विज्ञापन
विज्ञापन
शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021
Myjyotish

शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हरियाणा: प्रदेश में डीएपी खाद की किल्लत, अगेती सरसों और आलू की बिजाई में आ रही परेशानी

हरियाणा में डीएपी खाद की किल्लत के चलते किसानों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। गांवों में स्थित सहकारी समितियों में खाद आपूर्ति नहीं होने के कारण किसानों को दूसरे जिलों में खाद के लिए जाना पड़ रहा है। कई जिलों में तो खाद के लिए अभी से लंबी-लंबी लाइनें लगने लगी हैं। खासकर हिसार, भिवानी, महेंद्रगढ़, पलवल आदि सरसों के इलाके में किसानों ने बिजाई शुरू कर दी है, लेकिन उनको डीएपी खाद नहीं मिल रही है।

इसी प्रकार, अंबाला, करनाल, पानीपत के इलाकों में आलू की बिजाई के लिए किसानों को डीएपी की जरूरत है। सरकार का दावा है कि खाद की कमी नहीं है, बल्कि इसे जानबूझकर कमी दिखाने की कोशिश है, लेकिन जमीनी हकीकत ये है कि किसानों को खाद नहीं मिल रही है। 

प्रदेश में गेहूं के सीजन में 3 लाख मीट्रिक टन डीएपी की जरूरत होती है। इस समय स्टॉक के मुताबिक 40 हजार मीट्रिक टन डीएपी उपलब्ध है। प्रदेश में करीब 7 लाख हेक्टेयर में सरसों की बिजाई होती है। इसके लिए डीएपी चाहिए होता है, वहीं गेहूं सीजन में यूरिया की जरूरत होती है। रिकॉर्ड के अनुसार, प्रति सीजन 11 लाख मीट्रिक टन यूरिया की जरूरत होती है। अक्तूबर के अंत में गेहूं की बिजाई शुरू होनी है। विभाग अब डीएपी के साथ साथ यूरिया का स्टॉक भी जुटा रहा है। 

यह भी पढ़ें: 
कुंडली बॉर्डर हत्याकांड: निहंग भगवंत सिंह और गोविंद प्रीत का आत्मसमर्पण, अरदास कर खुद को किया पुलिस के हवाले

रॉ मटीरियल के रेट बढ़े, उत्पादन घटा
अंतरराष्ट्रीय बाजार में डीएपी के रॉ मटीरियल के दाम अधिक बढ़ गए हैं। इस कारण खाद कंपनियों में डीएपी का उत्पादन पहले के मुकाबले घटा है। क्योंकि भारत में 70 प्रतिशत तक रॉ मटीरियल विदेशों से आता है। इस कारण इस बार खाद की कुछ कमी सामने आ रही है। हैफेड के राज्य विपणन अधिकारी डाॅ. पुष्पेंद्र वर्मा ने कहा कि मांग के अनुसार खाद सप्लाई किया जा रहा है। पहले सरसों और आलू बिजाई वाले इलाकों में रैक भेजे जा रहे हैं। 
... और पढ़ें
खाद-सांकेतिक खाद-सांकेतिक

किसान आंदोलन: 18 को 6 घंटे तक रोकेंगे ट्रेनें, 26 को लखनऊ में महारैली, एसकेएम ने किया एलान

संयुक्त किसान मोर्चा ने 18 अक्तूबर को देशभर में रेल रोको और 26 अक्तूबर को लखनऊ महारैली के अपने पूर्व घोषित कार्यक्रमों का एलान किया है। इसके तहत 18 अक्तूबर को देशभर में सुबह 10 से शाम 4 बजे तक रेल-पटरियों पर धरना प्रदर्शन कर ट्रेन रोकी जाएंगी।

वहीं 26 अक्तूबर को सभी किसान संगठनों से लखनऊ पहुंचने का आह्वान किया गया है। किसान जत्थेबंदी के महासचिव सुखदेव सिंह कोकरीकलां ने बताया कि शुक्रवार को तीनों खेती कानूनों, बिजली संशोधन बिल और पराली जलाने संबंधी अध्यादेशों के खिलाफ पंजाब में 17 जिलों में 68 स्थानों पर केंद्र सरकार और कारपोरेट घरानों के पुतले जलाए गए। 

यह भी पढ़ें: 
सुपर-100 कार्यक्रम का असर: सरकारी स्कूलों के 26 बच्चों ने आईआईटी सीटों पर जमाया कब्जा, एससी वर्ग के 10 बच्चे शामिल

हत्यारे और मृतक से किसानों का संबंध नहीं : मोर्चा
उधर, संयुक्त किसान मोर्चा के नेता बलबीर सिंह राजेवाल, डॉ. दर्शनपाल, बूटा सिंह बुर्जगिल, सतनाम सिंह साहनी, हरिंदर सिंह लखोवाल, हरमीत सिंह कादियां, मेजर सिंह पुनावाला, बलदेव सिंह निहालगढ़, कुलदीप सिंह वजीदपुर ने कहा कि सिंघु बार्डर पर हुई घटना दुखदायी है, लेकिन संयुक्त किसान मोर्चा का हत्यारे और मृतक, दोनों से ही कोई संबंध नहीं है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार और भाजपा इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर किसान आंदोलन को बदनाम करना बंद करे।
... और पढ़ें

कुंडली बॉर्डर हत्याकांड: निहंग भगवंत सिंह और गोविंद प्रीत का आत्मसमर्पण, अरदास कर खुद को किया पुलिस के हवाले

सोनीपत के कुंडली बॉर्डर पर धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी के आरोप में लखबीर सिंह की हत्या के मामले में आरोपी दो निहंगों ने शनिवार रात साढ़े नौ बजे कुंडली थाना में आत्मसमर्पण कर दिया। कुंडली थाना प्रभारी रवि कुमार ने उनका आत्मसमर्पण कराया। दोनों आरोपियों को रविवार को अदालत में पेश किया जाएगा। आत्मसमर्पण से पहले साथी निहंगों ने दोनों को सरोपा पहनाकर सम्मानित किया। वहीं, इससे पहले शनिवार को ही पंजाब से एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है। 

कुंडली बॉर्डर पर आंदोलन स्थल के पास वीरवार रात को पंजाब के तरनतारन के गांव चीमा खुर्द के लखबीर सिंह की हत्या कर दी गई थी। हत्या की जिम्मेदारी निहंगों ने ली थी। लखबीर पर धार्मिक ग्रंथ से बेअदबी करने का आरोप था। व्यक्ति की बेरहमी से हत्या करने और बेरिकेड पर लटकाने का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी थी। अब तक पंजाब और हरियाणा पुलिस द्वारा चार आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें: 
कुंडली बॉर्डर हत्याकांड: हरियाणा पुलिस ने दो और निहंगों को किया गिरफ्तार, अब तक चार आरोपी हो चुके अरेस्ट

मामले में एडीजीपी संदीप खिरवार, डीसी ललित सिवाच और एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा खुद पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। मामले में शुक्रवार शाम को निहंग सर्बजीत सिंह ने पुलिस टीम के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था। उसे रिमांड पर लिया गया है। शनिवार को पंजाब पुलिस की ओर से आरोपी नारायण सिंह को अमृतसर जिले के जंडियाला गुरु के पास अमरकोट गांव से गिरफ्तार किया गया।

शनिवार रात को मामले में दो और निहंगों ने कुंडली थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रवि कुमार के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। जिसमें निहंग भगवंत सिंह व गोविंद प्रीत शामिल है। इससे पहले साथी निहंगों ने दोनों को सरोपा पहनाया और धार्मिक नारे लगाए। दोनों ने गुरु ग्रंथ साहिब के सामने मत्था टेककर अरदास की। इस दौरान पुलिस बल वहीं खड़ा रहा। एचएचओ रवि कुमार की टीम ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।
... और पढ़ें

सुपर-100 कार्यक्रम का असर: सरकारी स्कूलों के 26 बच्चों ने आईआईटी सीटों पर जमाया कब्जा, एससी वर्ग के 10 बच्चे शामिल

हरियाणा के सरकारी स्कूलों के 26 विद्यार्थियों ने इस साल जेईई एडवांस परीक्षा पास कर आईआईटी सीटों पर कब्जा जमाया है। इनमें एससी वर्ग के 10 बच्चे शामिल हैं। 2018 में शुरू विशेष कार्यक्रम सुपर-100 फिर असरदार साबित हुआ है। विद्यार्थियों के आईआईटी में दाखिले के लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने संरक्षक की व्यवस्था भी की है।

सुपर-100 के 2019-21 सत्र में विज्ञान संकाय में रेवाड़ी व पंचकूला केंद्रों में 119 विद्यार्थियों ने प्रशिक्षण पूरा किया। जेईई (मेन) परीक्षा के दौरान 54 विद्यार्थियों ने एडवांस टेस्ट के लिए क्वालीफाई किया। जिनमें से जेईई एडवांस की परीक्षा पास कर 26 विद्यार्थियों ने अपनी सीट पक्की की है। अंबाला के सुशील कुमार की एससी श्रेणी में ऑल इंडिया रैंक 192 है। ओबीसी वर्ग के 8 विद्यार्थियों ने सफलता प्राप्त की है। सामान्य श्रेणी के 8 विद्यार्थी चयनित हुए हैं।

यह भी पढ़ें:
 कुंडली बॉर्डर हत्याकांड: निहंग भगवंत सिंह और गोविंद प्रीत का आत्मसमर्पण, अरदास कर खुद को किया पुलिस के हवाले

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सुपर-100 कार्यक्रम की सफलता को देखते हुए बीते साल केंद्रों की संख्या चार कर दी थी। इसके सशक्तीकरण के लिए कक्षा 9वीं से ही प्रतिभावान बच्चों को जोड़ने के लिए बुनियाद कार्यक्रम शुरू किया है। इसके जरिये बच्चों को एनटीएसई, केवीपीवाई व अन्य छात्रवृत्तियों के साथ ही जेईई व नीट की परीक्षा की तैयारी भी करवाई जा रही है। जिला स्तर पर 22 केंद्र बनाये गए हैं। संरक्षक का कार्य चयनित बच्चों को प्रतिष्ठित संस्थानों में दाखिले से लेकर काउंसिलिंग फीस तक की सहायता प्रदान करवाना है।

शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि सुपर-100 कार्यक्रम में विद्यार्थियों के ठहरने, खाने-पीने, स्टेशनरी, ट्रांसपोर्ट, मोक टेस्ट आदि का खर्च सरकार वहन कर रही है। कोचिंग रेवाड़ी में विकल्प फाउंडेशन व पंचकूला में एसीई ट्यूटोरियल और एलन दे रहे हैं। एनडीए की प्रतियोगी परीक्षा व एसएसबी की तैयारी के लिए भी समुचित व्यवस्था की है। यह अब सरकारी स्कूलों के लड़के-लड़कियों के लिए उपलब्ध होगी।
... और पढ़ें

Punjab Haryana Weather alert: आज और कल कई जिलों में बारिश के आसार, 40-50 किमी की रफ्तार से चलेगी हवा

प्रतीकात्मक तस्वीर
पंजाब और हरियाणा में रविवार और सोमवार को बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। पंजाब, हरियाणा के कई जिलों के साथ चंडीगढ़ में भी 40-50 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चलेगी और गर्जन के साथ तेज बारिश की आशंका है। विभाग ने चेतावनी जारी की है कि खुले में जो फसल हैं, उन्हें तेज हवाओं से नुकसान पहुंच सकता है, इसलिए उन्हें ढक कर रखें।

17 अक्तूबर से बंगाल की खाड़ी में बनने वाले संभावित कम दबाव क्षेत्र से मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। इससे हवा व गरज-चमक के साथ शहर में 17 अक्तूबर की रात और 18 अक्तूबर को तेज बारिश हो सकती है। मानसून के लौटने के बाद यह पहली बारिश होगी।

यह भी पढ़ें: 
कुंडली बॉर्डर हत्याकांड: दूसरा आरोपी भी गिरफ्तार, सर्बजीत को सात दिन की रिमांड

मौसम विभाग के अनुसार कुछ स्थानों पर बारिश और हवा की वजह से जलभराव की समस्या, बिजली कट, पेड़ों के गिरने आदि की समस्या भी हो सकती है। इसलिए लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए। आगामी कुछ दिनों में रात के तापमान में और गिरावट आ सकती है जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी। 

पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ से इस बार मानसून 8 अक्तूबर को लौट चुका है। मानसून इस बार शहर में 13 दिन पहले आया था और 13 दिन बाद लौटा। मौसम विभाग के अनुसार औसतन 25 सितंबर को मानसून लौट जाता है लेकिन इस बार देरी हुई। 
... और पढ़ें

हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, निजी क्षेत्र की नौकरी में 75 फीसदी आरक्षण समेत हरियाणा की बड़ी खबरें

गुरुग्राम: खुले में नमाज पढ़ने का विरोध, भजन-कीर्तन करते हुए लोगों ने दर्ज कराई आपत्ति

  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00