विज्ञापन
विज्ञापन
शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021
Myjyotish

शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

विजयादशमी उत्सव :   बिछड़े भू-भाग देश की सीमा से फिर जुड़ेंगे, होगा अखंड भारत का निर्माण - आरएसएस

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह शारीरिक शिक्षण प्रमुख जगदीश ने अखंड भारत के संकल्प को फिर दोहराया। संघ की स्थापना दिवस के रूप में एंग्लो बंगाली इंटर कॉलेज परिसर में बृहस्पतिवार को आयोजित विजयदशमी उत्सव में उन्होंने कहा, बिछड़े भूभाग देश की सीमाओं से फिर जुड़ेंगे।

जगदीश ने कहा, श्रीराम मंदिर के निर्माण और धारा 370 समाप्त होने का भी किसी को विश्वास नहीं हो रहा था लेकिन आज यह संभव हो चुका है। देश की सेना तथा देशवासियों में पूर्ण विश्वास का उदय हुआ है। इसलिए एक बार फिर अखंड भारत का निर्माण होकर रहेगा। उन्होंने कहा कि आज हिंदुत्व का डंका पूरे विश्व में बज रहा है। हिंदुत्व से डरने वाले कुछ लोगों ने विश्व स्तर पर अमेरिका में एक ऑनलाइन सेमिनार आयोजित किया था लेकिन वहीं के लोगों ने इसका विरोध किया।
... और पढ़ें

इलाहाबाद विश्वविद्यालय : 16 शहरों के 48 केंद्रों में होगी ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा

इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) एवं संघटक महाविद्यालयों में सत्र 2021-22 के तहत प्रवेश लिए परीक्षा 18 अक्तूबर से शुरू होने जा रही है। पहले दिन बीएड, एमएड सहित पीजीएटी-2 और इंस्टीट्यूट ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज (आईपीएस) के तहत संचालित पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए केवल ऑनलाइन मोड में परीक्षा होगी। यह परीक्षा 16 शहरों के 48 केंद्रों में आयोजित की जाएगी।

इविवि प्रवेश प्रकोष्ठ के चेयरमैन प्रो. आशीष सक्सेना एवं निदेशक प्रो. आईआर सिद्दीकी के अनुसार सर्वाधिक 34 परीक्षा केंद्र उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में बनाए गए हैं। प्रयागराज में14, वाराणसी में आठ, आजमगढ़ में एक, गोरखपुर में चार, लखनऊ में चार, बरेली में एक और कानपुर में दो परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। वहीं, दिल्ली में एक, बिहार के पटना में छह, राजस्थान के जयपुर में एक, मध्य प्रदेश के भोपाल में एक, असम के गुवाहाटी में एक, पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक, कर्नाटक के बंगलुरू में एक, तेलंगाना प्रदेश के हैदाबाद में एक, और केरल के तिरुवनंतपुरम में एक परीक्षा केंद्र बनाया गया है।

प्रयागराज में नंद किशोर सिंह कंप्यूटर एकेडमी झूंसी, एआईआइटी एंड मैनेजमेंट कॉलेज झूंसी, विनायक आईटी कालेज फाफामऊ, विवेकानंद पब्लिक इंटर कालेज बम्हरौली, आरडी इंस्टीट्यूट नैनी, एमएम इंफोटेक नैनी, अभिजीत स्किल सेंटर झलवा, एक्सेलेंस इंफोटेक नैनी, न्यू विजन कंप्यूटर इंस्टीट्यूट नैनी, श्री विंध्यवासिनी एजूकेशन एंड वेलफेयर फाफामऊ, अजय आनलाइन एग्जाम सेंटर झूंसी, साईं इंस्टीट्यूट ऑफ  आईटी मैनेजमेंट नैनी, इंस्टीट्यूट ऑफ  कंप्यूटर साइंस एंड डेवलपमेंट (आईसीएसडी) कॉलेज टैगोर टाउन और इलाहाबाद इंफोटेक प्राइवेट लिमिटेड नैनी को परीक्षा केंद्र बनाया गया है।
... और पढ़ें

उपलब्धि : प्रयागराज के मयंक मिश्रा ने गूगल के बग हंटर हॉल ऑफ फेम में बनाई जगह 

कुछ बेहतर करने का लक्ष्य लिए सोरांव के पसियापुर गांव के मेधावी छात्र मयंक मिश्रा ने साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में बड़ी सफलता हासिल की है। तेजी से बढ़ रहे डिजिटल युग में साइबर सिक्योरिटी डाटा कलेक्शन को सुरक्षित करना बेहद अनिवार्य और आवश्यक है। अभी हाल ही में विश्व का सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल में कमी खोजने पर गूगल ने उनके काम की सराहना करते हुए उन्हें बग हंटर हॉल ऑफ  फेम में जगह दी है।

बता दें कि अंतरराष्ट्रीय टेक्निकल कंपनियां बाउंटी प्रोग्राम का आयोजन करती रहती हैं। ऐसे में अगर किसी खामी की रिपोर्ट यूजर्स कंपनी को भेजते हैं और वो खामी सही पाई जाती है तो संबंधित कंपनी द्वारा यूजर्स को इनाम दिया जाता है। मयंक मिश्रा ने कहा कि उन्हें विश्व की बड़ी कंपनियों में गूगल, चाइनीज टेलीकॉम कंपनी हुआवे, लेनेवो, अंतरराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर कंपनी इंफ्लेक्ट्रा आदि के हॉल ऑफ  फेम में भी जगह मिल चुकी है। मयंक मिश्रा ने इसी वर्ष बीटेक आईटी की पढ़ाई पूरी की है।


द्वितीय वर्ष से ही पढ़ाई के दौरान साइबर सिक्योरिटी में रुचि होने के कारण वह इस क्षेत्र में नित नई उपलब्धियां हासिल कर रहे हैं। उन्हें कई अंतरराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा सराहना पत्र भी मिला है। फिलहाल, मयंक का कहना है कि वह बग हंटिंग जारी रखेंगे। क्योंकि उन्हें लगता है कि वह ऐसा करके ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस सबजेक्ट के बारे में और बता सकेंगे। इस तरह से आगे भी साइबर इंडस्ट्री को अपना योगदान देते रहेंगे। 
... और पढ़ें

Prayagraj : संबित पात्रा के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में तहरीर, प्रियंका गांधी की रैली में अजान का मामला

उच्च न्यायालय के अधिवक्ता और कांग्रेस कमेटी की लीगल सेल के उपाध्यक्ष रवींद्र सिंह ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में तहरीर दी है। तहरीर के मुताबिक प्रियंका गांधी ने 10 अक्टूबर को वाराणसी में किसान न्याय रैली का आयोजन किया था।

प्रियंका गांधी के नेतृत्व में रैली का शुभारंभ सर्वधर्म प्रार्थना से हुआ थाm लेकिन संबित पात्रा ने 14 अक्टूबर को ट्वीट किया कि कांग्रेस पार्टी की नेता की उपस्थिति में केवल अजान कराई गई, जबकि सर्वधर्म प्रार्थना में पहले सनातन धर्म, इस्लाम और फिर सिख धर्म से संबंधित प्रार्थना की गई थी। संबित पात्रा ने धार्मिक वैमनस्यता फैलाने के लिए यह हरकत की है। उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जाए। इंस्पेक्टर जेपी शाही ने बताया कि तहरीर की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें
BJP Sambit patra BJP Sambit patra

प्रयागराज डबल मर्डर केस : बहू ने ही कराई थी अपनी सास-ननद की हत्या, पुलिस ने किया खुलासा

औद्योगिक क्षेत्र स्थित मियां का पूरा गांव में मां-बेटी की हत्या का खुलासा करते हुए शनिवार को पुलिस ने बहु सलोनी तथा उसके पति के दोस्त शोभनाथ उर्फ शोभई को गिरफ्तार कर लिया। सलोनी खुद हत्या में शामिल थी। हत्या के बाद दोनों ने घर से गहने भी चुराए थे ताकि यह मामला लूट का लगे।

पुलिस को दिए बयान में सलोनी ने बताया कि ससुराल वाले उसकी छह साल की बेटी से उसे नहीं मिलने देते थे। इसी कारण उसने हत्या को अंजाम दिया। पुलिस ने उनके पास से गहने बरामद किए हैं। मियां का पूरा में मंगलवार रात प्रेमपति देवी और उसकी बेटी तनु 17 की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। प्रेमपति के पति बजरंग बहादुर पटेल उफ नचऊ पटेल पर जानलेवा हमला किया गया था। घटना के वक्त बजरंग की छह साल की पोती अंशिका भी थी लेकिन कातिलों ने उसे छोड़ दिया था।

इस मामले में पुरानी रंजिश के आधार पर पड़ोसी परिवार के चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई लेकिन पुलिस को मामला कुछ और ही लग रहा था। जांच में पता चला कि बजरंग के बेटे ने कुछ साल पहले आत्महत्या कर ली थी। उसकी पत्नी सलोनी ने दूसरी शादी कर ली थी। अंशिका सलोनी की बेटी है। सलोनी की कॉल डीटेल्स खंगाला गया तो पुलिस को काफी कुछ जानकारी मिल गई। इसके बाद सलोनी और शोभनाथ उर्फ शोभई को पकड़ लिया गया। शोभनाथ सलोनी के पति का दोस्त है।

... और पढ़ें

प्रयागराज : विवादों में चल रहे नफीस को हटाकर कांग्रेस ने अंशुमान को बनाया शहर अध्यक्ष

पार्टी पदाधिकारियों के बीच संतुलन न बना पाना शहर कांग्रेस अध्यक्ष नफीस अनवर को भारी पड़ा। राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने शुक्रवार को उनकी जगह इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पूर्व महामंत्री प्रदीप मिश्र अंशुमन को शहर कांग्रेस कमेटी का नया अध्यक्ष बनाया है। प्रदीप सीएमपी डिग्री
कॉलेज के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। नए अध्यक्ष रविवार को अपना कार्यभार ग्रहण करेंगे। उधर, पार्षद मुकुंद तिवारी को महासचिव की जिम्मेदारी दी गई है। 

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी सूचना में प्रदेश के 10 जिलों की कमेटियों के अध्यक्ष बदले गए हैं। इसमें प्रयागराज
शहर कांग्रेस कमेटी के लिए प्रदीप मिश्र अंशुमन का नाम घोषित किया गया है। इसके अलावा मुकुंद तिवारी को महासचिव की जिम्मेदारी सौंपी गई है। चुनाव के ठीक पहले इस बदलाव को बड़े अहम तौर पर देखा जा रहा है।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक बदलाव को चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है। कहा जा रहा है कि नफीस के कारण वोटों का समीकरण नहीं बन पा रहा था। उनकी कार्यशैली को लेकर लगातार शिकायतें हो रहीं थीं। पार्टी संगठनात्मक स्तर पर मजबूती से उभरकर सामने नहीं आ पा रही थी। संगठन के काम में पिछड़ने और पार्टी पदाधिकारियों के बीच संतुलन नहीं बन पाने से उन्हें इस जिम्मेदारी से मुक्त किया गया।

हालांकि, पार्टी के सचिव और जिला प्रभारी राघवेंद्र सिंह इस बात से इंकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि नफीस अनवर का कार्यकाल तीन साल पूरा हो गया। इसलिए पार्टी ने यह बदलाव किया है। जबकि, शहर अध्यक्ष नफीस अनवर ने कहा कि वह इस मामले में कुछ नहीं बोलेंगे। पार्टी हाईकमान का फैसला है। वह उसी के अनुरूप अपना काम करेंगे। वह अपनी पार्टी को मजबूती केसाथ आगे बढ़ाएंगे। जिससे कि पार्टी ज्यादा सीटों पर चुनाव जीत सके।

... और पढ़ें

Prayagraj : अकाउंटेंट ने पेटीएम में आए दुकान के 11 लाख रकम को अपने खाते में कराया ट्रांसफर, मुकदमा दर्ज

सुलेम सराय स्थित कपड़ों की दुकान पर काम करने वाले अकाउंटेंट ने पेटीएम से आए 11 लाख रुपये अपने निजी खाते में ट्रांसफर करा दिए। जब शक होने पर मालिक ने जांच कराई तो आरोपी भाग निकला। धूमनगंज थाने में आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। सुलेम सराय के रहने वाले सतीश चंद्र गुप्ता का संजय रेडीमेड गारमेंट के नाम से बड़ी दुकान है।

उन्होंने मिर्जापुर के रहने वाले विशाल सिंह को बतौर अकाउंटेंट रखा था। विशाल यहां पर बहादुरगंज में किराये का कमरा लेकर रहता था। जालसाज विशाल काफी समय से दुकान में पेटीएम के द्वारा आई रकम को अपने निजी खाते में ट्रांसफर कर रहा था। कुछ समय पहले सतीश को शक हुआ।

उन्होंने बैंक में इस संबंध में पूछताछ की तो पता चला कि विशाल ने मालिक के खाते की जगह अपना खाता जोड़ लिया था। इसी दौरान विशाल को पता चल गया कि सतीश खातों की जांच करा रहे हैं, वह अपनी बाइक लेकर निकल गया। उसके बाद से उसका कुछ पता नहीं है। इस मामले में एसपी क्राइम को शिकायत की गई। उनके निर्देश पर 12 अक्तूबर को धूमनगंज थान में विशाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।
... और पढ़ें

प्रयागराज : नेहा यादव को मिली सपा छात्रसभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की कमान

ऑनलाइन फ्रॉड
इलाहाबाद विश्वविद्यालय की शोध छात्रा नेहा यादव को सपा छात्रसभा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है। नेहा की जुझारू प्रवृत्ति वाली छवि रही है और धूमनगंज में गृहमंत्री अमित शाह को काला झंडा दिखाने के बाद वह सुर्खियों में आईं थीं। इस मामले में गिरफ्तारी के बाद वह कई दिनों तक जेल में भी रहीं। न्यूट्रीशनल साइंस में शोध कर रहीं नेहा को चार वर्ष से अध्यक्ष रहे अनिमेष प्रताप सिंह की जगह यह जिम्मेदारी दी गई है। वहीं वाराणसी के संदीप सिंह स्वर्णकार को महासचिव बनाया गया है।

मूलत: बरेली की रहने वालीं नेहा की मां इस बार ग्राम प्रधान चुनी गई हैं। पिछले दिनों बरेली दौरे पर गए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव उनके आवास पर भी गए थे। नेहा ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में कई छात्र आंदोलनों की अगुवाई की। छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए छात्रसभा से टिकट भी मांगा था। हालांकि नहीं मिल पाया। एनआरसी समेत कई मुद्दों को लेकर भी हुए आंदोलनों में भी सक्रिय रहीं। नेहा को इन्हीं संघर्षों का इनाम मिला है।

नेहा का कहना है कि सरकार की छात्र विरोधी नीतियों के खिलाफ एवं विश्वविद्यालय में छात्रसंघ बहाली के लिए संघर्ष जारी रहेगा। नेहा यादव के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने पर स्थानीय नेताआें, कार्यकर्ता एवं विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं में खुशी का माहौल है। सपा के जिलाध्यक्ष योगेश चंद्र यादव, छात्रसभा के जिलाध्यक्ष अखिलेश गुप्ता गुड्डू, रविंद्र यादव, राहुल पटेल, आकिब जावेद, शिव यादव ने नेहा को बधाई दी।
... और पढ़ें

सफलता : जेईई एडवांस में प्रयागराज के हर्ष को आल इंडिया लेबल पर मिली 149वीं रैंक

जेईई एडवांस में इस बार प्रयागराज के 100 से अधिक मेधावियों को सफलता मिली। संगम नगरी के हर्ष बिहानी ने जहां अखिल भारतीय स्तर पर 149वीं रैंक हासिल की, वहीं दिविज ने 630वीं रैंक के साथ सफलता हासिल की। अखिल भारतीय स्तर पर 149वीं रैंक हासिल करने वाले हर्ष बिहानी ने महर्षि पतंजलि विद्यालय से 10वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद कोटा के स्कूल से इंटरमीडिएट किया।

हर्ष को जेईई मेंस में 326वीं रैंक मिली थी। हर्ष के पिता अमित कुमार बिहानी कपड़े के व्यापारी हैं और मां ललिता गृहणी हैं। वहीं, प्रयागराज के मेधावी छात्र दिविज को जेईई मेंस में 251वीं रैंक मिली थी और एडवांस में उन्होंने 630वीं रैक के साथ सफलता हासिल की। इससे पूर्व दिविज ने किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना 2019-20 में अखिल भारतीय स्तर पर 352वीं रैंक प्राप्त की थी।

दिविज के पिता दीनबंधु बरनवाल प्रधान महालेखाकार (लेखा परीक्षा-प्रथम), प्रयागराज में सीनियर ऑडिट अफसर के पद पर कार्यरत हैं। इसके अलावा प्रयागराज के तुषार पांडेय, सुब्रत पांडेय, मृगांक मनी शुक्ला, अभिषेक सिंह, अंजली मिश्रा, धीरज पटेल, दीपांशु यादव, जाहिद अख्तर, सुनिधि, वैभव, अमित कुमार, हर्ष वर्धन सिंह, देवेश त्रिपाठी, अभिनव पांडेय, अवनीश, सूरज कुमार, हर्षिता अग्रवाल, अशिता श्रीवास्तव, विपुल राज झा, खुशबू, अश्विनी राज, राहुल यादव, राहुल पटेल, साकिब अली, अश्विनी पांडेय, धर्मेंद्र कुमार सरोज, अखिलेश सिंह समेत 100 से अधिक छात्रों को सफलता मिली है।


देर से पहुंची ट्रेन, छूटा इंटरव्यू
ट्रेन देर से पहुंचने के कारण कई अभ्यर्थी शनिवार को उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में प्रवक्ता पद पर भर्ती के लिए
जारी इंटरव्यू में शामिल नहीं हो सके। चयन बोर्ड पर विलंब से पहुंचने के कारण अभ्यर्थियों को बैरंग लौटा दिया गया। अभ्यर्थियों ने चयन बोर्ड में
ज्ञापन देकर कहा है कि इसमें उनकी गलती नहीं थी, उन्हें इंटरव्यू में शामिल होने का मौका दिया जाए।

शनिवार को चयन बोर्ड में प्रवक्ता संस्कृत और प्रवक्ता रसायन विज्ञान के लिए इंटरव्यू था। अभ्यर्थियों ने बताया कि कानपुर-टूंडला खंड के अम्बियापुर-रूरा स्टेशन के बीच मालगाड़ी के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने के कारण दिल्ली की ओर से आने वाली ट्रेनें आठ से दस घंटे विलंब से पहुंचीं। इसकी वजह से  ल्ली, गाजियाबाद, नोएडा की ओर से आने वाले अभ्यर्थी समय से प्रयागराज नहीं पहुंच सके और उन्हें साक्षात्कार से वंचित होना पड़ा। 

अभ्यर्थी संगीता, शिखा पाठक, धर्मेंद्र, ऋषभ गोयल समेत कई अन्य अभ्यर्थियों को खाली हाथ लौटा दिया। उन्हें इंटरव्यू में शामिल नहीं किया गया।अभ्यर्थियों ने चयन बोर्ड में ज्ञापन देकर साक्षात्कार में शामिल किए जाने की मांग की है।
... और पढ़ें

डबल मर्डर : दोहरे कत्ल के पीछे कहीं प्रेम-प्रसंग का तो मामला नहीं, किसी शख्स से होती थी लंबी बातचीत

औद्योगिक क्षेत्र में मां-बेटी की हत्या में भले ही पुलिस को चार नामजद पड़ोसियों की तलाश है। लेकिन मामले में प्रेम-प्रसंग व पारिवारिक रंजिश के एंगल पर भी जांच चल रही है। दरसअल जांच पड़ताल में जुटी पुलिस को इन बिंदुओं पर भी जानकारी मिली है। ऐसे में जांच में इसे भी शामिल कर लिया गया है।

दोहरे हत्याकांड की जांच पड़ताल में जुटी पुलिस को बजरंग बहादुर पटेल के परिवार के भीतर के भी एक विवाद की जानकारी मिली है। पत चला है कि कुछ दिनों पहले परिवार का अपनी बहू से लेकर विवाद हुआ था। दरअसल बजरंग के बेटे के जहर खाकर जान देने के बाद उसकी बहू ने दूसरी शादी कर ली। जबकि उसकी छह वर्षीय बेटी अंशिका अपने दादा-दादी के साथ ही रहती थी।
... और पढ़ें

Prayagraj : संगमनगरी में धू-धूकर जला अहंकारी रावण, राम के जयकारे से वातावरण गुंजायमान

संगमनगरी में दशहरा पर असत्य पर सत्य की विजय के प्रतीक के रूप में अत्याचार रूपी रावण के पुतलों का दहन कर गगनभेदी जयघोष किया गया। दारागंज और कटरा के रावण के पुतले का अलोपीबाग स्थित रामलीला मैदान में एक साथ दहन किया गया, जबकि, पजावा के रावण के पुतले को अतरसुइया में जलाया गया। इस दौरान रावण दहन देखने के लिए जन सैलाब उमड़ पड़ा था।


दारागंज रामलीला कमेटी और कटरा रामलीला कमेटी का संयुक्त रावण दहन अलोपीबाग लीला ग्राउंड पर शुक्रवार की रात आठ बजे हुआ। अलोपाबाग रामलीला मैदान में दोनों कमेटियों के पात्र मंच पर एक साथ विराजमान हुए। इसके बाद पं. सियाराम शास्त्री के निर्देशन में भव्य राम- रावण युद्ध का मंचन हुआ। राम-रावण की सेनाओं के बीच भीषण युद्ध हुआ। रावण बने पवन यादव की भूमिका बेहद आक्रमक रही। अंत समय में कटरा के राम पीछे हटा दिए गए और दारागंज रामलीला कमेटी के राम के बाणों से रावण दहन किया गया।
... और पढ़ें

महानिबंधक का निर्देश : चीफ जस्टिस के हाईकोर्ट में रहने तक आफिस नहीं छोडे़ंगे रजिस्ट्रार, ज्वाइंट रजिस्ट्रार व डिप्टी रजिस्ट्रार

इलाहाबाद हाईकोर्ट के महानिबंधक  ने निर्देश जारी कर कहा है कि कोई भी रजिस्ट्रार, ज्वाइंट रजिस्ट्रार व डिप्टी रजिस्ट्रार तब तक अपने अपने आफिस नहीं छोडेंगे, जब तक चीफ जस्टिस हाईकोर्ट में उपस्थित रहेंगे।

रजिस्ट्रार जनरल ने बृहस्पतिवार को यह निर्देश जारी किया। चीफ जस्टिस को ज्यूडिशियल के अलावा कई प्रकार के प्रशासनिक काम भी करने होते हैं। यह काम चीफ जस्टिस सुबह 10 बजे कोर्ट में बैठने से पहले या शाम को कोर्ट का काम समाप्त करने के बाद ही किया करते हैं। ऐसे में कार्य प्रभावित न हो, इस कारण सभी रजिस्ट्रार को चीफ जस्टिस के हाईकोर्ट में उपस्थित रहने तक आफिस में बने रहने का निर्देश रजिस्ट्रार जनरल की तरफ से जारी किया गया है। 

ओपी त्रिपाठी हाईकोर्ट जज नियुक्त
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ओम प्रकाश त्रिपाठी को इलाहाबाद हाईकोर्ट का अपर न्यायाधीश नियुक्त किया है। कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से 20 जुलाई 23 तक कार्यरत रहेंगे। 24 अगस्त 21 को सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने तीन न्यायिक सेवा के अधिकारियों को हाईकोर्ट का न्यायाधीश नियुक्त किए जाने की संस्तुति की थी।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00