विज्ञापन
विज्ञापन
शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021
Myjyotish

शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

सिर्फ छोटे वाहनों से ला सकेंगे प्रतिमाएं

बलरामपुर। पूजा-पंडालों में सजे मां दुर्गा सहित अन्य देवी-देवताओं के प्रतिमाओं का 15 अक्तूबर को विसर्जन की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। प्रशासन ने छोटे वाहनों से प्रतिमाओं को विसर्जन स्थलों तक ले जाने की अनुमति दी है। विसर्जन के दौरान भीड़-भाड़ न जुटे, इसके लिए श्रद्धालुओं की सीमित संख्या निर्धारित है। प्रशासन ने विसर्जन स्थलों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। दुर्गा पूजा समितियों रामलीला मंचों के पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।
डीएम श्रुति व एसपी हेमंत कुटियाल के निर्देश पर बुधवार को एडीएम राम अभिलाष व एएसपी अरविंद मिश्र के साथ तीनों तहसीलों के एसडीएम, सीओ व सभी कोतवाली व थानों के प्रभारी निरीक्षकों ने प्रतिमा विसर्जन स्थलों का भ्रमण कर तैयारियों का जायजा लिया। थाना महराजगंज तराई में एएसपी के साथ सीओ आरआर सिंह ने बैठक में मौजूद सभी दुर्गा पूजा समितियों के पदाधिकारियों को सरकार व प्रशासन की ओर से जारी दिशा-निर्देशों का पालन करने का जिम्मा सौंपा।
कोतवाली देहात के सिसई घाट का एएसपी ने निरीक्षण कर प्रतिमा विसर्जन के दौरान होने वाली व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उतरौला कोतवाली में सीओ उदयराज सिंह ने बैठक कर ग्राम प्रहरियों को चौकस रहने का निर्देश दिया। कोतवाली नगर व थाना गौरा चौराहा में एएसपी ने सीओ सिटी वरुण मिश्र के साथ बैठक कर प्रतिमा विसर्जन के दौरान घाटों पर सुरक्षा व्यवस्था के बारे में पड़ताल की। नगर कोतवाली की पुलिस ने कोलवा घाट का निरीक्षण कर तैयारी की जायजा लिया। संवाद
... और पढ़ें

शारदीय नवरात्र के आठवें दिन हुई महागौरी पूजा-अर्चना

बलरामपुर। शारदीय नवरात्र के आठवें दिन बुधवार को शांति स्वरूपा कल्याणकारी महागौरी की पूजा अर्चना पूरे विधि विधान के साथ की गई। देवी मंदिरों पर उमड़े भक्तों ने महागौरी को पुष्प, अक्षत, चुनरी व नारियल आदि चढ़ाकर मां से अखंड सौभाग्यवती का वरदान मांगा। अष्टमी तिथि पर श्रद्धालुओं ने हवन पूजन के साथ-साथ अपने बच्चों के मुंडन व जनेऊ संस्कार भी कराए।
मां दुर्गा की आठवीं शक्ति महागौरी के नाम से विख्यात है। पौराणिक कथाओं के अनुसार कठिन तप करते हुए मां दुर्गा का शरीर धूल मिट्टी से मलिन हो गया था। भगवान शंकर ने जब गंगाजल से उनका तन धोया तब वह विद्युत के समान गौर हो गई।
इसीलिए देवी को महागौरी भी कहा जाता है। मां गौरी का रंग शंख व चन्द्र के समान अत्यंत उज्जवल है। महागौरी के ध्यान भक्तों के भीतर आस्था, श्रद्धा व विश्वास को जगाकर जीवन में सफलता प्राप्त करने को प्रेरित करता है। बुधवार को जिले देवी मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहा।
शक्तिपीठ देवी पाटन मंदिर, बिजलेश्वरी मंदिर, झारखंडी मंदिर, बड़िकी बहिनी थान, काली माता मंदिर, रहिया देवी, बाराही देवी, सम्मय माता व ज्वाला देवी मंदिर में भक्तों ने महागौरी को अक्षत, पुष्प, धूप, नारियल, चुनरी व लौंग आदि चढ़ाकर अखंड सौभाग्य रहने की मंगल कामना की।
... और पढ़ें

रक्तदाताओं व संस्थाओं का हुआ सम्मान

रक्तदाताओं व संस्थाओं का हुआ सम्मान
फोटो-19
संवाद न्यूज एजेंसी
बलरामपुर। संयुक्त जिला चिकित्सालय के ब्लड बैंक की तरफ से बुधवार को रक्तदाता सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में रक्तदान शिविर का आयोजन करने वाली संस्थाओं तथा रक्तदाताओं को प्रशस्ति पत्र व अंगवस्त्र भेंटकर सम्मानित किया गया।
सम्मान समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि सीडीओ रिया केजरीवाल ने किया। यूथ हॉस्टल एसोसिएशन ऑफ इंडिया की तुलसीपुर इकाई को जिले में सर्वाधिक रक्तदान शिविर आयोजित करने के लिए सम्मानित किया गया। संस्था के चेयरमैन व स्वैच्छिक रक्तदानी आलोक अग्रवाल को अब तक 21 बार रक्तदान करने के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा 19 बार रक्तदान करने वाले मोहित कुमार, 17 बार रक्तदान करने वाले अरूणा पुनिया व 20 बार रक्तदान करने वाले सचिन पाहवा को भी व्यक्तिगत रूप से सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वाली संस्थाओं में अमर उजाला फाउंडेशन, भारतीय जनता पार्टी, अग्रसेन सेवा समिति, गुरु सिंह सभा, डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन तथा एसएसबी 9वीं व 50वीं वाहिनी शामिल है। समारोह की अध्यक्षता करते हुए अस्पताल के सीएमएस डा. प्रवीण कुमार ने अतिथियों के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर ब्लड बैंक प्रभारी डा. एपी मिश्रा, एलटी सीपी श्रीवास्तव, अशोक पांडेय, ऋषि मिश्रा एवं काउंसलर हिमांशु तिवारी आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

संपूर्ण समाधान दिवस में 16 मामले मौके पर निस्तारित

बलरामपुर। संपूर्ण समाधान दिवस में मौके पर 16 मामलों का निस्तारण कराया जा सका है। तीनों तहसीलों में 120 लोगों ने विभिन्न मामलों को लेकर शिकायती प्रार्थना पत्र दिया। जमीन से जुड़े विवादों का मौके पर जाकर निस्तारण कराने का निर्देश दिया गया।
दिशा-निर्देश के बाद भी मामलों का समय से निस्तारण न होने के चलते लोगों में मायूसी है। सदर तहसील सभागार में डीएम श्रुति ने और तुलसीपुर व उतरौला तहसील सभागारों में एसडीएम ने मामलों की सुनवाई की।
सदर तहसील सभागार में जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए डीएम श्रुति ने कहा कि सभी विभागों के अधिकारी प्राप्त होने वाली जन शिकायतों का समय व गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारित कराएं।
सदर ब्लॉक के खगईजोत निवासी शिवम चौहान ने विपक्षी दलों पर जान से मारने की धमकी, प्यारेलाल ने जमीन का फर्जी बैनामा कराने, मुरीहवा निवासिनी गंगावती ने रास्ता बंद किए जाने व अवैध अतिक्रमण आदि के बारे में शिकायत की जिस पर डीएम ने पुलिस व राजस्व की संयुक्त टीम को निर्धारित समय के अंदर मामलों का निस्तारण कराकर पोर्टल पर अपलोड कराने का निर्देश दिया।
शिकायत कर्ताओं ने आरोप लगाया कि समय से मामलों का निस्तारण न होने के चलते उन्हें न्याय नहीं मिल पा रहा है। जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस में 33 मामले प्रस्तुत किए गए जिसमें से तीन का मौके पर निस्तारण करा दिया गया।
इस अवसर पर सदर एसडीएम अरुण कुमार गौड़, तहसीलदार शेख आलमगीर, सीओ सिटी वरुण मिश्र, पीडी अनिल कुमार सिंह, डीपीआरओ नीलेश प्रताप सिंह, उप कृषि निदेशक डॉ. प्रभाकर सिंह, जिला कृषि अधिकारी आरपी राना, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी पवन कुमार सिंह, बीएसए डॉ. रामचंद्र व डीआईओएस गोविन्द राम सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।
तुलसीपुर तहसील सभागार में एसडीएम रोहित कुमार मौर्य ने संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता की। इस दौरान कुल 31 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए जिसमें सात का मौके पर निस्तारण कराया गया। बाकी बचे मामलों को पोर्टल पर अपलोड कराया गया और तीन दिन में निस्तारित कराने का निर्देश दिया गया।
इस अवसर पर प्रशिक्षु आईएएस अजय जैन, सीओ तुलसीपुर कुंवर प्रभात सिंह व नायब तहसीलदार राजीव वर्मा सहित सभी तहसील स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। उतरौला तहसील सभागार में एसडीएम डॉ. नागेंद्र नाथ यादव की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस के प्रार्थना पत्रों की सुनवाई हुई।
... और पढ़ें

सर्वर डाउन होने से 49 शिक्षकों को नहीं मिला स्कूल

बलरामपुर। सर्वर डाउन होने से गैर जिले से स्थानांतरित होकर आए 49 शिक्षकों को अभी तक स्कूलों का आवंटन नहीं हो सका है। स्कूल पाने के लिए शिक्षक पांच दिनों से बेसिक शिक्षा दफ्तर का चक्कर काट रहे हैं। पोर्टल पर सरकारी के बजाय मान्यता प्राप्त निजी स्कूलों का ब्यौरा अपलोड है जिसके चलते शिक्षकों को स्कूल आवंटन करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
बीएसए डॉ. रामचंद्र ने शनिवार को बताया कि शासन स्तर से 49 महिला पुरुष शिक्षकों का गैर जनपदों से पारस्परिक स्थानांतरण हुआ है। गैर जिले से आए सभी शिक्षकों को स्कूलों का आवंटन करने के लिए शासन स्तर से 12 अक्तूबर की तिथि निर्धारित की गई थी।
बीएसए दफ्तर में प्रात: 10 बजे से पारदर्शिता व सुचितापूर्ण ढंग से ऑनलाइन स्कूलों का आवंटन शिक्षक शिक्षिकाओं को बुलाया गया। पोर्टल पर सर्वर डाउन होने व स्कूलों का ब्यौरा गलत अपलोड होने के चलते शिक्षकों को स्कूल आवंटन नहीं किया जा सका है।
डीएम श्रुति के निर्देशानुसार स्कूलों के आवंटन की प्रक्रिया पूरी कराने की तैयारी की गई। गैर जिलों से आए दिव्यांग, महिला व पुरुष शिक्षक बीएसए दफ्तर में समय से उपस्थित हुए। प्राचार्य डायट/उप शिक्षा निदेशक देवीपाटन मंडल गोंडा विनय मोहन वन, डीडीओ गिरीश कुमार पाठक, राजकीय बालिका इंटर कालेज उतरौला की प्रधानाचार्य व प्रवक्ता हिंदी डायट स्कूलों के आवंटन की प्रक्रिया पूरी कराने के लिए आए।
डीसी निरंकार पांडेय, एमआईएस संजय श्रीवास्तव व पटल सहायक दिलेराम को गैर जिले से आए शिक्षकों को स्कूलों का आवंटन कराने की प्रक्रिया में सहयोग के लिए लगे रहे। पांच दिनों तक लगातार शिक्षकों को स्कूल आवंटित करने के लिए प्रयास जारी रहा। सफलता न मिलने पर सचिव बेसिक शिक्षा परिषद प्रयागराज को पोर्टल से मान्यता प्राप्त निजी स्कूलों का ब्यौरा हटाने व सर्वर आदि के संबंध में पत्र भेजा गया है।
... और पढ़ें

तेज रफ्तार स्कार्पियों ने दो बाइक को मारी ठोकर, एक की मौत तीन घायल

बलरामपुर। नशे में धुत तेज रफ्तार वाहन चालक ने दो अलग-अलग स्थानों पर बाइक सवारों को टक्कर मार दी। घटना में पेशे से वकील एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीन अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। जिला अस्पताल में हालत गंभीर होने पर घायलों को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने मृतक के भाई की तहरीर पर केस दर्ज कर मामले की छानबीन कर रही है।
नगर के भगवतीगंज निवासी रमन कश्यप एडवोकेट(35) गुरुवार की शाम करीब आठ बजे अपने ससुराल तुलसीपुर में मुंडन समारोह में शामिल होने जा रहे थे। नेशनल हाईवे पर लौकहवा के पास तुलसीपुर की तरफ से आ रही तेज रफ्तार गाड़ी ने रमन की बाइक में टक्कर मार दी।
घटना में रमन की मौके पर ही मौत हो गई। दूसरी घटना इसी बौद्घ परिपथ पर चैपुरवा गांव के पास वाहन ने तीन बाइक सवारों को टक्कर मार दिया। घटना में बाबूराम(28), शंकर(32) तथा डब्लू (30) गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर मौजूद लोगों के मुताबिक वाहन चालक काफी तेज गति एवं नशे में धुत था।
घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची यूपी-112 की टीम ने एंबुलेंस से सभी को जिला मेमोरियल अस्पताल पहुंचाया। जिला अस्पताल में हालत गंभीर होने पर घायलों को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। प्रभारी निरीक्षक चंद्रहास मिश्र ने बताया कि मृतक रमन कश्यप के बड़े भाई मुराली कश्यप की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। वाहन को कब्जे में ले लिया गया है। मामले की छानबीन की जा रही है।
... और पढ़ें

वोटरों को जागरुक करने का चलाया जाएगा अभियान

बलरामपुर। वोटरों को जागरुक करने का अभियान चलाया जाएगा। 18 वर्ष की आयु पूरा करने वालों को वोटर बनाने का भी अभियान चलेगा। जिला निर्वाचन अधिकारी/डीएम श्रुति के निर्देश पर जिला स्तरीय मतदाता जागरूकता कोर कमेटी की बैठक में अभियान चलाने की रणनीति तैयार की गई। मतदाता जागरूकता कोर कमेटी से जुड़े अफसरों व कर्मियों को अभियान सफल बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई।
उप जिला निर्वाचन अधिकारी/एडीएम राम अभिलाष की अध्यक्षता में बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय मतदाता जागरूकता कोर कमेटी की बैठक हुई। बैठक को संबोधित करते हुए एडीएम ने कहा कि एक जनवरी 2022 को 18 वर्ष की आयु पूरा करने वाले युवक-युवतियों को मतदाता सूची में शामिल कराने के लिए सभी बीएलओ पूरी तरह से जुट जाएं।
जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों में 11 मतदान केंद्र बढ़ाए गए हैं। जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों में अब 1857 पोलिंग बूथों पर विधानसभा चुनाव के दौरान वोटर मतदान कर सकेंगे। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में जिले के 1846 मतदान केंद्रों पर वोटरों ने मतदान किए थे।
वोटरों को बढ़ाने के साथ मतदान को लेकर जागरूकता अभियान भी चलाया जाएगा। डीआईओएस गोविंद राम को प्रत्येक डिग्री कालेज में मतदाता जगरुकता अभियान चलाने के लिए नोडल अधिकारी बनाने का जिम्मा सौंपा गया। नोडल अधिकारी की तरफ से डिग्री कालेज के सभी छात्र-छात्राओं को प्रारुप भरवाकर वोटर बनाया जाएगा।
नोडल अधिकारियों के पास प्रारूप छह, सात, आठ व आठ-ए उपलब्ध रहेगा जिससे मतदाता सूची में नाम जोड़ने व हटाने के साथ दुरुस्त कराया जा सके। इंटर कालेजों में वाद-विवाद प्रतियोगिता कराई जाएगी।
विद्यार्थियों की रैलियां, सांस्कृतिक कार्यक्रम व नुक्कड़ नाटक से जागरुकता अभियान परवान चढ़ाया जाएगा। डीपीआरओ नीलेश प्रताप सिंह के साथ चारों नगर निकायों के ईओ को प्रचार-प्रसार कराने व तीनों तहसीलों के तहसीलदारों को बीएलओ के माध्यम से घर-घर सत्यापन कराने का जिम्मा सौंपा गया।
बैठक में अपर सीएमओ डा. एके सिंहल, प्रभारी डीआईओएस डॉ. चंदन पांडेय, महिला कल्याण अधिकारी रागिनी मिश्रा व डीपीओ राजेन्द्र कुमार आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

हक की लड़ाई के लिए एकजुट हो थारू समाज के लोग

बलरामपुर। थारू जनजाति समाजोत्थान समिति की तरफ से शनिवार को राजकीय इंटर कालेज विशुनपुर विश्राम में संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में थारू समाज के लोगों को हक की लड़ाई के लिए एकजुट होने का आह्वान किया गया।
संगोष्ठी का शुभारंभ मुख्य अतिथि मूल आदिवासी जनजाति कल्याण के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय बहादुर चौधरी, विशिष्ट अतिथि चंद्रराम चौधरी, सचिव जनजाति उत्थान थारू मंगल प्रसाद राना व महाराणा प्रताप जनजातीय सेवा संस्थान के अध्यक्ष मदन लाल ने किया।
अतिथियों ने थारूओं को अपने अधिकार की रक्षा तथा थारू जनजाति के उत्थान के लिए संगठित रहने का आह्वान किया। कहा कि कुछ स्थानों पर फर्जी जनजातियों द्वारा थारू जनजाति के हक का हनन किया जा रहा है। प्रदेश के मऊ, आजमगढ़, बलिया, गाजीपुर, चंदौली, गोरखपुर, देवरिया व महराजगंज आदि जगहों पर गौढ़ जातियों द्वारा फर्जी तरीके से अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र बनवाकर अनुसूचित जनजाति की नौकरी किया जा रहा है।
उसके विरुद्ध समाज को संगठित होना पड़ेगा। सरकार की तरफ से जन जातियों का शोषण किया जा रहा है। थारू समाज अब जागरूक हो रहा है। आने वाले चुनाव में सोच समझ कर फैसला लिया जाएगा।
... और पढ़ें

पुलिस की पिटाई से युवक घायल, मची अफरा तफरी

बलरामपुर। घर से बाल कटवाने के लिए बाहर निकले युवक को पुलिस ने कोतवाली ले आकर बुरी तरह से पीट दिया। गंभीर रूप से घायल युवक को पुलिस अस्पताल ले गई। जहां हालत गंभीर होने पर संयुक्त जिला अस्पताल ले जाया गया। युवक के पिता ने एसपी को प्रार्थना पत्र देकर आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ केस दर्ज कराने की मांग की है। दूसरी ओर खुद को फंसते देखकर पुलिस अब मामले को रफा-दफा करने में जुटी है।
उतरौला नगर के मोहल्ला रफीनगर निवासी युवक सैफ अब्बास ने बताया कि शनिवार की सुबह 11 बजे घर से बाल कटवाने निकला था। स्थानीय बस स्टाप पर मित्र का इंतजार कर रहा था। इसी बीच पुलिस वर्दी में पुरुष आरक्षी व सादी वर्दी में महिला आरक्षी आए और साथ चलने को कहा। यह लोग कोतवाली ले आकर एसआई राम नारायण के सामने पेश किया। एसआई ने लॉकअप में डालने का फरमान सुना दिया।
बताया कि ड्यूटी पर तैनात पहरा आरक्षी ने रायफल की बट से मारा। वह थाने में बेहोश हो गया। मौके पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक मुझे पुलिस की गाड़ी से अस्पताल ले गए और इलाज कराया।
युवक के पिता कफील अब्बास ने एसपी को प्रार्थना पत्र देकर बेटे की पिटाई करने वाले पुलिस कर्मियों के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है। प्रभारी निरीक्षक अनिल सिंह ने बताया कि सैफ ने सादी वार्दी में तैनात महिला आरक्षी के खिलाफ टिप्पणी की थी। इसी आरोप में एंटी रोमियो की स्कवायड टीम उसे थाने ले आई थी। धक्का लगकर गिरने से उसके सिर में चोट आई है। दवा दिला दी गई है। सब मामला खत्म हो गया है।
... और पढ़ें

सड़क हादसे में चार घायल

देहात (बलरामपुर)। शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर से दर्शन कर वापस लौट रहे टेंपो को ट्रक ने साइड से टक्कर मार दी। दुर्घटना में चार लोग घायल हुए हैं। घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
प्रभारी निरीक्षक देहात कोतवाली विद्या सागर वर्मा ने बताया कि पयागपुर जनपद बहराइच के कुछ लोग टेंपो से शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर तुलसीपुर शारदीय नवरात्र में पूजा अर्चना के लिए आए थे। पूजन दर्शन के बाद लोग वापस पयागपुर जा रहे थे। नेशनल हाईवे सिसई गांव के पास बलरामपुर की ओर से तुलसीपुर जा रही ट्रक ने टेंपो को साइड से टक्कर मार दी।
इसके बाद टेंपो पलट गया। टेंपो में करीब 15 लोग सवार थे। इनमें से मझिला, कांति, सन्नू व मोनू गंभीर रूप से घायल हो गए। इन लोगों को इलाज के लिए एंबुलेंस से जिला अस्पताल भेजा गया है। मामले की छानबीन की जा रही है।
... और पढ़ें

2.72 लाख बच्चे आंगनबाड़ी केंद्रों पर सीखेंगे अक्षर ज्ञान

बलरामपुर। जिले के 2.72 लाख बच्चे आंगनबाड़ी केंद्रों पर अक्षर पहचानने का तरीका सीखेंगे। तीन से छह साल तक के बच्चों में बौद्घिक क्षमता विकसित करने के लिए कांवेंट स्कूलों के तर्ज पर आंगनबाड़ी केंद्रों पर शैक्षिक गतिविधियां शुरू किए जाने की अनूठी पहल की गई है।
इसके तहत चार अक्तूबर से कोरोना प्रोटोकाल के साथ आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने शैक्षिक गतिविधियां के संचालन का जिम्मा संभाला है। सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को विभागीय कार्यों का निस्तारण कराने के लिए पहले से ही स्मार्ट फोन दिए गए हैं।
बाल विकास सेवा पुष्टाहार विभाग ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को डोर-टू-डोर भ्रमण, केंद्रों को खोलने से पहले ही सभी तैयारी, कलेंडर निर्धारित करने व अन्य दिशा-निर्देश दिए हैं। जिले के 1882 आंगनबाड़ी केंद्रों से जुड़े तीन से छह साल तक के बच्चों को पढ़ाने का कलेंडर जारी किया गया है। प्रत्येक सप्ताह के सोमवार को 30 मिनट तक बच्चे प्रथम चक्र में नाम बताएंगे।
इसके साथ ही उन्हें खेल, ताली व चुटकी से कविता पढ़ाई जाएगी। तीन से छह वर्ष तक के बच्चे 60 मिनट तक द्वितीय चक्र में खेल व रंग मिलाना और तीसरे चक्र में 30 मिनट तक रस्सी पर चलना, चौथे चक्र में 30 मिनट तक रचनात्मक चित्रकारी व हिंदी में ध्वनि की पहचान और पांचवे चक्र में 30 मिनट तक हम हिंदुस्तानी कहानी की किताब को पढ़ाया जाएगा।
इसके बाद मंगलवार को वजन दिवस, बुद्घवार वीएचएसएनडी, गुरुवार रंग भरना, अक्षर ज्ञान, खेल, अंग्रेजी अक्षर की पहचान, शारीरिक व्यायाम व सवेरे चिड़िया बोली कविता सिखाई जाएगी। शुक्रवार व शनिवार को थीम पर आधारित कार्यक्रम कराए जाएंगे। जिले में कुल 1882 आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन किया जा रहा है जिसमें 70 मिनी आंगनबाड़ी केंद्र शामिल हैं।
विभाग के पास 942 निजी भवन हैं जिसमें 133 निर्माणाधीन हैं। नवनिर्मित 50 केंद्रों के भवन हैंडओवर होने की स्थिति में हैं। जिले में 915 आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन प्राथमिक विद्यालयों के भवन में हो रहा है। जिले में 1882 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की तुलना में 1423 की और 1782 सहायिकाओं की तुलना में 1379 की तैनाती है।
हर माह गर्भवती/धात्री महिलाओं, छह माह से तीन वर्ष तक बच्चों को एक-एक किलोग्राम चावल-चना दाल व 445 ग्राम सोयाबीन तेल, तीन से छह वर्ष तक के बच्चों को एक-एक किलोग्राम चावल-चना दाल और अतिकुपोषित बच्चों को 1.5 किलोग्राम चावल, दो किलोग्राम चना दाल व 445 ग्राम सोयाबीन तेल दिया जाएगा।
डीपीओ राजेंद्र कुमार ने बताया कि जिले के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों के नियमित संचालन का निर्देश कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं को दिया गया है। सभी 10 परियोजनाओं में तैनात बाल विकास परियोजना के अधिकारियों को केंद्रों का नियमित निरीक्षण कर इसकी पूरी रिपोर्ट कार्यालय को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। निर्देश के अनुपालन में लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

गैरहाजिर शिक्षक को बर्खास्त करने की चेतावनी

बलरामपुर। स्कूल से गायब शिक्षक को बर्खास्त करने की चेतावनी दी गई है। बिना सूचना के नौ माह से स्कूल से लगातार अनुपस्थित रहने वाले लापरवाह शिक्षक पर कार्रवाई करने का शिकंजा कसा गया है। गैड़ास बुजुर्ग शिक्षा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय बड़हरी पांडेय में शिक्षक तैनात रहा है। निलंबित शिक्षक का नौ माह से वेतन भुगतान नहीं किया जा रहा है।
बीएसए डॉ. रामचंद्र ने बीते दिन बताया कि बीईओ गैड़ास बुजुर्ग रविशंकर उपाध्याय ने चार अक्तूबर 2021 को उन्हें अवगत कराया कि प्राथमिक विद्यालय, बड़हरी पांडेय के सहायक अध्यापक सुनील कुमार फरवरी 2021 से लगातार अनुपस्थित है। तत्कालीन बीईओ स्व. ओपी कुशवाहा ने सुनील कुमार का वेतन फरवरी माह से रोक दिया था। बीईओ के निरीक्षण के दौरान सुनील कुमार बिना सूचना के लगातार स्कूल से गायब पाए गए हैं।
बीएसए ने सुनील कुमार को प्रथम अवसर प्रदान करते हुए सभी सुसंगत साक्ष्यों के साथ 18 अक्तूबर को बेसिक शिक्षा कार्यालय की सुनवाई में शामिल होने का निर्देश दिया है। सुनवाई में शामिल न होने पर सुनील कुमार को सहायक अध्यापक के पद से बर्खास्त करने की चेतावनी दी है।
... और पढ़ें

लागत अधिक सरकारी मूल्य कम, कैसे कराएं विकास काम

बलरामपुर। गांव में कराए जाने वाले विकास कार्यों की सामग्री का बाजार मूल्य अधिक है, जबकि इसके लिए अभी भी काफी कम बजट मिल रहा है। इससे प्रधानों को विकास कार्य कराने में काफी दिक्कत होती है। बीते दिन अखिल भारतीय पंचायत परिषद प्रधान संघ ने लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता डीएन राम से मिलकर बाजार मूल्य के अनुसार भुगतान कराने की मांग की है।
अखिल भारतीय पंचायत परिषद प्रधान संघ के जिलाध्यक्ष शांतिभूषण की अगुवाई में प्रधानों ने गोंडा स्थित लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता से मुलाकात की। जिला उपाध्यक्ष अनूप पांडेय, महामंत्री शशिकांत त्रिपाठी, नाजिर, अय्यूब खां व ब्लॉक अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने कहा कि गांव में इंटरलाकिंग, नाली व सीसी रोड निर्माण आदि कार्य कराए जाते हैं। सीमेंट, इंटर लाकिंग ईंट, मोरंग, बालू, सरिया व गिट्टी आदि सामग्री प्रधानों को बाजार से खरीदनी पड़ती है।
कहा गया कि बाजार में सीमेंट 390 रुपये प्रति बोरी की दर से मिल रही है, जबकि प्रधानों को मात्र 270 रुपये प्रति बोरी की दर से भुगतान किया जाता है। बाजार में साढ़े छह से सात हजार रुपये प्रति हजार की दर से ईंट मिलती है, जबकि सरकारी दर साढ़े पांच हजार रुपये है। इसी प्रकार अन्य सामग्री के रेट में भिन्नता है। ग्राम प्रधान पुनीत यादव, महेश सिंह व परमानंद मिश्र ने कहा कि मंडल के अन्य जिलों में सरकारी रेट बलरामपुर की अपेक्षा अधिक है। ऐसे में प्रशासन जिले के प्रधानों के साथ सौतेला व्यवहार कर रहा है। अधीक्षण अभियंता ने ग्राम प्रधानों को आश्वासन दिया कि जल्द वह अन्य जिलों से बाजार दर की सूची मंगाकर समस्या का समाधान कराएंगे।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00