बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
इस वर्ष गणेश चतुर्थी पर बप्पा के घर में आगमन से होंगी ये राशियां धनवान
Myjyotish

इस वर्ष गणेश चतुर्थी पर बप्पा के घर में आगमन से होंगी ये राशियां धनवान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हादसों का कहर: बिजनौर में चार जगह दर्दनाक हादसे, नवजात समेत पांच की मौत, कई लोग गंभीर रूप से घायल

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में हादसों ने कहर बरपा दिया। शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में चार जगह हुए हादसों में नवजात समेत पांच लोगों की मौत हो गई। वहीं मृतकों के परिवारों में कोहराम मचा है और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

हल्दौर के पास गांव पावटी और नूरपुर नहटौर मार्ग पर चक मोड़ के पास हुईं दो सड़क दुर्घटनाओं में दो महिलाओं, युवक और नवजात बच्चे की मौत हो गई। जबकि चार लोग घायल हो गए। पावटी में बेकाबू कार पेड़ से टकरा गई, वहीं चकमोड़ के पास बाइक के ट्रक की चपेट में आने से हादसा हुआ।

नहटौर थाना क्षेत्र के गांव शेखुपुरा लाला निवासी अफजाल (28 वर्ष) पुत्र बुनियाद कार में परिजनों के साथ बिजनौर किसी कार्य से गए थे। बुधवार शाम करीब चार बजे बिजनौर-मुरादाबाद हाईवे पर गांव पावटी के निकट कार चला रहे अफजाल को नींद की झपकी आ गई। जिससे कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पेड़ से जा टकराई। जिसमें अफजाल की मौके पर ही मौत हो गई। कार में सवार मुन्नी (48 वर्ष) पत्नी बुनियाद, रोशन (28 वर्ष) पत्नी उस्मान व उसके पुत्र ईशान (3 वर्ष), अरहान (2 वर्ष) गंभीर रूप से घायल हो गए। 

यह भी पढ़ें: 
राकेश टिकैत ने ली चुटकी: कहा-वोट की खातिर देश को बांट रही भाजपा, राजनीति में अब्बाजान, चचाजान के बाद 'ताऊ' की एंट्री बाकी

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया, जबकि घायलों को सीएचसी हल्दौर में भर्ती कराया गया। मुन्नी व रोशन को नाजुक हालत में बिजनौर के लिए रेफर किया गया। रोशन ने भी उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। 
... और पढ़ें

दृश्यम फिल्म की थीम आजमाना चाहता था कातिल पति: पत्नी की बेरहमी से हत्या, फिर टुकड़े-टुकड़े कर गंगनहर में फेंकी लाश

मेरठ के सरधना में निवासी कवि दीपक निराला ने अपने पत्नी को दहेज के लिए पहले बेरहमी से मौत के घाट उतारा और फिर शव के टुकड़े टुकड़े कर गंगनहर में फेंक दिया। पत्नी की हत्या के बाद आरोपी पति परिवार समेत फरार हो गया। यहां तक कि पत्नी के मायके वालों को भी उसने उनकी बेटी की मौत की खबर नहीं दी। पंद्रह दिन तक जब बेटी से किसी तरह बात नहीं हो पाई तो मायके वालों ने दामाद से पूछताछ की तो बेटी की मौत की खबर सुनकर उनके होश उड़ गए। मायके वाले मेरठ पहुंचे और सरधना थाने में दामाद के खिलाफ दहेज हत्या के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया। वहीं वारदात के 21 दिन बाद आरोपी पति ने थाने पहुंचकर आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस ने आरोपी से पूछताछ के बाद कई बड़े खुलासे किए हैं। वहीं पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपी पति हत्या कर खुद को बचाने के लिए दृश्यम फिल्म की थीम आजमाना चाहता था।
... और पढ़ें

यूपी: भाकियू नेता से मांगी 50 लाख की रंगदारी, फायर भी किया, जेल में बंद बदमाश के नाम से आई चिट्ठी

उत्तर प्रदेश के बागपत में दिल्ली रोड पर स्थित रॉयल रेस्टोरेंट के मालिक व भाकियू की नगर इकाई के अध्यक्ष प्रदीप गुर्जर से अजमेर जेल में बंद बदमाश बलराम के नाम से 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई है। उनके रेस्टोरेंट पर पहुंचे बदमाश ने रंगदारी की चिट्ठी फेंकने के बाद फायर भी किया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर, भाकियू नेता को सुरक्षा मुहैया कराई गई है।

घटना दस दिन पहले पांच सितंबर की है, पुलिस घटना को छिपाए रही। प्रदीप गुर्जर घटना वाले दिन अपने रेस्टोरेंट में बैठे थे, इसी दौरान काले कपड़े पहने और मुंह पर रुमाल बांधे एक बदमाश वहां पहुंचा और रेस्टोरेंट की सीढ़ी में फायर किया। इसके बाद उसने एक पर्चा फेंकते हुए कर्मचारी से कहा, यह पर्चा लेकर चला जा, आगे आया तो गोली मार दी जाएगी। गोली चलने पर अंदर से लोग बाहर आए, तब तक बदमाश फरार हो गया। इंस्पेक्टर ने बताया कि राजस्थान पुलिस से भी संपर्क साधा जा रहा है। घटना के समय सीसीटीवी कैमरा बंद था।

सीधी बात, फालतू दिमाग मत लगाना
पर्चे में राम-राम सेठ जी से संबोधन शुरू किया, फिरौती रकम नहीं देने का अंजाम मौत। सीधी बात है, फालतू दिमाग मत लगाना। बदमाश का नाम बलराम निवासी किशनगढ़, राजस्थान फिलहाल अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल लिखा है।
... और पढ़ें

सावधान : मेरठ में कोरोना से राहत, डेंगू-स्क्रब टाइफस ने मचाई आफत

कोरोना से तो अब काफी राहत है, लेकिन डेंगू, वायरल बुखार और स्क्रब टाइफस आफत बन रहा है। मेरठ मंडल में स्क्रब टाइफस के 42 मरीज मिल चुके हैं, जबकि डेंगू के 288 मरीज मिले हैं। 

अपर निदेशक स्वास्थ्य डॉ. राजकुमार का कहना है कि डेंगू या स्क्रब टाइफस के मरीज मंडल में बढ़ रहे हैं, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है, इलाज मुहैया है। अस्पतालों में डेंगू वार्ड बने हैं और जांच की भी सुविधा उपलब्ध है। स्क्रब टाइफस के लक्षण मिलने पर तुरंत टेस्ट कराएं। अपंजीकृत डॉक्टर से इलाज न कराएं। टाइफस आरिएंटिया त्सुत्सुगामशी बैक्टीरिया के कारण होती है। मंडल में अलग से टीमें गठित की गई हैं। 

फिजिशियन डॉ. वीके बिंद्रा ने बताया कि स्क्रब टाइफस में मरीजों के जोड़ों में दर्द होता है। बुखार के साथ शरीर पर निशान पड़ जाते हैं। 7 से 8 दिन में मरीज ठीक हो जाता है। जिन लोगों को लंबे समय से बुखार या स्किन पर निशान बना रहता है, ऐसे लोगों को डॉक्टर के पास जाने में देर नहीं करनी चाहिए।

स्क्रब टाइफस: मेरठ मंडल के जिलों की स्थिति
जिला                      मरीजों की संख्या
गाजियाबाद                     34
गौतमबुद्धनगर                  03
हापुड़                                02
मेरठ                                 01
बुलंदशहर                         01
बागपत                             01

डेंगू: मेरठ मंडल के जिलों की स्थिति 

जिला                    मरीजों की संख्या
मेरठ                           142
गाजियाबाद               113
गौतमबुद्धनगर            13
बागपत                     11
हापुड़                   08
बुलंदशहर             01
(यह आंकड़े 16 सितंबर 2021 तक के हैं।)

डेंगू और स्क्रब टाइफस क्या है और कैसे होता है
डेंगू एक वायरल बीमारी है, जो कि मच्छर के काटने से होता है। वहीं स्क्रब टाइफस बैक्टीरिया से होता है, जो कि माइट (चिगर्स) के काटने से फैलता है। ये चूहे, छछूंदर और गिलहरी वगैरह से होते हुए भी इंसान तक पहुंच सकते हैं।

बचाव
- डेंगू से बचने के लिए लोग खुद को मच्छरों से बचाएं और मच्छर के पनपने के लिए कूलर, बर्तन, गड्ढे वाली जगह पर पानी न इकट्ठा होने दें।
- स्क्रब टाइफस से बचाव के लिए जंगल, झाड़ी या खेत वाली जगहों पर जाने से बचें। अगर जाएं तो हमेशा पूरी बांह वाले कपड़े पहनें। साफ-सफाई का ख्याल रखें। बुखार, सिरदर्द वगैरह होने पर डॉक्टर को दिखाएं, ताकि समय पर बीमारी की पहचान कर इलाज शुरू हो सके। 

लक्षण 
डेंगू की शुरुआत तेज बुखार व ठंड लगने के साथ होती है। सिरदर्द, कमरदर्द व आंखों में तेज दर्द हो सकता है। जोड़ों में दर्द, बेचैनी, उल्टियां और लो ब्लड प्रेशर जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। 

स्क्रब टायफस में तेज बुखार, सिरदर्द, खांसी, मांसपेशियों में दर्द व कमजोरी जैसी परेशानियां हो सकती हैं।
... और पढ़ें
dengue dengue

अलर्ट : मेरठ में दो साल के बच्चे को स्क्रब टाइफस की पुष्टि, डॉक्टर बोले- सफाई बहुत जरूरी

कोरोना, डेंगू और वायरल बुखार के बीच अब स्क्रब टाइफस ने भी दस्तक दे दी है। दो साल के बच्चे को स्क्रब टाइफस की पुष्टि हुई है। वह बुलन्दशहर का रहने वाला है, पहले निजी लैब में जांच कराई गई, फिर कन्फर्म करने के लिए मेडिकल कॉलेज में भी जांच कराई गई। 

मंडलीय सर्विलांस अधिकारी डॉ अशोक तालियान ने बताया कि दोनों जगह पुष्टि हुई है। मेरठ में इससे पहले एक महिला में यह बीमारी मिली थी। महिला ने लक्षण मिलने पर गाजियाबाद में इसकी जांच कराई थी।  ये ओरिएंटिया त्सुत्सुगामुशी बैक्टीरिया के कारण होती है। मेरठ मेडिकल कॉलेज में फिलहाल डेंगू और कोरोना के बाद स्क्रब टाइफस की भी जांच शुरू हो गई है ताकि रोगी को सही उपचार मिल सके। 

कीट, गिलहरी, चूहे से फैलता है स्क्रब टाइफस
स्क्रब टाइफस घुन, छोटे कीट, गिलहरी और चूहे के काटने से फैलता है। बरसात के मौसम में इनसे बचाव करें। समय पर इलाज न मिले तो यह बीमारी बढ़ सकती है। पशुओं के मल-मूत्र में बैठने वाले कीटों, खराब भोज्य पदार्थों में लगे कीटों के कारण भी यह बीमारी फैल सकती है। इसलिए बरसात के मौसम में सफाई का सबसे ज्यादा ख्याल रखें। बाहर का भोजन न खाएं। भोजन खाते, बनाते समय पूरी सफाई रखें।

मेरठ में डेंगू के 142 मामले 
सीएमओ डॉ अखिलेश मोहन ने बताया कि मेरठ में डेंगू के 142 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 83 मामले सक्रिय हैं। अगर किसी व्यक्ति के घर में पहली बार मच्छर के लार्वा पाए जाते हैं, तो हम नोटिस देते हैं, फिर से पाए जाने पर जुर्माना लगाते हैं और तीसरी बार लार्वा पाए जाने पर प्राथमिकी दर्ज करते हैं। 
 
... और पढ़ें

रूबी हत्याकांड: कार के स्टेयरिंग पर मिले खून के निशान, गंगनहर में लाश के टुकड़ों को तलाश रही पुलिस, तस्वीरें

मेरठ में सरधना के मोहल्ला छावनी निवासी कवि एवं ज्वेलर्स दीपक निराला की पत्नी रूबी के शव की तलाश गंगनहर में गुरुवार को भी जारी रही। पुलिस व गोताखोरों की टीम ने शव खोजा, लेकिन सफल नहीं हो सके।

थाने में समर्पण करने के बाद पुलिस पूछताछ में आरोपी पति दीपक ने अपनी पत्नी रूबी की हत्या कर शव के टुकड़े कर बोरे में भरकर गंगनहर में डालने की बात बताई थी। दीपक के बयान के बाद यह तो स्पष्ट हो गया कि उसके द्वारा अपनी पत्नी रूबी की हत्या कर दी गई। उसके मकान और कार के स्टेयरिंग पर मिले खून के निशान से पुलिस रूबी की हत्या होना मान रही है। लेकिन शव को गंगनहर में सरधना से भलसोना पुल के बीच कहां पर डाला। या फिर शव को गंगनहर में न डालकर कहीं और छिपाया गया हो, इसका लेकर पुलिस अभी संशय में है।
... और पढ़ें

तस्वीरें: अजगर का खौफनाक रूप देख मचा हड़कंप, कबूतर को बनाया शिकार और फिर...

बिजनौर जनपद में कालागढ़ क्षेत्र की नई कॉलोनी में देखते-देखते एक अजगर सांप ने कबूतर को अपना शिकार बना लिया। वहीं अजगर का यह खौफनाक रूप देखकर कॉलोनी के लोग भी हैरान रह गए। इस दौरान लोगों में दहशत फैल गई।

बताया गया कि नई कॉलोनी निवासी रोकी के घर में अजगर सांप मुर्गी और कबूतर के बाड़े में पहुंच गया। जहां उसने एक कबूतर को अपना शिकार बना लिया। कुछ देर कबूतर को अपने शरीर में रखकर फिर उगल दिया। जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचे त्वरित अनुप्रिया दल के प्रभारी दीपक कुमार ने अजगर को कब्जे में लेकर कार्बेट टाइगर रिजर्व के वनों में छोड़ दिया। वहीं बड़ी संख्या में लोगों ने इस हृदय विदारक घटना को देखा। वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह जंगलों में घटने वाली एक प्राकृतिक घटना है।
... और पढ़ें

यूपी: किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म, अश्लील वीडियो बनाया और फिर करते रहे ब्लैकमेल, पीड़िता ने सुनाई आपबीती

बिजनौर में अजगर ने कबूतर को बनाया शिकार।
मेरठ में किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म करके अश्लील वीडियो बना लिया। इसके बाद आरोपी वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किशोरी को ब्लैकमेल करते रहे। वीडियो वायरल होने पर किशोरी परिजनों के साथ एसएसपी ऑफिस पहुंची और कार्रवाई की मांग की।

किठौर की एक किशोरी और उसका परिवार गुरुवार को एसएसपी ऑफिस पहुंचा। परिजनों ने बताया कि 19 जुलाई को उनकी बेटी बाजार से लौट रही थी। तभी गांव का युवक उसे बहला-फुसलाकर ले गया। आरोपी ने किशोरी से दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो बना लिया। 

यह भी पढ़ें: 
तस्वीरें: अजगर का खौफनाक नजारा देख मचा हड़कंप, कबूतर को बनाया शिकार और फिर...

इसके बाद आरोपी और उसका दोस्त वीडियो वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म करते रहे। फिर बाद में आरोपियों ने वीडियो भी वायरल कर दिया। किशोरी व उसके परिवार वालों ने एसएसपी ऑफिस पर शिकायती पत्र दिया है। 

यह भी पढ़ें: रूबी की मोहब्बत का खौफनाक अंत: ट्रेन में दोस्ती, फिर परवान चढ़ा प्यार, पढ़िए कत्ल की दर्दनाक कहानी

पीड़ित परिजनों ने बताया कि पांच दिन पहले भी उन्होंने एसएसपी ऑफिस पर शिकायत की थी। इसकी जानकारी लगने पर दोनों आरोपी पीड़ित परिवार को धमकी दे रहे हैं। वहीं किठौर पुलिस का कहना है कि पीड़ित परिवार ने थाने में आकर सूचना नहीं दी। मामले की जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

खौफनाक: स्कूल से लौट रही छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म, मां की बीमारी का बहाना कर वारदात को दिया अंजाम

मेरठ के परीक्षितगढ़ में स्कूल से घर लौट रही छात्रा से जंगल में ले जाकर तीन युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। शोर सुनकर किसान मौके पर पहुंचे तो आरोपी अपनी बाइक मौके पर छोड़कर फरार हो गए। वहीं सूचना पर पुलिस और फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने तीनों युवकों को नामजद करते हुए मुकदमा दर्ज कर ली और पीड़िता को मेडिकल के लिए अस्पताल भिजवाया।

क्षेत्र के एक गांव निवासी छात्रा गांव के पास स्थित इंटर कॉलेज में कक्षा 9वीं में पढ़ती है। गुरुवार को छात्रा सहेलियों के साथ स्कूल से घर लौट रही थी। गांव का एक युवक बाइक लेकर उसके पास पहुंचा और उसकी मां बीमार होने की बात कहकर छात्रा को बाइक पर बैठाकर गांव जयसिंहपुर के जंगल में ले गया। वहां उसके दो साथी पहले से मौजूद थे। तीनों छात्रा को ईंख के खेत में खींचकर ले गए और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। छात्रा की चीख सुनकर खेतों में काम कर रहे किसान मौके पर पहुंचे। तीनों आरोपी बाइक मौके पर ही छोड़कर फरार हो गए।

किसानों ने छात्रा के परिजनों घटना की जानकारी दी। परिजन मौके पर पहुंचे। इसके बाद पीड़िता ने घटनाक्रम से अवगत कराया। सूचना पर थाना पुलिस और फोरेंसिक टीम घटनास्थल पर पहुंची और मौके की जांच की। पुलिस ने आरोपियों की बाइक कब्जे में ले ली है।

यह भी पढ़ें: 
सुसाइड नोट: ‘जिंदगी से बहुत परेशान हो गया हूं’ पहले पत्नी को उतारा मौत के घाट, फिर खुद लगा ली फांसी, देखें तस्वीरें

वहीं छात्रा की तहरीर पर गुरुवार शाम तक मुकदमा दर्ज न होने पर जिला पंचायत सदस्य विकास उपाध्याय ने एसएसपी से शिकायत की, जिसके बाद मुकदमा दर्ज किया गया और पीड़िता को मेडिकल के लिए भिजवाया।

यह भी पढ़ें: तस्वीरें: अजगर का खौफनाक रूप देख मचा हड़कंप, कबूतर को बनाया शिकार और फिर...

थानाध्यक्ष आनंद प्रकाश मिश्र ने बताया कि छात्रा ने तीन युवकों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। आरोपी प्रवीन, पृथ्वीराज व एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

Meerut News Today 17 September : मेरठ समाचार | सुनिए शहर की ताजातरीन खबरें

तैयारी: जल्द मेरठ आएंगे सीएम योगी, पूरे देश के खिलाड़ियों को करेंगे सम्मानित, तैयारी में जुटे अधिकारी

खेल के मैदान पर देश का डंका बजाने वाले पैरा खिलाड़ियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मेरठ में सम्मानित करेंगे। भव्य आयोजन की तैयारियां शुरू हो गई है। कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने संभावित आयोजन स्थल के लिए अधिकारियों के साथ चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय और सरदार वल्लभ भाई कृषि विश्वविद्यालय का दौरा किया।

टोक्यो पैरालंपिक में देश के कुल 54 पैरालंपियन खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। इनमें प्रदेश के सात और पश्चिमी यूपी के पांच खिलाड़ी शामिल थे। नोएडा के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने बैडमिटंन में रजत पदक भी हासिल किया था। मेरठ से विवेक चिकारा, बागपत के आकाश, गौतमबुद्धनगर के वरुण भाटी और मुजपफ्फरनगर की ज्योति बालियान ने भी टोक्यो पैरालंपिक में भागीदारी की थी। 

इन खिलाड़ियों को मेरठ में सम्मानित किए जाने की तैयारी है। यहां पहली बार ऐसा आयोजन होगा, जब देशभर के पैरालंपियन और पैरा एथलीट शामिल होंगे। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों को भी कार्यक्रम में आमंत्रित किया जाएगा। उनके लिए पंडाल में अलग से बैठने की व्यवस्था की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खिलाड़ियों को पुरस्कार राशि और प्रशस्ति पत्र देंगे। 

यह भी पढ़ें: 
तस्वीरें: अजगर का खौफनाक नजारा देख मचा हड़कंप, कबूतर को बनाया शिकार और फिर...
... और पढ़ें

बिजनौर: खून से लथपथ मिला बुजुर्ग का शव, इलाके में फैली सनसनी, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

बिजनौर में नहटौर क्षेत्र के जरीफपुर इलाके के जंगल में खून से लथपथ बुजुर्ग की लाश मिलने से सनसनी फैल गई। उधर, घटना की जानकारी लगने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच पड़ताल की। वहीं परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।

शुरुआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि किसी जानवर ने बुजुर्ग पर हमला किया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। जांच के बाद ही मौत का असली कारण सामने आएगा।

ये है पूरा मामला
बताया गया कि बलराम (70 वर्ष) पुत्र गेंदा निवासी ग्राम जरीफपुर, चतर थाना नहटौर, जनपद बिजनौर गांव में ही तालाब पर मछलियों की रखवाली करता था। आज यानी शुक्रवार सुबह बलराम का शव तालाब किनारे अपनी झोपड़ी के सामने लहूलुहान हालत में पड़ा मिला। बुजुर्ग के शरीर पर दांत से काटने के निशान मिले और बांया कान कटा हुआ है। वहीं पूरा शरीर खून से लथपथ हुआ है। 

पुलिस का मानना है कि ऐसा लगता है, जैसे रात में किसी जंगली जानवर द्वारा हमला किया गया हो। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। वहीं अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण और क्षेत्राधिकारी धामपुर ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर जांच की। उधर, डॉग स्कवॉयड और फील्ड यूनिट टीम ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया।
... और पढ़ें

बद्दो का फेसबुक वार जारी: इस बार कई व्यक्तिगत लोगों पर की टिप्पणी, ढाई लाख के इनामी को पकड़ने में पुलिस नाकाम

फेसबुक को हथियार बनाकर मोस्ट वांटेड बदन सिंह बद्दो ने कई लोगों को खुली चुनौती दी है। दो आईपीएस व अब कई व्यक्तिगत लोगों के बारे में फेसबुक पर टिप्पणी की जा रही है। किस- किस से बद्दो के संबंध हैं, इसकी जांच में पुलिस जुटी है।

ढाई लाख का इनामी बदन सिंह बद्दो फरार होने के बाद भी फेसबुक पर लगातार सक्रिय है। ढाई साल बीतने के बावजूद भी पुलिस उसे नहीं ढूंढ सकी। डीजीपी मुकुल गोयल ने मेरठ में दौरे के दौरान उसकी गिरफ्तारी के निर्देश पुलिस को दिए थे। जिसके बाद मेरठ पुलिस ने फिर से अपराधी को ढूंढना शुरू कर दिया। पुलिस जागी तो बद्दो भी फेसबुक पर सक्रिय हो गया। उसने पूर्व डीजीपी बृजलाल समेत दो आईपीएस अधिकारियों पर टिप्पणी की।

यह भी पढ़ें: 
रूबी की मोहब्बत का खौफनाक अंत: ट्रेन में दोस्ती, फिर परवान चढ़ा प्यार, पढ़िए कत्ल की दर्दनाक कहानी

वह लगातार फेसबुक पर पोस्ट डालकर लोगों को बता रहा कि मैं जिंदा हूं और पुलिस अधिकारियों और बदमाशों ने मिलकर साजिश के तहत उसे फंसाया है। पुलिस टीम ने उसकी एक- एक पोस्ट की जांच की है। एसपी क्राइम अनित कुमार ने बद्दो की कुंडली भी खंगाली है, जिसमें कई लोगों के नाम सामने आए है।

यह भी पढ़ें: तस्वीरें: अजगर का खौफनाक नजारा देख मचा हड़कंप, कबूतर को बनाया शिकार और फिर...

एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि बद्दो की तलाश में पुलिस टीम लगी है। हर पहलुओं पर पुलिस ने जांच की है।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us