लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

गोरखपुर चाचा-भतीजा हत्याकांड: घटना के दो घंटे बाद आई पुलिस, समय से आती तो बच जाती जान

अमर उजाला ब्यूरो, गोरखपुर। Published by: vivek shukla Updated Mon, 29 Nov 2021 12:26 PM IST
गोरखपुर दोहरा हत्याकांड।
1 of 5
विज्ञापन
गोरखपुर जिले के जद्दुपुर गांव में रविवार को ताबड़तोड़ गोलियां चलीं। दो लोगों की जान चली गई। छह लोग घायल हो गए। पुलिस को सूचना दी गई, लेकिन वह दो घंटे बाद पहुंची। आरोप है कि इससे पहले भी दोनों पक्षों के विवाद में पुलिस ने तत्परता नहीं दिखाई, जिसकी वजह से यह हत्याकांड अंजाम दे दिया गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, झंगहा पुलिस घटना की सूचना मिलने के करीब दो घंटे बाद आई। इस पर ग्रामीणों ने विरोध जताया और पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मामले की सूचना पाकर एसपी नार्थ मनोज कुमार अवस्थी, सीओ चौरीचौरा अखिलानंद उपाध्याय, एसओ खोराबार राहुल कुमार सिंह व एसओ झंगहा सहित तीन थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। शाम पांच बजे डीआईजी जे. रविंद्र गौड़ पहुंचे और पीड़ित पक्ष से मिलकर सांत्वना देते हुए सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

 
गोरखपुर दोहरा हत्याकांड।
2 of 5
रास्ता रोकर शुरू किया विवाद, फिर चलीं ताबड़तोड़ गोलियां
वारदात के प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पुराने विवाद में दोनों पक्षों में तनातनी चल रही थी। रविवार को श्याम यादव के परिवार के सदस्य भुआल यादव के घर से बाहर निकले और मकसूदन निषाद के घर के सामने वाले रास्ते से जाने लगे। यह देख मकसूदन निषाद व उसके साथ मौजूद लोगों ने भुआल को रोक लिया। कहा कि आवागमन के लिए इस रास्ते का उपयोग न करें। सार्वजनिक रास्ते पर आवागमन रोकने पर दोनों पक्ष में कहासुनी होने लगी। मामला बढ़ता चला गया और मारपीट होने लगी।

 
विज्ञापन
गोरखपुर दोहरा हत्याकांड।
3 of 5
आरोप है कि मकसूदन व उसके समर्थकों ने हमला बोल दिया। घर के सामने स्थित खेत की तरफ से ताबड़तोड़ गोलियां चलाई गईं। कई राउंड गोलियां चलीं, जिससे रामकिशुन यादव व विशाल यादव को गोली लग गई। पहले विशाल को मेडिकल कॉलेज पहुंचाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसी बीच रामकिशुन यादव को भी मेडिकल कॉलेज लाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें भी मृत घोषित कर दिया। दोनों मृतकों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। वारदात की जानकारी होने पर डीआईजी जे. रविंद्र गौड़ ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। एसएसपी डॉ. विपिन ताडा ने पांच टीमें गठित करके आरोपियों के जल्द गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं।

 
गोरखपुर दोहरा हत्याकांड।
4 of 5
गांव में पसरा मातम
एक ही परिवार में दो मौतों से गांव में मातम पसर गया है। महिलाओं का रो-रोकर हाल खराब है। कई महिलाएं बार-बार बेहोश हो जा रही हैं। बीआरडी मेडिकल कॉलेज परिसर में भी परिवार के सदस्य रोते-बिलखते रहे।

एसएससी की परीक्षा देने जाना था लखनऊ
गोली लगने से मरने वाला विशाल यादव बीए द्वितीय वर्ष का छात्र था। दो भाइयों में बड़ा विशाल एसएससी की तैयारी में जुटा था। उसे रविवार को लखनऊ जाकर परीक्षा देना था। इसके अलावा घायल रिंकी मूलरूप से बड़हलगंज थाना क्षेत्र के छपरा की रहने वाली है। वह अपने मामा पप्पू के यहां रहती है।
विज्ञापन
विज्ञापन
गोरखपुर दोहरा हत्याकांड: घायल युवती।
5 of 5
गांव में तनाव, एसपी-सीओ तीन थाने की पुलिस के साथ गए
घटना से जद्दुपुर गांव में तनाव है। मामला दो पक्षों का है। लिहाजा, तीन थानों की पुलिस के साथ एसपी नार्थ व सीओ चौरीचौरा घटना स्थल पर पहुंच गए। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घटना के बाद से ही आरोपी फरार हैं। एहतियातन गांव में पुलिस फोर्स तैनात है।
 
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00