा देकर मरीजों को बड़ी राहत दी है। एक नवंबर से योजना में सूचीबद्ध अस्पतालों में किडनी रोगियों को गोल्डन कार्ड पर मुफ्त इलाज की सुविधा मिलेगी। प्रदेश में अटल आयुष्मान योजना के तहत 44 लाख लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बन चुके हैं। जिसमें 3.5 लाख लाभार्थियों ने विभिन्न बीमारियों का इलाज किया है। जिस पर सरकार ने 496 करोड़ की राशि व्यय की है। 

ये हैं इलाज की दरें
आयुष्मान योजना में किडनी प्रत्यारोपण इलाज की दरें राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण ने तय कर दी है। जिसमें किडनी की सर्जरी 2.15 लाख, इंडेक्शन चार्ज 40 हजार, इंटरवेशन एक्यूपमेंट रिजेक्शन 1.40 लाख, पोस्ट ट्रांसप्लांट इलाज का 1 से 3 माह तक 50 हजार, 3 से 6 माह तक 50 हजार, 6 से 12 माह तक 40 हजार धनराशि तय की गई है। 
 
अटल आयुष्मान योजना में गोल्डन कार्ड धारकों को अब किडनी प्रत्यारोपण का इलाज कराने की सुविधा मिलेगी। एक नवंबर से सभी अस्पतालों में किडनी प्रत्यारोपण के इलाज की सुविधा शुरू हो जाएगी।
- डीके कोटिया, अध्यक्ष राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण
... और पढ़ें

उत्तराखंड: गोपेश्वर से हुई एयर एंबुलेंस की शुरुआत, पहले दिन सिलिंडर फटने से झुलसे तीन मरीजों को हायर सेंटर भेजा

उत्तराखंड में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनने के लिए शुक्रवार को चमोली जिले के गोपेश्वर से एयर एंबुलेंस सेवा का शुभारंभ हुआ। राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष पुष्पा पासवान और सीएमओ डा. एसपी कुड़ियाल ने एयर एंबुलेंस (हेलीकॉप्टर) को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। पहले दिन एयर एंबुलेंस से गैस सिलिंडर फटने से झुलसे तीन मरीजों को हायर सेंटर देहरादून भेजा गया।

गोपेश्वर पुलिस मैदान से अपराह्न तीन बजे एयर एंबुलेंस सेवा का शुभारंभ किया गया। राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष पुष्पा पासवान ने कहा कि एयर एंबुलेंस सेवा आपदा प्रभावित क्षेत्रों के लिए मील का पत्थर साबित होगी। दूर-दराज के गांवों के गरीब और आम मरीजों को इसका लाभ मिलेगा।

भाजपा के जिलाध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट ने कहा कि लंबे समय से प्रदेश में एयर एंबुलेंस सेवा के संचालन की मांग की जा रही थी। इस मौके पर चमोली जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष गजेंद्र सिंह रावत, महिला मोर्चे की जिलाध्यक्ष चंद्रकला तिवारी, जिला पंचायत सदस्य योगेंद्र सेमवाल, विक्रम बर्त्वाल, नगर मंडल अध्यक्ष विनोद कनवासी, जिला महामंत्री नवल भट्ट और दीपक भट्ट आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

उत्तराखंड में कोरोना: शुक्रवार को 12 नए संक्रमित मिले, घटकर 166 हुई मरीजों की संख्या

उत्तराखंड में अब कोरोना संक्रमण काबू में आ गया है। बीते 24 घंटे में प्रदेश में 12 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं, एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। जबकि 14 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। सक्रिय मरीजों की संख्या 166 पहुंच गई है। जबकि गुरुवार को प्रदेश में 176 सक्रिय मारीज थे। 

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, शुक्रवार को 11758 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। सात जिलों अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, पिथौरागढ़, ऊधमसिंह नगर और उत्तरकाशी में एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला है। वहीं, देहरादून में पांच, हरिद्वार में तीन, नैनीताल, पौड़ी, रुद्रप्रयाग और टिहरी में एक-एक संक्रमित मरीज मिला है। 

उत्तराखंड: रुड़की का गाधारोणा गांव डेंगू का हॉटस्पॉट घोषित, 100 से ज्यादा लोगों में हुई पुष्टि

संक्रमण दर 0.10 प्रतिशत पहुंची
प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 343799 हो गई है। इनमें से 330099 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के चलते अब तक कुल 7398 लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश की रिकवरी दर 96.02 प्रतिशत और संक्रमण दर 0.10 प्रतिशत दर्ज की गई है। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड में कोरोना: शनिवार को 16 नए संक्रमित मिले, 169 हुई सक्रिय मरीजों की संख्या

उत्तराखंड में अब कोरोना संक्रमण कम हो रहा है। बीते 24 घंटे में प्रदेश में 16 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं, एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। जबकि 13 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। सक्रिय मरीजों की संख्या 169 पहुंच गई है। 

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, शनिवार को 12351 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। नौ जिलों अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, टिहरी, ऊधमसिंह नगर और उत्तरकाशी में एक भी संक्रमित मरीज नहीं मिला है। वहीं,  देहरादून में नौ, हरिद्वार और पिथौरागढ़ में दो-दो व नैनीताल में तीन संक्रमित मरीज मिले हैं।

कोरोना टीकाकरण: देहरादून में डीएम ने निकाला पहला साप्ताहिक लकी ड्रॉ, किया जाएगा सम्मानित

संक्रमण दर 0.13 प्रतिशत पहुंची
प्रदेश में अब तक कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 343815 हो गई है। इनमें से 330112 लोग ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के चलते अब तक कुल 7398 लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश की रिकवरी दर 96.01 प्रतिशत और संक्रमण दर 0.13 प्रतिशत दर्ज की गई है। 
... और पढ़ें
कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर) कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर)

उत्तराखंड आपदा: ग्राउंड जीरो पर पहुंची केंद्रीय टीम, स्थलीय निरीक्षण कर लिया क्षति का जायजा

उत्तराखंड में बीते दिनों हुई मूसलाधार बारिश के बाद आई आपदा से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए केंद्रीय टीम ग्राउंड जीरो पर पहुंच गई है। दो दिवसीय भ्रमण पर पहुंची इंटर मिनिस्ट्रियल सेंट्रल टीम ने शनिवार को पिथौरागढ़ पंहुचकर क्षति का जायजा लिया। 

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के निर्देश पर यहां पहुंची पांच सदस्यीय टीम ने चार धाम प्रोजेक्ट के अंतर्गत पिथौरागढ़ से घाट तक निर्मित ऑल वेदर रोड समेत पीएमजीएसवाई के अंतर्गत निर्मित सड़कों और जिले के विभिन्न क्षेत्र में हुए नुकसान का जायजा लिया। 

उत्तराखंड आपदा: पीड़ितों से मिलने चंपावत पहुंचे सीएम धामी, अधिकारियों को दिए युद्ध स्तर पर काम करने के निर्देश

टीम ने जिलाधिकारी और सड़क निर्माण विभाग व अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर आपदा से हुई क्षति की जानकारी ली और पूरा ब्यूरो तलब किया। जिलाधिकारी डॉ. आशीष चौहान ने टीम को क्षति के बारे में जानकारी दी। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड आपदा: पीड़ितों से मिलने चंपावत पहुंचे सीएम धामी, अधिकारियों को दिए युद्ध स्तर पर काम करने के निर्देश

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज शनिवार को आपदा प्रभावित चंपावत का भ्रमण किया। उन्होंने चंपावत के तेलवाड़ा जाकर भारी बारिश के कारण जान गंवाने वाले परिवारों के परिजनों से मिलकर उनके प्रति संवेदना व्यक्ति की। उन्होंने मृतकों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना भी की। उन्होंने कहा कि सरकार उनकी पीड़ा को समझती है और इस मुश्किल घड़ी में पीड़ितों के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से पीड़ितों को हर संभव मदद दी जाएगी। साथ ही जिला प्रशासन को निर्देश दिए कि जिले में आपदा प्रभावितों को जल्द से जल्द मुवावजे देने की कार्रवाई पूरी की जाए। 

इसके बाद मुख्यमंत्री ने सर्किट हाउस में जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने कहा कि राहत एवं बचाव कार्यों में लापरवाही ना बरती जाए और कार्यों में तेजी लाए जाए। साथ ही आपदा राहत कोष से लोगों को राहत दी जाए।

उत्तराखंड: हर्षिल-छितकुल लम्खागा पास से सात पर्यटकों के शव मिले, दो लापता की तलाश जारी

उन्होंने निर्देश दिए कि जल्द से जल्द आपदा प्रभावित इलाकों में राशन समेत मूलभूत आवश्यकताओं की व्यवस्था की जाए। कहा कि आपदा से निपटने के लिए उपकरणों की आवश्यकता है तो क्रय कर लिए जाएं। निर्देश दिए की जिन परिवारों को विस्थापित किया जाना है उनके लिए स्थान का जल्द से जल्द चयन करें। 
 
सीएम ने कहा कि आपदा के दौरान कई तरह की मुश्किलें बढ़ गई हैं। इसलिए इसमें जरा भी लापरवाही ना बरती जाएं। उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि आपदा प्रभावित क्षेत्रों का भू सर्वेक्षण करवाएं। जिसमे एडीएम को नोडल अधिकारी बनाया जाए। जिलाधिकारी विनीत तोमर ने बताया कि जिले में आपदा राहत कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। सीएम की ओर से दिए गए निर्देशों का पालन भी जल्द से जल्द किया जाएगा। 

आपदा में मृतकों की संख्या पहुंची 77
प्रदेश में भारी बारिश के बाद आई आपदा में मौतों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार को गढ़वाल में लापता दो ट्रैकरों के शव मिल गए थे। गुरुवार को पांच शव मिले थे। सभी सातों शव शुक्रवार को निकाले गए। वहीं, बागेश्वर के पिंडारी ग्लेशियर में भी पांच लोगों के हताहत होने की सूचना है। इसके साथ ही प्रदेश में अब तक 77 लोगों की मौत हो चुकी है। 
... और पढ़ें

देहरादून: प्रेमनगर में देर रात हुए गोलीकांड में घायल युवक की मौत, परिजनों ने थाने में किया हंगामा

देहरादून के प्रेमनगर में शुक्रवार देर रात हुए गोलीकांड में घायल युवक की शनिवार सुबह मौत हो गई। आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग को लेकर मृतक युवक के परिजनों ने प्रेमनगर थाने में जमकर हंगामा किया। उधर, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

देर रात हुई थी गोली चलने की दाे घटनाएं
शुक्रवार देर रात प्रेमनगर और राजपुर क्षेत्र में गोली चलने की घटना से सनसनी फैल गई। दोनों मामलों में दो लोग घायल हो गए थे। गोली चलाने वाले दोनों आरोपियों की पहचान हो चुकी है। पहली घटना प्रेमनगर पोस्ट ऑफिस के सामने हुई थी।

एसपी सिटी सरिता डोभाल ने बताया कि देर रात दो गुट आपस में पार्टी कर रहे थे। इसी बीच वहां पर बैठे एक व्यक्ति ने राहुल नाम के युवक पर गोली चला दी। फायरिंग में युवक को तीन गोली लगी।

घटना के बाद युवक को पास के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसने सुबह दम तोड़ दिया। एसओ प्रेमनगर कुलदीप पंत ने बताया कि गोली चलाने वाले की पहचान हो गई है। मामला आपसी रंजिश का है। 

सीसीटीवी में कैद हुई घटना 
दूसरी घटना राजपुर के दक्ष स्टोर डीआईटी के पास हुई। यहां भी मामूली विवाद में एक कार चालक ने एक व्यक्ति पर गोली चला दी। सूचना मिलते ही मौक पर पहुंची पुलिस  ने घ्ज्ञायल को मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया। एसपी सिटी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में दोनों व्यक्तियों में विवाद होना पाया गया है। आरोपियों की पहचान हो चुकी है। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड मौसम: कई जिलों में बारिश के आसार, नैनीताल के बनियानाला में फिर हुआ भूस्खलन

युवक की मौत के बाद थाने में परिजनों का हंगामा
उत्तराखंड में मौसम आज फिर करवट बदल सकता है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में देहरादून के साथ ही उत्तरकाशी, हरिद्वार, नैनीताल और चंपावत में कहीं-कहीं तेज गर्जना के साथ हल्की बारिश होगी। फिलहाल भारी बारिश की संभावना नहीं जताई है।

मौसम विभाग के मुताबिक राजधानी दून में भी आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और शनिवार की शाम या रात में कुछ स्थानों पर तेज गर्जना के साथ हल्की बारिश की संभावना है। बता दें, पिछले दिनों पश्चिमी विक्षोभ की अत्यधिक सक्रियता और दक्षिणी-पूर्वी हवाओं के दबाव के चलते मैदान से लेकर पहाड़ तक मौसम का मिजाज बदल गया था।

बीते दिनों बारिश से हुआ काफी नुकसान
पूरे राज्य में रिकॉर्ड तोड़ मूसलाधार बारिश हुई। खासकर कुमाऊं क्षेत्र में मूसलाधार बारिश के चलते जहां 50 से अधिक लोगों की मौत हो गई और करोड़ों की संपत्तियों का नुकसान हुआ। हालांकि मौसम विज्ञानियों का मानना है कि पश्चिमी विक्षोभ और दक्षिणी-पूर्वी हवाओं का प्रभाव बिल्कुल खत्म हो गया है। ऐसे में अब भारी बारिश के आसार कतई नहीं है। 

सुबह तक 400 श्रद्धालु पहुंचे यमुनोत्री धाम
यमुनोत्री हाईवे के साथ ही यमुनोत्री पैदल मार्ग पर आवाजाही सुचारू रूप से हो रही है। यमुनोत्री धाम के आखिरी प्रमुख पड़ाव जानकीचट्टी पुलिस चौकी प्रभारी गंभीर तोमर ने बताया कि सुबह से अभी तक 400 यात्रियो ने यमुनोत्री धाम पहुंचकर मां यमुना के दर्शन किए।

नैनीताल के बनियानाला में हुआ भूस्खलन
नैनीताल के बलियानाला क्षेत्र में शनिवार को फिर भूस्खलन हो गया। भूस्खलन जीआईसी विद्यालय के मुहाने तक पहुंच गया है। इससे विद्यालय समेत तमाम भवनों को भारी खतरा पैदा हो गया है। इस जगह पर कुछ दिन पहले भी भूस्खलन हुआ था। बलियानाला क्षेत्र नैनीताल शहर की तलहटी में स्थित है। यहां दशकों से भूस्खलन होता आ रहा है। अब तक कोई भी तकनीक इसे रोकने में कामयाब नहीं हुई है। धीरे-धीरे यह शहर की ओर बढ़ रहा है। इसकी जड़ में आए अनेक भवन पूर्व में खाली कराए जा चुके हैं और दर्जनों लोग यहां से विस्थापित हो चुके हैं। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड आपदा: आपबीती सुना सहम उठा 'जलप्रलय' में बचा मजदूर, बोला- पानी का ऐसा रेला आया कि सब तबाह हो गया

नैनीताल के सकुना में दो मंजिला मकान में दबे बिहार के 10 मजदूरों में से सिर्फ एक बच पाया है। उसकी आंखों में साथियों को खोने का गम है। भरे गले से उसने बताया कि बारिश के कारण हम 18 अक्तूबर को ही घर निकलना चाहते थे लेकिन ठेकेदार ने दिवाली और छठ पूजा में घर जाने के लिए कहा था। हम चले जाते तो हमारी जान बच जाती।

सकुना में आई आपदा के कारण 19 अक्तूबर को एक दो मंजिले मकान में मलबा घुस गया। इससे मकान में सो रहे बिहार के नौ मजदूरों की मौत हो गई। किसी तरह जान बचा पाए राजन शाह ने बताया कि वे सड़क निर्माण कर रहे थे। 18 अक्तूबर की रात खाना खाकर वे एक कमरे में सो गए।

उत्तराखंड आपदा: पीड़ितों से मिलने चंपावत पहुंचे सीएम धामी, अधिकारियों को दिए युद्ध स्तर पर काम करने के निर्देश

वह बीच में सो रहा था। करीब चार बजे के आस-पास एक तेज आवाज के साथ पानी का रेला आया। जैसे ही नींद टूटी तो मेरे सीने और पैर पर एक पत्थर पड़ा हुआ था। इसी समय पानी का दूसरा रेला आया और पानी के बहाव में वे दूसरे छोर में पहुंच गए। जैसे ही वह उठा तो देखा कि उसके साथी मलबे में दबे हुए हैं।
... और पढ़ें

Karwa Chauth 2021: पांच साल बाद बन रहा विशेष योग, इस समय निकलेगा चांद और ये है पूजा का शुभ मुहूर्त

महिलाओं के लिए अखंड सौभाग्य का व्रत करवाचौथ कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि 24 अक्तूबर (रविवार) को मनाया जाएगा। महिलाएं जीवन साथी की दीर्घायु और सुख-समृद्धि के लिए दिनभर निर्जल व्रत करेंगी। 

इस बार करवाचौथ पर्व पर पांच साल बाद विशेष योग बन रहा है। इस बार करवाचौथ पर रोहिणी नक्षत्र और रविवार का संयोग बन रहा है। यह संयोग पूरे पांच साल बाद आया है। इस संयोग में श्रीगणेश के साथ ही सूर्यदेव की भी विशेष कृपा होगी।

इस दिन व्रत रखने से गणेश भगवान के साथ ही सूर्यदेव का भी आशीर्वाद प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि करवाचौथ का व्रत निर्जल किया जाता है। इस व्रत में चंद्रमा के उदय होने पर भगवान गणेश, कार्तिकेय, माता पार्वती और भगवान शिव की पूजा करके चंद्रमा को अर्घ्य देकर व्रत समाप्त किया जाता है।

चतुर्थी तिथि को भगवान गणेश की जन्मतिथि मानी जाती है, इसलिए इस दिन महिलाओं के साथ ही कोई भी व्यक्ति उपवास रख सकता है। गणेश भगवान को विघ्न हरता कहा गया है, इसलिए इस व्रत के रखने से जहां विवाहित महिलाएं अपने सुहाग की रक्षा करती हैं, वहीं कुंवारी युवतियां इस व्रत को रखकर विवाह में आ रही बाधाओं को दूर करती हैं।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: रामगढ़ में कदम-कदम पर दिख रहे आपदा के जख्म, कई घरों की बुनियादें तक गायब, तस्वीरें

नैनीताल के रामगढ़ के झूतिया और सकुना में कदम-कदम पर आपदा के जख्म दिख रहे हैं। जगह-जगह पहाड़ों से निकलकर सड़कों पर बह रहा पानी ऐसा प्रतीत होता है मानो जख्म से खून बह रहा हो। कीचड़ से लथपथ सड़कें और घरों के आंगन उस रात आई प्रलय की कहानी बयां कर रहे हैं। गांव में इक्का दुक्का दुकानें खुली हैं लेकिन न आपूर्ति ठप होने से सामान न के बराबर रह गया है। कई घरों की तो नींव तक उखड़ गई है।

उत्तराखंड आपदा: आपबीती सुना सहम उठा 'जलप्रलय' में बचा मजदूर, बोला- पानी का ऐसा रेला आया कि सब तबाह हो गया

ग्राहक भी कम ही है। लोगों की जुबान पर सिर्फ और सिर्फ मौतों की ही बातें हैं। कई नाली जमीन बह जाने से जहां किसान सिर पकड़ कर बैठे हैं, वहीं बिहार से मजदूरों के शव लेने आए परिजनों की आंखें नम और गले भरे हुए हैं। अमर उजाला की टीम ने ग्राउंड जीरो पर जाकर पड़ताल की तो हालात बद से बदतर दिखे। 

सुबह 9 बजे : 
मल्ला रामगढ़ से तल्ला रामगढ़ तक सड़क बेहद खतरनाक है। अमर उजाला की टीम शुक्रवार को जब झूतिया गांव के लिए निकली। बारिश के कहर से गागर में बिजली के पोल धराशायी हो गए हैं। कई जगह तो आधी सड़क बह गई है। हिमालयन हाइट्स रिसॉर्ट के ठीक नीचे सड़क का आधा हिस्सा ढह गया है। यहां खाई की ओर वाहन जाने से रोकने के लिए एक दो पत्थर रखे गए थे। अगर गलती से कोई वाहन खाई की ओर आता है तो कमजोर पड़ी जमीन खिसकना तय है। 
... और पढ़ें

ऋषिकेश: 24 घंटे बाद भी ओवरहेड वाटर टैंक से नीचे नहीं उतरे गीता भवन के निष्कासित कर्मचारी

ऋषिकेश में गीता भवन की आयुर्वेदिक फार्मेसी से निष्कासित नौ कर्मचारी और एक आठ साल का बच्चा आश्रम परिसर स्थित टंकी पर बीते 24 घंटे से नीचे नहीं उतरे हैं। प्रशासन और पुलिस की टीम मौके पर मौजूद है और उन्हें मनाने का प्रयास कर रही है, लेकिन कर्मचारी नौकरी पर वापस रखने और लंबित वेतन के भुगतान को लेकर लिखित आश्वासन के बाद ही नीचे उतरने की जिद पर अड़े हैं। वहीं गीता भवन ट्रस्ट ने मामला लेबर कोर्ट में विचाराधीन होने का हवाला देते मांगों को लेकर अपना पल्ला झाड़ दिया है।    

स्वर्गाश्रम स्थित गीता भवन की आयुर्वेदिक फार्मेंसी 16 दिसंबर 2020 को सिडकुल हरिद्वार स्थानांतरित हो गई थी। इसके बाद ट्रस्ट ने 32 कर्मचारियों को भुगतान करना बंद कर दिया था। 16 जून 2021 को इन कर्मचारियों को ट्रस्ट ने निष्काषित कर दिया था। इसके बाद कर्मचारियों ने ट्रस्ट के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

हाल में न्यायालय की ओर से कर्मचारियों को आवास खाली करने का नोटिस जारी किया गया था। जिससे कर्मचारियों में जबरदस्त अक्रोश था। शुक्रवार सुबह निष्कासित कर्मचारी मनोरंजन पासवान, प्रमोद यादव, ललित पासवान, दलीप पासवान, मानव राय, श्रीराम पासवान, बहादुर पासवान, बिजेंद्र, धीरेंद्र सिंह बिष्ट टंकी पर चढ़ गए थे।

वहीं बहादुर पासवान का आठ वर्ष का बेटा श्रीधांसु भी उसके साथ था। कर्मचारी नौकरी पर वापस रखने, 11 महीने के लंबित वेतन के भुगतान, पीएफ, ईएसआई और बीमा की सुविधा मांग करने लगे। वहीं मांग पूरी न होने पर टंकी से कूदकर आत्महत्या करने की चेतावनी दी। तहसीलदार के निर्देश पर लेबर अफसर मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि लेबर कोर्ट 12 नंवबर को मामले की सुनवाई होनी है। तहसीलदार मनजीत सिंह लेबर अफसर से बात कर 23 अक्तूबर को सुनवाई तय कराई। लेकिन इसके बाद कर्मचारी नहीं माने। फिलहाल तहसीलदार कर्मचारियों को मनाने में जुटे हैं। 

लीज समाप्त कब्जा बरकरार 
तहसीलदार मनजीत सिंह को निष्कासित कर्मचारियों ने बताया कि ट्रस्ट को लीज पर मिली भूमि की अवधि समाप्त हो चुकी है। इसके बावजूद भी भूमि पर ट्रस्ट का कब्जा बरकार है। तहसीलदार ने कर्मचारियों को जिलाधिकारी को शिकायत देने या हाईकोर्ट याचिका दायर करने का सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी या कोर्ट का आदेश मिलने पर आख्या वे ही तैयार करेंगे। ऐसे में अगर अवैध कब्जा है तो उस पर निश्चित तौर कार्रवाई होगी।

विधायक का फोन स्विच ऑफ, सासंद ने दिए निर्देश
मौके से कर्मचारियों ने स्थानीय विधायक रितु खंडूड़ी को फोन किया। लेकिन कर्मचारियों ने कहा कि पहले विधायक से बात हुई। इसके बाद अचानक उनका नंबर स्विच ऑफ हो गया। इसके बाद कर्मचारियों ने पूर्व मुख्यमंत्री और गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत को फोन मिलाया। उन्होंने कर्मचारियों को तत्काल मामले में कार्रवाई के लिए जिलाधिकारी को निर्देशित करने का आश्वासन दिया। 
... और पढ़ें

कोरोना टीकाकरण: देहरादून में डीएम ने निकाला पहला साप्ताहिक लकी ड्रॉ, किया जाएगा सम्मानित

राजधानी देहरादून स्थित कलेक्ट्रेट में आज कोविड टीकाकरण को लेकर पहला कोविड-19 साप्ताहिक लकी ड्रॉ आयोजित किया गया। जिलाधिकारी व स्मार्ट सिटी के सीईओ डा. आर राजेश कुमार ने इस दौरान लकी ड्रॉ निकाले। जिन विजेताओं के ईनाम निकले हैं उन्हें फोन कर सूचना दे दी गई है।

उत्तराखंड: आयुष्मान योजना में मुफ्त होगा किडनी प्रत्यारोपण और इलाज, एक नवंबर से मिलेगी सुविधा

उन्हें शाम को परेड मैदान में पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। इसमें पांच सैमसंग मोबाइल, तीन इंडक्शन, पांच ट्रैक पेंट, पांच टीशर्ट और पांच शूज दिए जाएंगे। डीएम ने कहा कि लोगों के पास अब भी बहुत से पुरस्कार जीतने का मौका है। पुरस्कार के रूप में इलेक्ट्रिक स्कूटी, डबल डोर फ्रिज, एलईडी टीवी समेत कई अन्य सामान दिए जाएंगे।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00