करवाचौथ के दिन पति का मर्डर: प्रेमी ने दिया वारदात को अंजाम, खौफनाक है पूरी कहानी, सच जानकर हर कोई हैरान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मेरठ Published by: कपिल kapil Updated Tue, 26 Oct 2021 06:51 PM IST
वरुण की हत्या का मामला।
1 of 5
विज्ञापन
उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में एक खौफनाक वारदात सामने आई है। यहां एक महिला ने अपने पति की लंबी उम्र के लिए करवाचौथ पर व्रत रखा और फिर उसी दिन महिला के प्रेमी ने उसके पति की हत्या कर दी। इस घटना के बारे में जानकर हर कोई हैरान है। उधर, पुलिस अधिकारी भी पत्नी से पूछताछ में लगे हुए हैं।  

करवाचौथ के दिन अगवा हुआ वरुण 
महिला के प्रेमी नागेंद्र ने एक सप्ताह पहले ही दोस्तों के साथ मिलकर हत्या की साजिश रच दी थी। पुलिस के मुताबिक, अमिषा ने पूछताछ में बताया कि हत्या की साजिश में वह शामिल नहीं थी। उसने तो वरुण की लंबी उम्र के लिए करवाचौथ पर व्रत भी रखा था।

ऐसे हुई नागेंद्र से महिला की दोस्ती
मेरठ में गढ़ रोड स्थित न्यूटिमा अस्पताल में दो साल पहले शुरू हुई प्रेम कहानी में पति वरुण को रास्ते से हटा दिया गया। करवाचौथ वाले दिन ही पत्नी के प्रेमी नागेंद्र ने वरुण को मार डाला। वरुण को नहीं पता था कि एक दिन नागेंद्र ही उसकी जान ले लेगा। नागेंद्र ने हमदर्द बनकर वरुण का भरोसा जीता और फिर उसके घर आना-जाना शुरू कर दिया था। नागेंद्र ने ही प्रेमिका के साथ मिलकर वरुण हत्याकांड को अंजाम दिया है।
रिक्शे में वरुण का शव।
2 of 5
11 साल पहले हुई थी वरुण की शादी
बताया गया कि 11 साल पहले वरुण की अमिषा उर्फ मनी के साथ शादी हुई थी। दोनों का नौ साल का बेटा है। दो साल पहले वरुण की मां बीमार हो गई थी, जिसका इलाज गढ़ रोड स्थित न्यूटिमा हॉस्पिटल में हुआ था। यहां सास की तीमारदारी के लिए अमिषा कई दिन अस्पताल में रूकी थी। इस दौरान अस्पताल में खड़खड़ी निवासी बाउंसर नागेंद्र गुर्जर से अमिषा की मुलाकात हो गई। सास की छुट्टी के बाद नागेंद्र ने अमिषा का मोबाइल नंबर ले लिया। इसके बाद दोनों के बीच बातचीत शुरू हो गई और यह दोस्ती प्यार में बदल गई। अमिषा से मिलने के लिये नागेंद्र ने उसके पति वरुण से करीबी बढ़ा ली और उनके घर पर आने लगा। 
विज्ञापन
विज्ञापन
लोगों से पूछताछ करती पुलिस।
3 of 5
वहीं नागेंद्र और अमिषा की प्रेम कहानी के चर्चे आम हुए, तो वरुण को पता लग गया। दंपती के बीच तकरार रहने लगी। अब नागेंद्र ने वरुण को मारने की साजिश रच दी। करवाचौथ वाले दिन रविवार रात को नागेंद्र बिजरौल गांव में वरुण के घर पहुंच गया। नागेंद्र को लेकर दंपती के बीच पहले खूब विवाद हुआ। नागेंद्र ने अपने दोस्तों को बुलाया और वरुण को उठाकर ले गया। सुबह वरुण घर पर नहीं मिला तो परिजनों ने तलाश शुरू कर दी। अमिषा से पूछा गया, लेकिन उसने कुछ नहीं बताया। भाई लापता हो गया है, इसकी जानकारी पर छोटा भाई अरुण गांव पहुंच गया।
जांच करती पुलिस।
4 of 5
रात तुम्हारे पास था, बताओ कहां है वरुण 
अरुण रोहटा रोड पर परिवार के साथ रहता है, उसकी यहां पर परचून की दुकान है। अरुण ने अमिषा से पूछा कि रात में मेरा भाई तुम्हारे पास था, बताओ वह कहां है। अगर नहीं बताया तो पुलिस से शिकायत करेंगे। इसके बाद अमिषा ने नागेंद्र का नाम बता दिया। इसके बाद परिजनों ने नागेंद्र के खिलाफ अपहरण का मुकदमा बड़ौत थाने में दर्ज करा दिया।
विज्ञापन
विज्ञापन
वरुण की हत्या का मामला।
5 of 5
वरुण की हत्या करके शव गेझा रोड, परतापुर में फेंका गया। हत्या कहां पर की गई है, इसका पता आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद होगा। बड़ौत थाने में दर्ज अपहरण के मुकदमे में हत्या की धारा बढ़ा दी है। वरुण के शरीर पर चोट के निशान मिले हैं। उनकी कनपटी पर एक गोली मारी गई। फोरेंसिक एक्सपर्ट ने भी मौके पर जाकर जांच की है। - विवेक यादव, एएसपी ब्रह्मपुरी

वरुण की हत्या नागेंद्र ने की है। अमिषा से पूछताछ चल रही है। हत्या में अमिषा शामिल है या नहीं, इसकी जांच की जा रही है। फरार नागेंद्र और उसके साथियों की तलाश की जा रही है। - आलोक सिंह, सीओ बड़ौत
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00