लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Kushinagar ›   Teenager drowned went to fill water from river for sawan

कुशीनगर हादसा: जलाभिषेक के लिए नदी से जल भरने गया किशोर डूबा, पहले भी हो चुका है हादसा

संवाद न्यूज एजेंसी, कुशीनगर। Published by: गोरखपुर ब्यूरो Updated Tue, 26 Jul 2022 02:17 PM IST
सार

नदी में किशोरों को डूबते देख बगल के गांव के अवधकिशोर सिंह ने एक बांस की लग्गी नदी में फेंक दी, जिसके सहारे अहिरौलीदान खास टोला और छितौनी टोला के दो-दो किशोर किसी तरह सुरक्षित बाहर निकल आए, लेकिन आदित्य सिंह (16) पुत्र रविंद्र सिंह नदी की तेज धारा में बह गया।

कुशीनगर में नाव हादसा।
कुशीनगर में नाव हादसा। - फोटो : अमर उजाला।
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सावन के दूसरे सोमवार को शिवमंदिर में जलाभिषेक के लिए अहिरौलीदान के पास गंडक नदी में जल भरने गया 16 वर्षीय एक किशोर डूब गया। उसके साथ गए चार अन्य किशोरों को एक व्यक्ति ने नदी में बांस फेंककर बचा लिया।


तहसील प्रशासन, तरयासुजान पुलिस, एसडीआरएफ की टीम की मदद से नदी में डूबे किशोर को खोजने में जुटी है। पिछले सोमवार को भी जल भरने गए दो युवकों की गंडक नदी में डूब जाने से मौत हो गई थी। तरयासुजान थाना क्षेत्र के अहिरौलीदान के लोग हर साल सावन के महीने में भगवान शिव का जलाभिषेक करने के लिए गंडक नदी में स्नान करने व जल भरने के लिए आते हैं। सोमवार की सुबह तकरीबन साढ़े पांच बजे भी 40-50 लोग गंडक नदी में स्नान कर जलाभिषेक के लिए जल भरने के लिए आए थे।


इसी दौरान अहिरौलीदान के खास टोला और छितौनी टोला के चार-पांच की संख्या में किशोरों का पैर फिसलने से गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। यह देखकर वहां चीख पुकार मच गई। नदी में किशोरों को डूबते देख बगल के गांव के अवधकिशोर सिंह ने एक बांस की लग्गी नदी में फेंक दी, जिसके सहारे अहिरौलीदान खास टोला और छितौनी टोला के दो-दो किशोर किसी तरह सुरक्षित बाहर निकल आए, लेकिन आदित्य सिंह (16) पुत्र रविंद्र सिंह नदी की तेज धारा में बह गया।

घटना की सूचना मिलते ही पीड़ित परिवार के साथ गांव के लोग घटनास्थल पर एकत्र हो गए। सूचना पर पहुंचे तमकुहीराज के एसडीएम व्यास नारायण उमराव, तहसीलदार दीपक गुप्ता, तरयासुजान के एसओ आरके सिंह, राजस्व निरीक्षक देवचंद्र प्रसाद, एसआई विपिन सिंह, हलका लेखपाल धीरेंद्र राम, जेके सिंह, अरविंद्र सिंह ने मामले की जानकारी लेकर आपदा मित्रों को नदी में उतारकर किशोर की खोज कराने लगे। कुछ लोग नाव से भी किशोर की तलाश करने में जुट गए। एसडीएम के निर्देश पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम भी नदी में डूबे बालक को खोजने में जुट गई।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00