लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

लेटे हनुमानजी प्रयागराज : मां गंगा ने बड़े हनुमानजी को कराया स्नान, भागीरथी और बजरंग बली के गूंजे जयकारे

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज Published by: विनोद सिंह Updated Fri, 19 Aug 2022 04:55 PM IST
Prayagraj News :  लेटे हनुमान मंदिर पहुंचने पर मां गंगा की आरती उतारते महंत बलवीर गिरि।
1 of 6
विज्ञापन
उफनाई गंगा की लहरों ने बृहस्पतिवार की रात संगम स्थित बड़े हनुमान का अभिषेक किया। गर्भगृह में मां गंगा के प्रवेश करने के साथ ही गगनभेदी जयकारे गूंजने लगे। महंत बलवीर गिरि ने पुजारियों,सेवादारों और भक्तों की मौजूदगी में मां गंगा का दुग्धाभिषेक करने के बाद सविधि आरती की।


इसी के साथ तटवर्ती इलाकों में बाढ़ ने दस्तक दे दी है। जिला प्रशासन ने 99 बाढ़ चौकियां स्थापित करते हुए राहत और बचाव कार्य के लिए सतर्क रहने का निर्देश जारी किया है। कोटा बैराज से पांच लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद गंगा-यमुना में उफान आ गया है। बृहस्पतिवार को फाफामऊ में गंगा सात सेंमी प्रतिघंटा और नैनी में यमुना चार सेंमी प्रति घंटा की रफ्तार से बढ़ती रहीं।
Prayagraj News :  लेटे हनुमान मंदिर पहुंचने पर मां गंगा की आरती उतारते महंत बलवीर गिरि।
2 of 6
रात करीब 11:30 बजे मां गंगा ने बड़े हनुमान को स्नान कराया। इसी साथ मां गंगा और बड़े हनुमान के जयकारे गूंजने लगे। महंत बलवीर गिरि ने बड़े हनुमान की को नया श्वेत वस्त्र धारण कराया। इसी के साथ मां गंगा का दुग्धाभिषेक कर सविधि पूजा, आरती की गई। उधर, बेली कछार के अलावा शिवकुटी, बघाड़ा और सलोरी में गंगा ने दस्तक दे दी है।


कहा जा रहा है कि जल स्तर इसी तरह बढ़ा तो कछारी इलाकों में घर बनाने वालों के सामने मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं। रामघाट,काली घाट डूब गया है। बाढ़ नियंत्रण कक्ष की ओर से जारी बुलेटिन के मुताबिक रात आठ बजे फाफामऊ में गंगा का जलस्तर 81.56 मीटर दर्ज किया गया। इसी तरह छतनाग में गंगा 80.81 मीटर और नैनी में यमुना का जलस्तर 81.47 मीटर रिकार्ड किया गया।
विज्ञापन
Prayagraj News :  लेटे हनुमान मंदिर में गंगा ने किया प्रवेश।
3 of 6
कछार में घरों की तरफ बढ़ा पानी, बढ़ी चिंता
गंगा और यमुना नदी के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी से कछार के निचले इलाकों में रहने वालों की चिंता बढ़ गई है। दोनों नदियों का पानी इन बस्तियों के कगार तक पहुंच गया है और जलस्तर में बढ़ोतरी नहीं थमी तो एक-दो दिनों में पानी घरों में घुस जाएगा। इस खतरे को देखते हुए लोगों ने तैयारी भी शुरू कर दी है।


बघाड़ा कछार में बसे बृजेश मौर्या के सामने बाढ़ का पानी पहुंच गया है। इसी रफ्तार से जल स्तर में बढ़ोतरी जारी रही तो शुक्रवार रात तक उनके सामने वाली सड़क डूब जाएगी। बृजेश की आटे की चक्की है। उनका कहना है कि  पानी बढ़ने पर चक्की खोलकर तथा अन्य सामान ऊपरी मंजिल पर ले जाएंगे।


बघाड़ा के ही रोशन सिंह ने घर का सामान प्रथम तल पर ले जाने की तैयारी कर ली है। उनका कहना है कि पिछले वर्ष कई घरों का एक मंजिल पूरी तरह से डूब गया था। ऊंचवागढ़ी में मुख्य मार्ग से गंगा का पानी काफी दूर है लेकिन लोगों की नजर वहां के नालों पर हर समय बनी हुई है। रिंकू यादव का कहना है कि नालों के डूबते ही तेजी से पानी बस्तियों में फैल जाता है।

ऊंचवागढ़ी के ही आशीष का कहना है कि बड़े हनुमानजी के नहाने के बाद यहां बाढ़ की आशंका बढ़ जाती है। इसलिए लोगों की इस पर भी नजर है कि हनुमानजी कब स्नान करते हैं। बाढ़ का यह खतरा सिर्फ बृजेश, रिंकू एवं रोशन पर नहीं मंडरा रहा, कछारी इलाके में फंसे हजारों परिवारों के सामने यह संकट है।
Prayagraj News :  लेटे हनुमान मंदिर में मां गंगा ने किया प्रवेश।
4 of 6
रात में सड़क संग डूब गई नाव, हटानी पड़ीं दुकानें
0 गंगा के जल स्तर में बढ़ोतरी के साथ संगम क्षेत्र में दुकानें भी बांध की तरफ बढ़ती जा रही हैं। ऐसे में दुकानें उजाड़ने एवं सामान हटाने का सिलसिला वहां लगातार जारी है। हनुमान मंदिर से संगम टावर के बीच तो दर्जनों दुकानें बाढ़ के पानी में डूब गई हैं।


किला घाट पर रात में जल स्तर में बढ़ोतरी के साथ एक नाव भी डूब गई। नाव पर रखा सामान हटाने की जद्दोजहद में जुटे नाविक अमन निषाद का कहना था कि उन्हें अनुमान नहीं था कि इतना जल्दी पानी आ जाएगा।


वहां कल्लू समेत कई अन्य लोगों की चूड़ी, माला आदि की दुकान थी। गंगा में पानी बढ़ने पर उन्होंने सड़क से सटे दुकानें लगा रखीं थीं लेकिन अब सड़क तक पानी पहुंच गया है। ऐसे में उन्हें दुकानें हटानी पड़ीं।
विज्ञापन
विज्ञापन
नPrayagraj News : तेजी से बढ़ रहा है गंगा यमुना का जलस्तर।
5 of 6
किला घाट से काली मार्ग तक हर जगह संगम स्नान
गंगा का जल स्तर पर बढ़ने से हनुमान मंदिर तथा आसपास के क्षेत्रों का पूरा नजारा ही बदल गया है। चूंकि मूल संगम स्थान पर तेज बहाव है। इसकी वजह से वहां कोई नहीं जा रहा। ऐसे में किला घाट से काली मार्ग तक हर जगह स्नान चालू है तो दुकानें भी सज गई हैं। ऐसे में पूरे क्षेत्र में संगम जैसा नजारा बन गया है।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00