बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव
Myjyotish

बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

दिल्लीः ऑनलाइन क्लास न कर पाने वाले बच्चों के लिए कांस्टेबल बने सहारा, मंदिर में ले रहे क्लास

दिल्ली पुलिस का एक कांस्टेबल कोरोना काल में जरूरतमंद बच्चों के लिए मदद का बड़ा हाथ बनकर सामने आया है। कांस्टेबल ने कोरोनाकाल के दौरान गरीब और जरूरतमंद...

20 अक्टूबर 2020

Digital Edition

गौतमबुद्ध नगर में सीएम योगी: सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का किया अनावरण, कहा- राष्ट्रधर्म को रखना होगा सर्वोपरि

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने सात जिलों के दौरे के कार्यक्रम के तहत बुधवार को गौतमबुद्ध नगर पहुंचे। आज सीएम ग्रेटर नोएडा के दादरी पहुंचे और यहां उन्होंने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया। हालांकि उनके दौरे से पहले से ही मिहिर भोज के वंशज होने का दावा करने वाले राजपूतों और गुर्जरों में गतिरोध बुधवार को भी जारी रहा। यहां सीएम योगी ने एक जनसभा को भी संबोधित किया। पढ़िए उनके भाषण की खास बातें....

हम गुलाम बने क्योंकि हम अलग-अलग थे
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, देश में गुलामी का कारण एक ही था क्योंकि हम अलग-अलग थे। हम जाति के बंधन में बंधे थे। हम संप्रदाय के बंधन में बंधे थे। कोई भी विदेशी आक्रांता आता था, वो हमारी बहू-बेटियों के साथ छेड़छाड़ करता था।

2017 से पहले नहीं निकलने दी जाती थी कांवड़ यात्रा
सीएम ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 2017 से पहले कोई कांवड़ यात्रा नहीं निकलने दी जाती थी। दुर्गा पूजा का त्योहार नहीं मनाने दिया जाता था। तब कोई विदेशी आक्रमणकारी तो यहां शासन नहीं कर रहा था, लेकिन आज की स्थिति बदली है। आज सभी व्यवस्था हो रही है। 2017 में हमारी सरकार बनने के तुरंत बाद अवैध बूचड़खाने को बंद करा दिया गया। बहन-बेटियों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया गया।

राष्ट्रधर्म को रखना होगा सर्वोपरि
मुख्यमंत्री ने कहा कि, राष्ट्रधर्म सबसे पहला धर्म होना चाहिए। अगर देश की सुरक्षा पर कोई आंच आई, तो हम सब सुरक्षित नहीं होंगे। इसलिए हमें राष्ट्रधर्म को सर्वोपरि रखना होगा।

प्रदेश में पहले था गुंडाराज अब विकास की बात: योगी आदित्यनाथ
ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क स्थित इंडिया एक्सपो सेंटर और मार्ट आए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के एनसीआर क्षेत्र में अब विकास की बात होती है। पहले जहां गुंडाराज था, वहां अब निर्यात और निवेश का माहौल है। मुख्यमंत्री एक निजी कार्यक्रम में आए थे। एनसीआर विषय पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा की जेवर में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से पूरे प्रदेश ही नहीं अन्य प्रदेशों को भी लाभ होगा। वहीं यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में फिल्म सिटी का फायदा उत्तर भारत तक होगा। इससे रोजगार और विकास के नए आयाम बनेंगे।

इकलौता प्रदेश जहां अधिक संख्या में एक्सप्रेसवे कम समय में बने
मुख्यमंत्री ने कहा कि, प्रदेश में आठ एक्सप्रेस वे का निर्माण चल रहा है। यह इकलौता प्रदेश है जहां इतनी अधिक संख्या में एक्सप्रेस वे का निर्माण कम समय में हुआ। भाजपा सरकार आने से पहले केवल दो स्थानों पर प्रदेश में मेट्रो थी। अब छह स्थानों में मेट्रो दौड़ेगी। उन्होंने अपने साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में किए गए कार्यों का भी लेखा जोखा दिया। उन्होंने कहा कि पहले उद्योगों के इज ऑफ डूइंग बिजनेस में प्रदेश देश में 23वें नम्बर पर आता था। अब यह दूसरे स्थान पर पहुंच गया है।

कोरोना काल में भी नोएडा-ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण लाए सबसे अधिक निवेश
मुख्यमंत्री ने कहा, कोरोना काल में नोएडा-ग्रेटर नोएडा और यमुना प्राधिकरण ही देश में सबसे अधिक निवेश लाने वाले प्राधिकरण या क्षेत्र रहे। कार्यक्रम में उन्होंने उद्यमियों, किसानों, शिक्षाविदों और चिकित्सकों के प्रश्नों के भी उत्तर दिए।

मूर्ति के नीचे लगी पट्टिका से मिटाया गुर्जर शब्द
मूर्ति के नीचे लगी पट्टिका पर गुर्जर शब्द किसी ने मिटा दिया था। इस बात के सामने आते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया और आनन-फानन दोबारा उसे लिखवाया गया। वहीं दादरी में आज सुबह भी सैनिटाइजेशन का काम निगम ने किया। दूसरी ओर सुबह से हो रही बारिश के चलते कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे लोग अपने को वहां रखी कुर्सियों से बचा रहे हैं।

किसान भी कर रहे प्रदर्शन 
मुआवजे को लेकर ग्रेटर नोएडा के किसानों ने भी मंगलवार को विरोध प्रदर्शन किया। मंगलवार को प्रदर्शन के दौरान किसानों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज ग्रेटर नोएडा के दौरे पर हैं, ऐसे में पुलिस किसी भी तरह व्यवस्था को बनाए रखना चाहती है।
... और पढ़ें
ग्रेटर नोएडा में सीएम योगी ग्रेटर नोएडा में सीएम योगी

हापुड़ में सीएम योगी: मुख्यमंत्री ने कहा- पीएम मोदी ने जो कहा वो करके दिखाया, यूपी से हो रहा सबसे ज्यादा एक्सपोर्ट

हापुड़ के धौलाना में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रस्तावित जनसभा के लिए वह यहां करीब 1.30 बजे पहुंचे हैं। इससे पहले बारिश ने जिला प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा दी थीं। जनसभा स्थल पर जलभराव था, हालांकि जिला प्रशासन ने करीब पांच सौ मजदूरों को पानी निकालने के लिए लगाया गया था। फिलहाल जनसभा से पहले पानी को काफी हद तक निकाल दिया गया है। उधर जनसभा में हिस्सा लेने के लिए लोगों की भीड़ मौके पर पहुंची है। यहां मुख्यमंत्री ने जनपद हापुड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास एवं लोक-कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण-पत्र वितरित किया और उसके बाद जनता को संबोधित किया।

पढ़िए उनके भाषण का प्रमुख अंश...
मुख्यमंत्री ने कोरोना काल में यूपी सरकार ने जिस तरह काम किया उसके बारे में बात करते हुए कहा, कोरोना सदी की सबसे बड़ी महामारी है इसलिए इसमें हर जरूरी सुरक्षा उपाय करना जरूरी है। यूपी ने जिस तरह कोरोना काल में इस बीमारी से लड़ाई की उससे यह यूपी मॉडल के रूप में विकसित हुआ है। 2017 से पहले घरों के अंदर से एक ही आवाज आती थी कि क्या हमारी बहन बेटियां सुरक्षित हो पाई हैं। लेकिन आपने साढ़े चार वर्ष के अंदर देखा होगा कि हमने जो वादा किया था यूपी को दंगा मुक्त बनाने का वह पूरा किया है। हमने पहले ही दिन कह दिया था कि दंगा करना छोड़ दो वरना इतना हर्जाना भरना पड़ेगा कि कई पीढ़ियां निकल जाएंगी।

पीएम मोदी ने जो कहा वो कर दिखाया
सीएम योगी ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने जो कहा वो कर दिखाया। कश्मीर में आतंकवाद की जननी धारा 370 खत्म की। अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर बन रहा है। यूपी में 3 लाख करोड़ का निवेश हुआ और रोजगार मिले। पीएम मोदी ने 2014 में देश का राजनीतिक एजेंडा बदल दिया। यूपी भी उसी राह पर बढ़ रहा है। कुछ लोग देश में तालिबान के समर्थक हैं, इनसे सचेत रहने की जरूरत है।

कांवड़ियों को लेकर उन्होंने कहा कि एक शिवभक्त कभी अनुशासनहीन नहीं हो सकता। इसीलिए हमने उन्हें भी सुविधा उपलब्ध कराई। आस्था भारत की सबसे बड़ी ताकत है। आज यूपी में हर पूजा जैसे दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली मनाने में कोई बाधा नहीं आती। हर कोई शांतिपूर्ण तरीके से अपने त्योहार मनाए। भारतीय जनता पार्टी ने आपको ये सुरक्षित माहौल दिया है।

राष्ट्रधर्म को रखना होगा सर्वोपरि
मुख्यमंत्री ने कहा कि, राष्ट्रधर्म सबसे पहला धर्म होना चाहिए। अगर देश की सुरक्षा पर कोई आंच आई, तो हम सब सुरक्षित नहीं होंगे। इसलिए हमें राष्ट्रधर्म को सर्वोपरि रखना होगा। राष्ट्र सुरक्षित होगा तो दुनिया की कोई शक्ति हमारी तरफ आंख नहीं उठा पाएगी। महापुरुष सबके होते हैं इन्हें किसी एक का नहीं कहा जा सकता।

हापुड़ के कपड़ा उद्योग का है खास स्थान
हापुड़ का कपड़ा उद्योग पूरे देश के अंदर अपना स्थान रखता है। भारत का शायद ही कोई ऐसा घर होगा जिसमें हापुड़ के पापड़ का स्वाद नहीं लिया जाता होगा। उत्तर प्रदेश ‘एक जिला-एक उत्पाद’ के माध्यम से जिले को पहचान के साथ-साथ लोगों को स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध करवा रहे हैं। यह सभी काम स्थानीय स्तर पर हमारी माताएं-बहनें करती हैं। यह उन्हें स्वावलंबी बनाती हैं। यूपी में सबसे ज्यादा एक्सपोर्ट हो रहा है जो लोगों के लिए कौतूहल का विषय बना हुआ है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, प्रदेश में आठ एक्सप्रेस वे का निर्माण चल रहा है। यह इकलौता प्रदेश है जहां इतनी अधिक संख्या में एक्सप्रेस वे का निर्माण कम समय में हुआ। भाजपा सरकार आने से पहले केवल दो स्थानों पर प्रदेश में मेट्रो थी। अब छह स्थानों में मेट्रो दौड़ेगी। उन्होंने अपने साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में किए गए कार्यों का भी लेखा जोखा दिया। उन्होंने कहा कि पहले उद्योगों के इज ऑफ डूइंग बिजनेस में प्रदेश देश में 23वें नम्बर पर आता था। अब यह दूसरे स्थान पर पहुंच गया है।
... और पढ़ें

नोएडा: विवादों के बीच आज सीएम योगी करेंगे मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण, करणी सेना ने दी विरोध की चेतावनी

सम्राट मिहिर भोज के वंशज होने का राजपूत और गुर्जरों के बीच बना गतिरोध मंगलवार को भी नहीं थमा। ऐसे में विवादों के बीच आज मुख्यमंत्री प्रतिमा का अनावरण करेंगे। मंगलवार को अखिल भारतीय गुर्जर महासभा ने प्रेसवार्ता की तो करणी सेना के कार्यकर्ता घोड़ी गांव में पंचायत करने पहुंच गए। दोनों पक्षों ने अपने-अपने पक्ष में दावे किए और दूसरे के दावों को खारिज किया। 

करणी सेना ने प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम का विरोध करने की चेतावनी दी है। कार्यकर्ता पुलिस को चकमा देकर घोड़ी गांव में भी पहुंच गए। इस दौरान पुलिस से नोकझोंक भी हुई। करणी सेना की बैठक के कारण सुबह से ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। घोड़ी गांव में करणी सेना के प्रदेश सचिव सचिन चौहान के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता प्राइमरी स्कूल के सभा स्थल पर पहुंचे तो पुलिस ने कार्यकर्ताओं को घुसने नहीं दिया। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने सड़क पर ही बैठकर नारेबाजी शुरू कर दी। कार्यकर्ताओं ने गांव के मुख्य गेट पर सभा भी की।

मुख्यमंत्री के दादरी आगमन का विरोध करने की दी चेतावनी
करणी सेना के प्रदेश सचिव चौहान ने कहा कि सम्राट मिहिर भोज प्रतिहार थे। हमारे क्षत्रिय महापुरुष को गुर्जर अपना बनाने चाहते हैं। करणी सेना ऐसा नहीं होने देगी। राजपूतों की आवाज को दबाने वालों को सबक सिखाया जाएगा। राज्य सरकार को इसका खामियाजा उठाना पड़ेगा। करणी सेना के अध्यक्ष को प्रशासन ने नजरबंद कर दिया है। प्रशासन के तानाशाही रवैये को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। राजनीतिक दलों की सभाओं के लिए रोकथाम नहीं है और करणी सेना आवाज को बुलंद कर रही है तो प्रशासन कोरोना का पाठ पढ़ा रहा है। 

मुख्यमंत्री के दादरी आगमन का विरोध किया जाएगा। सभा स्थल पर पहुंचकर विरोध करने की रणनीति तैयार की गई है। अगर प्रदेश अध्यक्ष करण ठाकुर को पुलिस ने नहीं छोड़ा तो राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में करणी सेना के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर जाएंगे। करण ठाकुर को पुलिस ने एच्छर पुलिस चौकी पर नजरबंद किया हुआ है। 
... और पढ़ें

ग्रेनो: मुठभेड़ में नौ बदमाश गिरफ्तार, गोली लगने से दो घायल, निर्माणाधीन साइट से चुराते थे लोहे के सामान, अवैध हथियार बरामद

ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क थाने की पुलिस और बदमाशों के बीच सोमवार को मुठभेड़ हो गई। मुठभेड में गोली लगने से दो बदमाश घायल हो गए। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। काबिंग के दौरान सात अन्य बदमाशों को गिरफ्तार किया गया। वहीं, तीन मौके से फरार हो गए। बदमाशों के कब्जे से अवैध हथियार व लोडिंग गाड़ी बरामद की गई है। 

तीन बदमाश मौके से फरार
पुलिस और बदमाशों के बीच 20 सितंबर को हिंडन पुस्ते के पास हुई मुठभेड़ में दो बदमाशों को घायल अवस्था में गिरफ्तार किया गया। घायलों को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कांबिग के दौरान सात अन्य बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। उनके कब्जे से चार तमंचा, 315 बोर पांच जिंदा कारतूस, 315 बोर खोखा कारतूस, पांच चाकू, फैक्टरियों में लोहा काटने के उपकरण बरामद किए गए हैं। वहीं तीन बदमाश मौके से फरार हो गए। 

यह भी पढ़ें- 
दिल्ली: सिविल डिफेंस वॉलंटियर और सोनार गिरफ्तार, नेब सराय में सड़क पर चल रही महिला से छीनी थी सोने की चेन

शातिर चोर हैं बदमाश 
पुलिस के मुताबिक, पकड़े गए और फरार बदमाश शातिर चोर हैं, जो बंद पड़े व निर्माणाधीन रेलवे कॉरिडोर से लोहे के सामान चोरी करते थे। दिन में फैक्टरियों व निर्माणाधीन रेलवे पुलों की रेकी कर रात में चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे। बदमाशों के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

यह भी पढ़ें- दिल्ली-एनसीआर: जाते-जाते मानसून ने लोगों को भिगोया, कई इलाकों में झमाझम बारिश, रविवार तक येलो अलर्ट जारी

गिरफ्तार बदमाशों का विवरण
1. अनुज पुत्र कमलेश निवासी बाउपुरी थाना पटियाली (घायल) कासगंज हाल निवासी हबीबपुर थाना बिसरख गौतमबुद्धनगर
2. फिरोज खान पुत्र इस्लाम खान निवासी नाई का तालाब कठैरा रोड कस्बा व थाना दादरी 
3. सुधीर पुत्र ऋषिपाल यादव निवासी खजुआ थाना पटियाली कासगंज
4. आकाश पुत्र जयराम सिंह निवासी खदरी थाना पचदेवरा हरदोई
5. माधव सिंह पुत्र शिवपाल सिंह निवासी बिचौला थाना सिढ़पुरा कासगंज
6. नरेंद्र पुत्र विशम्भर पांचाल निवासी पट्टी एहरान थाना खेखडा बागपत
7. सतेंद्र पुत्र लाखन सिंह निवासी उनर पुर थाना मीरापुर फर्रुखाबाद
8. उमेश पुत्र रामबिलास निवासी कैलठा थाना अलीगंज एटा
9. दूरबीन सिंह पुत्र विशुन दयाल निवासी सुजात पुर थाना कम्पिल फर्रुखाबाद

फरार बदमाशों का विवरण
1. गुड्डू पुत्र पप्पू यादव निवासी बाउरी थाना पटियाली कासगंज
2. शैलेन्द्र पुत्र रेवारी यादव निवासी भूरी नंगला थाना पटियाली एटा
3. सनित नामालूम
... और पढ़ें

दिल्ली-एनसीआर: जाते-जाते मानसून ने लोगों को भिगोया, कई इलाकों में झमाझम बारिश, रविवार तक येलो अलर्ट जारी

मुठभेड़ में दो बदमाशों को लगी गोली।
दिल्ली-एनसीआर में मंगलवार दोपहर मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। कई इलाकों में झमाझम बारिश हो रही है। मौसम सुहाना होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। 

विदाई की ओर मानसून
पिछले कई दिनों से बादलों की आंख मिचौली चल रही थी। मंगवार दोपहर अचानक मौसम ने करवट ली और झमाझम बारिश हुई। गर्मी से परेशान लोगों ने राहत की सांस ली। बता दें कि दिल्ली-एनसीआर से मानसून विदाई की ओर है। जाते-जाते लोगों को बारिश ने भिगो दिया। 

मौसम विभाग ने लगाया था अनुमान
मौसम विभाग ने मंगलवार को बारिश होने की संभावन जताई थी। बुधवार से तापमान में गिरावट होने लगी थी। सप्ताह का अंत आते-आते अधिकतम तापमान 31 डिग्री तक पहुंच जाएगा जबकि न्यूनतम तापमान के 25 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है। 

21 से 26 सितंबर तक येलो अलर्ट
बीते सप्ताह से दिल्ली में बारिश पर ब्रेक लगा हुआ था। आसमान में तेज धूप निकल रही थी। उमस से लोग परेशान हो रहे थे। मानसून ने जाते-जाते लोगों को भिगो दिया। मौसम विभाग ने 21 से 26 सितंबर तक येलो अलर्ट भी जारी किया है। 
... और पढ़ें

दिल्ली: कालकाजी में दोहरे हत्याकांड से सनसनी, उज्बेकिस्तान की एक महिला व उसके बेटे की हत्या

कालकाजी इलाके में किर्गिस्तान की गर्भवती महिला मिस्कल जुमाबेवा(28) और उसके 13 महीने के मासूम बेटे मानस की चाकू से गोदकर हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। दोनों के ऊपर चाकू से छाती पर वार किए गए हैं। दोनों को चार से पांच बार चाकू से वार किए गए हैं।  दोनों के शव बैड पर पड़े हुए थे। दक्षिण-पूर्व जिला डीसीपी आरपी मीणा का कहना है कि शुरूआती जांच के बाद कुछ नहीं कहा जा सकता। पोस्टमार्टम के बाद ही ये स्पष्ट हो पाएगा कि दोनों की कैसे मौत हुई है। 

दक्षिण-पूर्व जिला डीसीपी आरपी मीणा के अनुसार किर्गिस्तान निवासी मिस्कल जुमाबेवा की के-22बी , मजिस्द मोठ ग्रेटर कैलाश-दो में रहने वाले विनय कुमार से वर्ष 2018 में शादी हुई थी। मिस्कल गर्भवती थी। गर्भवती होने के कारण मिस्कल को दर्द हो रहा था। अस्पताल जाने को लेकर उसका पति से सोमवार रात को झगड़ा हो गया था।

बताया जा रहा है कि पति ने पेट में लात मार दी थी। इसके बाद विनय घर छोड़कर अपने दोस्त वाहिद के घर चला गया था। मिस्कल ने फोन कर अपने उज्बेकिस्तानी मूल की महिला दोस्त मतलुबा मदुस्मोनोवा को फोन कर अपने घर बुला लिया। मतलुबा और उसका दोस्त अविनीश उसे शुभम अस्पताल ले गए। यहां डॉक्टर ने उसे इंजेक्शन लगा दिया था। इसके बाद मतलुबा उसे अपने घर ले आई। 

बताया जा रहा है कि मतलुबा, अविनीश और दोस्त के साथ रात को अलग कमरे में सो गए थे। मिस्कल बेटे के साथ अलग कमरे में सो गई थी। मतलुबा व अविनीश ने बताया कि सुबह नौ बजे जब मिस्कल के कमरे का दरवाजा खोला तो वह अंदर से बंद था। धक्का देकर गेट खोला गया।  मिस्कल व मानस दोनों मृत पड़े हुए थे। उन्होंने इसकी सूचना विनय को दी। विनय ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्स में रखवा दिया है। पुलिस को मौके से रसोई में इस्तेमाल किए जाने वाला चाकू बरामद किया है। 
... और पढ़ें

शर्मनाक: वेतन मांगने गए युवक की पत्नी के पेट में मारी लात, गर्भ में पल रहे तीन महीने के भ्रूण की मौत

गुरुग्राम के बिलासपुर में एक निजी कंपनी में नौकरी से हटाए जाने के बाद अपनी पत्नी के साथ सैलरी मांगने गए युवक से एक महिला व एक पुरुष ने मिलकर उनके साथ मारपीट की और जातिसूचक शब्द कहे। इस दौरान उन्होंने बेरहमी से पीड़ित की पत्नी के पेट में लात मार दी। इससे पत्नी के गर्भ में पल रहे तीन माह के भ्रूण की मौत हो गई। बिलासपुर थाना पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज की है।

पीड़ित अपनी पत्नी के साथ कंपनी पहुंचा था और सैलरी के रुपये मांग रहा था। आरोप है कि पीड़ित के 17 हजार रुपये बनते थे, जबकि उसे 15 ही दिए जा रहे थे। विरोध जताया तो जातिसूचक शब्द कहते हुए आरोपियों ने उनके साथ मारपीट करना शुरू कर दिया। इस दौरान पीड़ित की पत्नी के पेट में लात भी मारी, जिससे उसकी वहीं पर तबियत खराब हो गई। 

महिला को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने बताया कि गर्भ में पल रहे तीन महीने के भ्रूण की मौत हो गई। मामला बढ़ता देख दोनों पक्षों में समझौते की बात चली, लेकिन फिर बात न बन पाने पर पुलिस को शिकायत दी गई। 

बिलासपुर थाना एसएचओ इंस्पेक्टर नवीन ने बताया कि मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। जांच की जा रही है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये वारदात कई दिन पुरानी है। अब तक दोनों पक्षों में समझौते को लेकर बातचीत चल रही थी। 

समझौता न हो पाने पर शिकायत पुलिस को दी गई है। मामले में शिकायतकर्ता राजस्थान अलवर का मूल निवासी है। वो बिलासपुर स्थित बीकेजी कंपनी में काफी समय से नौकरी करता था, लेकिन कुछ समय पहले उसे नौकरी से हटा दिया गया।
... और पढ़ें

दिल्ली दंगा मामला: मां ने वापस ली ड्रग एडिक्ट बेटे की जमानत, कहा- वह मेरे नियंत्रण में नहीं

अदालत ने दिल्ली दंगों के मामले में एक आरोपी की जमानत रद्द कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया। दरअसल आरोपी की जमानत देने वाली उसकी मां ने कहा कि वह उसकी जमानत कायम नहीं रखना चाहती क्योंकि वह एक ड्रग एडिक्ट है और उसके नियंत्रण में नहीं है।

कड़कड़डूमा अदालत के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विनोद यादव ने आरोपी की मां को समझाने की कोशिश की ताकि आरोपी दीपक को सुधरने का मौका दिया जा सके, लेकिन वह अपने तर्क पर कायम रहीं और अपनी जमानत वापस लेने की मांग की।

अदालत ने कहा कि आरोपी को सुधरने का मौका दिया जाना चाहिए और वह उसकी मां ही कर सकती है। आरोपी की मां ने कहा कि उसका बेटा उसकी नहीं सुनता और वह उसकी जमानत को कायम नहीं रख सकती। अदालत ने सभी तथ्यों को देखने के बाद आरोपी को हिरासत में लेने का निर्देश देते हुए न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

वहीं अदालत ने सुनवाई के दौरान पाया कि पूरी न्यायिक और पुलिस फाइल जर्जर हालत में है और दस्तावेज काफी फटे हुए हैं। अदालत ने गोकुल पुरी एसएचओ व जांच अधिकारी से पुलिस स्टेशन गोकुलपुरी और आईओ से कुछ सवाल पूछे, जिनका उनके पास कोई जवाब नहीं था। 

अदालत ने कहा चूंकि विशेष लोक अभियोजक आज उपलब्ध नहीं है, इस संबंध में पूछताछ पर कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। अदालत ने इस मुद्दे पर सुनवाई स्थगित कर दी।
... और पढ़ें

प्रदूषण से निपटने की तैयारी: दिल्ली सरकार तैयार कर रही है एक्शन प्लान, 24 से बायो डि-कंपोजर घोल बनाने की प्रक्रिया होगी शुरू

पिछले साल की तरह इस बार भी इच्छुक किसानों के खेत में बायो डि-कंपोजर का नि:शुल्क छिड़काव दिल्ली सरकार करेगी। पराली से प्रदूषण नहीं फैले इसे लेकर सरकार अभी से ही सर्तक हो गई है। पिछले साल पांच अक्तूबर से घोल बनाने की प्रक्रिया शुरू हुई थी, जबकि इस साल पांच अक्तूबर तक घोल तैयार कर लिया जाएगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस मुहिम के तहत 24 सितंबर को बायो डि-कंपोजर का घोल बनाने की प्रक्रिया की शुरूआत करेंगे। 

दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा है कि भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, पूसा के सहयोग से खरखरी नहर में यह घोल तैयार किया जाएगा। मीडिया से बातचीत में यह भी बताया कि थर्ड पार्टी ऑडिट की रिपोर्ट से किसान बहुत उत्साहित हैं। किसान गैर बासमती धान वाले खेतों में भी छिड़काव की मांग कर रहे है। लिहाजा इस साल 2 हजार एकड़ की जगह 4 हजार एकड़ खेत के लिए घोल तैयार किया जाएगा। दिल्ली सरकार 50 लाख रुपये इस अभियान में खर्च करेगी। 

उन्होंने केंद्र सरकार से पराली और बायो डि-कंपोजर के मुद्दे पर जल्द निर्णय लेने की मांग की, ताकि समय रहते सभी राज्यों में बायो डि-कंपोजर का छिड़काव किया जा सके। उन्होंने केंद्र से अपील की कि इसे इमरजेंसी मानते हुए जल्द कार्रवाई की जाए, ताकि दिल्ली समेत उत्तर भारत के लोगों को पराली की समस्या से निजात मिल सके।

पड़ोसी राज्यों में जलने वाली पराली का प्रदूषण बढ़ाने में भूमिका: गोपाल राय
गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के अंदर प्रदूषण की समस्या के समाधान के लिए सरकार लगातार विभागों के साथ बैठक कर रही है। सभी विभाग अपने विंटर एक्शन प्लान बना रहे हैं, जिसे 30 सितंबर तक तैयार कर लिया जाएगा। विचार विमर्श के बाद इसे मुख्यमंत्री घोषित करेंगे। 

राय ने कहा कि प्रदूषण को बढ़ाने में पराली की एक अहम भूमिका होती है। जब दिल्ली के चारों तरफ पड़ोसी राज्यों में पराली जलनी शुरू होती है, तो उसके धुएं की चादर पूरी दिल्ली को घेर लेती है। इसका प्रभाव पूरे उत्तर भारत के अंदर होता है और प्रदूषण का असर कई गुना ज्यादा घातक हो जाता है। पराली की समस्या से निपटने के लिए कई कानून बनाए गए, कई किसानों पर मुकदमे चले और जुर्माना लगाया गया, लेकिन उससे पराली का समाधान नहीं निकला।

केंद्र सरकार की एजेंसी ने भी बायो डि-कंपोजर को सही माना: गोपाल राय
राय ने कहा कि पिछले साल दिल्ली सरकार ने पूसा इंस्टीट्यूट के कृषि वैज्ञानिकों के साथ मिलकर पराली पर बायो डि-कंपोजर का प्रयोग किया। वैसे तो दिल्ली के अंदर पराली कम पैदा होती है। फिर भी दिल्ली सरकार ने प्रयोग के तौर पर किसानों के खेतों में बायो डि-कंपोजर का छिड़काव किया और उसका काफी सकारात्मक परिणाम आया है। पराली पर बायो डि-कंपोजर के प्रभाव की पूरी रिपोर्ट केंद्रीय एयर क्वालिटी मैनेजमेंट कमीशन के सामने प्रस्तुत की थी। कमीशन ने कहा कि आप इसकी थर्ड पार्टी ऑडिट कराइए। ऑडिट भी कराया और उसने भी तमाम पहलुओं पर रिपोर्ट दी कि बायो डि-कंपोजर का पराली पर सकारात्मक असर हुआ है। गेहूं की बुवाई में देर न हो इसके लिए इसका छिड़काव जल्दी किया जाएगा। 29 सितंबर तक घोल की मात्रा को दोगुना कर लेंगे और 5 अक्टूबर तक छिड़काव के लिए घोल बनकर तैयार हो जाएगा। 25 सदस्यीय तैयारी समिति गांवों में जाकर घोल का छिड़काव करवाने के इच्छुक किसानों से फार्म भरवा रही है। पूसा इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों और कृषि विभाग के अधिकारियों की संयुक्त निगरानी में छिड़काव किया जाएगा। 

जाने कैसे तैयार होता है बायो डि कंपोजर
एक एकड़ खेत के लिए घोल बनाने के लिए पूसा इंस्टीट्यूट में निर्मित 4 कैप्सूल की जरूरत होती है। इसके अलावा 250 ग्राम गुड़ और 150 ग्राम बेसन मिलाया जाता है। इसके बाद इस घोल को पकाया जाता है। पकाने के बाद पांच दिन तक के लिए इसे भंडार किया जाता है। फिर उस घोल को दोगुना बनाया जाता है। पिछली बार की अपेक्षा इस बार 10 दिन पहले हम इस पूरी प्रक्रिया को शुरू की जा रही है। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X