विज्ञापन

मथुरा

विज्ञापन
शनि अमावस्या के दिन सूर्य ग्रहण के समय करें पंच दान, होगा हर समस्या का समाधान - 4 दिसम्बर, 2021
Myjyotish

शनि अमावस्या के दिन सूर्य ग्रहण के समय करें पंच दान, होगा हर समस्या का समाधान - 4 दिसम्बर, 2021

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

मथुरा में कोरोना: गेस्ट हाउस और आश्रमों में अब देना होगा कोरोना जांच का प्रमाणपत्र, संक्रमण फैलने के बाद जागा विभाग

मथुरा जनपद में कोरोना संक्रमण एक बार फिर से बढ़ रहा है। टूरिस्ट वीजा पर वृंदावन घूमने आए विदेशी मेहमानों के कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद वृंदावन में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने लगी है। अब तक 11 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। वृंदावन के शीतल छाया में 10 विदेशी मेहमान कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। इनमें तीन विदेशी रिपोर्ट आने से पहले ही अपने देश जा चुके हैं। 
लापरवाही सामने आई
वृंदावन में कोरोना संक्रमण के फैलने का बड़ा कारण आश्रम, होटल और गेस्टहाउस संचालकों के द्वारा बरती गई बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। शीतल छाया के आश्रम में विदेशी सैलानियों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की जांच में सामने आया है कि आश्रम संचालकों के द्वारा लापरवाही बरती गई। यहां आए विदेशी सैलानियों की न आरटीपीसीआर रिपोर्ट देखी गई और न उनका टीकाकरण की रिपोर्ट ही ली गई। यही कारण है कि वृंदावन में कोरोना संक्रमण फैल गया। इसके बाद जागे स्वास्थ्य विभाग ने वृंदावन के होटल, आश्रम, और गेस्टहाउस संचालकों को नोटिस जारी किया है, जिसमें उन्हें कोविड नियमों का सख्ती से पालन करने के आदेश दिए हैं। 
नियमों के उल्लंघन पर होगी कार्रवाई
सीएमओ डॉ. रचना गुप्ता ने कहा है कि बाहर से आने वाले व्यक्तियों के रुकने से पूर्व उनके कोविड वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र एवं कोविड-19 जांच रिपोर्ट प्राप्त कर ही उन्हें ठहराएं। यदि आरटीपीसीआर कोविड जांच रिपोर्ट व कोविड वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र न होने की स्थिति में तत्काल स्वास्थ्य विभाग के कंट्रोल रूम में रिपोर्ट करने का कष्ट करें। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है। 
... और पढ़ें
कोरोना जांच करते कर्मचारी। कोरोना जांच करते कर्मचारी।

मथुरा: जलाभिषेक के एलान के बाद धारा 144 लागू, 2100 पुलिसकर्मी और पैरामिलिट्री जवानों के हवाले होगा शहर

मथुरा में छह दिसंबर को शाही ईदगाह के अंदर घुसकर बालगोपाल का जलाभिषेक करने की चेतावनी और पदयात्रा के कार्यक्रम के एलान के बाद जनपद में धारा 144 लागू कर दी गई है। एसएसपी डॉ. गौरव ग्रोवर का कहना है कि छह दिसंबर को कुछ कार्यक्रमों और पदयात्राओं के लिए लोगों का आह्वान किया जा रहा था और इसके लिए अनुमति मांगी गई थी। जो अनुमति मांगी गई थी उसे निरस्त किया गया है। ऐसे किसी भी कार्यक्रम की अनुमति मथुरा में नहीं दी गई है। मथुरा में धारा 144 लागू है।

एसएसपी बोले- शांति बनाए रखें, नहीं तो होगी कार्रवाई

छह दिसंबर को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना है। हर हाल में शांत माहौल खराब न होने देने के लिए सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। बुधवार को खुद एसएसपी डॉक्टर गौरव ग्रोवर ने पैरामिलिट्री के जवानों के साथ फ्लैग मार्च करके लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। छह दिसंबर को धार्मिक संगठनों और संस्थाओं ने संकल्प यात्रा और अभिषेक का एलान किया था। हालांकि पुलिस की सख्ती के चलते सभी ने यह एलान वापस ले लिया। बावजूद पुलिस प्रशासन कतई भी ढिलाई बरतने के मूड में नहीं है।

निकाला फ्लैग मार्च
बुधवार को एसएसपी डॉक्टर गौरव ग्रोवर के नेतृत्व में एसपी सिटी मार्तंड प्रकाश सिंह, सीआरपीएफ के कमांडेंट द्वितीय विशाल सिंह, सीओ सिटी अभिषेक तिवारी, थाना गोविंदनगर प्रभारी विजय कुमार सिंह, कोतवाल सूरज प्रकाश शर्मा के अलावा सीआरपीएफ, पीएसी और पुलिसकर्मियों ने फ्लैग मार्च निकाला। घनी आबादी के अलावा शहर में निकले फ्लैग मार्च को देखकर हर कोई चकित रह गया। मकसद केवल शांत माहौल शहर में बना रहे, कोई भी असामाजिक तत्व अपने मंसूबे में कामयाब न हो सके। एसएसपी ने बताया कि किसी को बख्शा नहीं जाएगा।
... और पढ़ें

मथुरा: संत देवमुरारी बापू को लिया हिरासत में, बाद में छोड़ा, पुलिस उत्पीड़न के विरोध में आत्महत्या की दी थी धमकी

संत देवमुरारी बापू को पुलिस ने बुधवार को हिरासत में ले लिया। उन्होंने पुलिस उत्पीड़न से परेशान होकर आत्महत्या की धमकी दी थी। पुलिस समय से पहले ही उनके  घर पहुंची और और घेराबंदी करके उन्हें पकड़ लिया। हालांकि बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। 
श्रीकृष्ण जन्मभूमि निर्माण न्यास के अध्यक्ष आचार्य संत देवमुरारी बापू और पुलिस के बीच दो घंटे तक रस्साकसी चलती रही। मुरारी ने कहा 6 दिसंबर को न्याय अब श्रीकृष्ण जन्मभूमि शाही ईदगाह के लिए पदयात्रा नहीं करेगा। एसएसपी डॉ. गौरव ग्रोवर ने बताया कि शिकायत के आधार पर कार्रवाई की गई है। 
दरअसल, दो दिन पहले एक महिला ने देवमुरारी बापू समेत तीन लोगों के खिलाफ छेड़छाड़ व धमकी देने समेत अन्य आरोप लगाते हुए वृंदावन कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इससे आहत बुधवार को मुरारी बापू ने घोषणा कर दी कि वह दो बजे मीडिया के समक्ष आत्महत्या करेंगे। धमकी देने के बाद सुबह लगभग दस बजे सीओ सदर राम मोहन शर्मा पुलिस टीम लेकर देव मुरारी के आनंद वाटिका स्थित फ्लैट पर पहुंचे। मुरारी ने अपने को फ्लैट को अंदर से बंद कर लिया। जैसे ही सुबह 10:30 बजे पत्रकार पहुंचे तो वे फ्लैट की बॉलकोनी में आए और पुलिस पर उत्पीड़न करने के साथ झूठे मुकदमे में फंसाने का आरोप लगाया।  
करीब साढ़े 11 बजे देव मुरारी हाथ में चाकू लेकर हाथ व गला काटकर आत्महत्या की धमकी देते हुए फ्लैट से नीचे आए। इसी दौरान पुलिस ने बल प्रयोग करते हुए उन्हें पकड़ लिया और घसीटते हुए जीप में डाल थाने ले आई। यहां लगभग चार घंटे तक पुलिस और मुरारी में कई दौर की वार्ता हुई। पुलिस के सामने उन्होंने 6 दिसंबर को होने वाली पदयात्रा को स्थगित करने का लिखित एलान किया। एसपी सिटी एमपी सिंह और सीओ सदर राममोहन शर्मा ने मुकदमे की निष्पक्ष जांच करने का भरोसा देने के बाद उन्होंने आत्महत्या करने का अपना इरादा टाल दिया। इसके बाद पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया। मुरारी के घर पर पुलिस भी तैनात कर दी है।  
देवमुरारी ने कहा कि श्रीकृष्ण जन्मस्थान को लेकर 6 दिसंबर को वृंदावन से शाही ईदगाह तक पदयात्रा निकालते हुए कार सेवा का एलान किया था। आरोप है कि पुलिस उन्हें रोकने के लिए षड्यंत्र रच रही है। उन्होंने श्रीकृष्ण जन्मभूमि निर्माण न्यास नाम का संगठन बनाया था। इसी संगठन के बैनर तले 6 दिसंबर को कार सेवा का एलान किया था। कोरोना महामारी और वर्तमान हालातों को देखते हुए वह अपनी पदयात्रा को स्थगित कर रहे हैं। 

करीब दो घंटे तक मशक्कत करने के बाद किसी तरह पुलिस ने देवमुरारी बापू को हिरासत में लिया। देवमुरारी बापू पर महिला ने गंभीर आरोप लगाए हैं। बापू से मंगलवार से आग्रह किया कि वह अपना पक्ष रखें लेकिन उन्होंने पक्ष नहीं रखा। वहीं, आत्महत्या की धमकी दे दी। इसके बाद पुलिस को बल प्रयोग करते हुए उन्हें हिरासत में लिया गया था। जिससे उनकी जान बच सके। - एमपी सिंह, एसपी सिटी मथुरा। 
... और पढ़ें

कोरोना संक्रमण: मथुरा में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही सामने आई, तीन कोरोना संक्रमित विदेश हुए रवाना

मथुरा में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। वृंदावन के शीतल छाया में मिले 10 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से तीन विदेश रवाना हो गए। मंगलवार को आई रिपोर्ट में एक रसियन युवती कोरोना पॉजिटिव मिली है। फिलहाल सात मरीज वृंदावन में होम आइसोलेट हैं। 
जिला कोविड कंट्रोल प्रभारी डॉ. भूदेव सिंह ने बताया कि विदेश गए तीन मरीजों ने शनिवार को एक निजी लैब से टेस्ट कराया, इसकी रिपोर्ट सोमवार को स्वास्थ्य विभाग को मिली। स्वास्थ्य विभाग ने जब मरीजों की जानकारी की तो पता चला वह अपने देश रविवार को ही चले गए। अपने देश जाने वालों में दो रूस और एक स्विट्जरलैंड का नागरिक है। तीनों संक्रमितों के स्वदेश लौटने के बाद स्वास्थ्य विभाग में चिंता बढ़ गई है। विदेशियों ने कंटेनमेंट जोन के नियमों का भी पालन नहीं किया।

स्वास्थ्य विभाग ने मांगी एयरपोर्ट से रिपोर्ट 
वृंदावन में निकले तीन संक्रमितों के अपने देश लौटने के बाद स्वास्थ्य विभाग में खलबली है। स्वास्थ्य विभाग ने एयरपोर्ट प्रबंधन से रिपोर्ट मांगी है। स्वास्थ्य विभाग यह पता करने में जुटा है कि आखिर यह लोग बिना रिपोर्ट के स्वदेश कैसे चले गए। सीएमओ डॉ. रचना गुप्ता ने बताया कि 10 संक्रमितों में से तीन अपने देश लौट गए। पांच होम आइसोलेट हैं, एक यूएस का सिटीजन है, उसकी कांटेक्ट ट्रेसिंग कर रहे हैं। हमारे यहां कोरोना की संभावना न के बराबर है, इसलिए यह संभावना कम है कि वे यहां संक्रमित हुए। संभावना है कि विदेशी नागरिक या तो किसी विदेशी के संपर्क में आए या फिर अपने देश से ही संक्रमित आए। 

वृंदावन के पर्यटन को बढ़ा झटका
पिछले लगभग डेढ़ वर्ष से मंदी की मार झेल रहा पर्यटन का कारोबार जैसे तैसे पटरी पर लौटा कि पिछले कई दिन से वृंदावन में संक्रमित निकल रहे विदेशी मेहमानों के कारण वृंदावन के पर्यटन को नुकसान होने लगा है। लगातार विदेशी भक्तों की आवक कम होती जा रही है। कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए इस्कॉन ने भी अपने यहां गाइडलाइन जारी कर दी है। यहां हर दिन लोगों के सैंपल लेकर जांच कराई जा रही है। मंगलवार को सौ लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। इसके साथ प्रेम मंदिर ने भी अपने कर्मचारियों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे हैं। इधर बाजार में भी विदेशी भक्तों का आवागमन कम हो गया है। उधर, सीएमओ ने सभी होटल व गेस्टहाउस मालिकों से कहा कि जो भी आपके यहां विदेशी रुके, उसका कोरोना टेस्ट जरूर कराएं। 

कोरोना: वृंदावन में तीन दिन में आठ विदेशी श्रद्धालु संक्रमित, नए वैरिएंट की जांच के लिए लखनऊ भेजे गए सैंपल
 
... और पढ़ें

नारायणी सेना की संकल्प यात्रा: छह दिसंबर को लेकर मथुरा में सुरक्षा का खाका तैयार, 2100 पुलिसकर्मी और पैरामिलिट्री जवानों के हवाले होगा शहर

मथुरा: संक्रमित महिला मिलने के बाद पहुंची टीम का फाइल फोटो
मथुरा में छह दिसंबर को लेकर शहर की सुरक्षा दो सुपर जोन, चार जोन और आठ सेक्टरों में बांटी गई है। तीन चार दिसंबर से लेकर छह दिसंबर तक करीब 2100 पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स के जवानों के हाथ में कमान होगी। शहर का माहौल खराब करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।
छह दिसंबर को शहर का माहौल शांत बना रहे, इसका पुलिस-प्रशासन ने सुरक्षा का पूरा खाका खींच लिया है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स को मुस्तैद किया जाएगा। इसके लिए पुलिस-प्रशासन के अफसर और खुफिया विभाग भी नजरें बनाए हुए हैं। पल-पल की जानकारी खुद एसएसपी डॉक्टर गौरव ग्रोवर ले रहे हैं। नारायणी सेना और अखिल भारत हिंदू महासभा के पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करके पुलिस ने अपनी मंशा साफ कर दी है। एसपी सिटी मार्तंड प्रकाश सिंह ने बताया कि शहर का शांत माहौल खराब नहीं होने दिया जाएगा। हर हाल में सख्ती से निपटा जाएगा।

घनी आबादी में फ्लैग मार्च, बनाए रखें शांत माहौल
एसपी सिटी मार्तंड प्रकाश सिंह के नेतृत्व में मंगलवार को सीआरपीएफ के डिप्टी कमाडेंट विशाल सिंह, सीओ सिटी अभिषेक तिवारी, थाना गोविंदनगर प्रभारी विजय कुमार सिंह, कोतवाल सूरज प्रकाश शर्मा के अलावा पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स ने करीब ढाई घंटे घनी आबादी में फ्लैग मार्च किया। 

यह रहेगा फोर्स
एएसपी-4, सीओ-10, इंस्पेक्टर/एसएचओ-40, दरोगा-230, सिपाही-एक हजार, पैरा मिलिट्री फोर्स-10 कंपनी

आगरा जोन का आएगा फोर्स: मार्तंड
एसपी सिची मार्तंड प्रकाश ने बताया कि तीन दिसंबर को आगरा जोन का फोर्स मथुरा आ जाएगा। चार दिसंबर से लेकर छह दिसंबर तक इस फोर्स को बनाए सुपर जोन, जोन और सेक्टरों में मुस्तैद कर दिया जाएगा। शहर का शांत माहौल कतई भी खराब नहीं होने दिया जाएगा। सख्ती से निपटा जाएगा।
ये भी पढ़ें...
नारायणी सेना की संकल्प यात्रा का एलान: श्रीकृष्ण जन्मस्थान-ईदगाह के यलो जोन में पुलिस व पीएसी का सख्त पहरा
 
... और पढ़ें

यूपी का रण: अब भाजपा को चाहिए कृष्ण का सहारा, 'केशव' के शंखनाद से सियासी हलचलें हुईं तेज

यूपी: उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का ट्वीट, अयोध्या काशी में भव्य मंदिर निर्माण जारी है, मथुरा की तैयारी है

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00