बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
इस वर्ष गणेश चतुर्थी पर बप्पा के घर में आगमन से होंगी ये राशियां धनवान
Myjyotish

इस वर्ष गणेश चतुर्थी पर बप्पा के घर में आगमन से होंगी ये राशियां धनवान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

मैनपुरी नवोदय छात्रा की मौत का मामला: सुराग जुटाने की हर कोशिश, एडीजी ने दीवार फांदकर अंदर घुसाए सिपाही

मैनपुरी पहुंचने के बाद रविवार को एसआईटी दोबारा भोगांव स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में जांच के लिए पहुंची। इस बार एडीजी ने विद्यालय के गर्ल्स हॉस्टल के पीछे जाकर सिपाहियों को दीवार फांदकर अंदर घुसाया। साथ ही पीछे खेतों में भी सुराग तलाशे। लगभग एक घंटे छानबीन के बाद टीम वापस कैंप कार्यालय लौट गई। नवोदय की छात्रा के कथित मौत के मामले में एसआईटी सुराग जुटाने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। रविवार को दोपहर 12 बजे से एसआईटी जिले में आने के बाद दूसरी बार नवोदय पहुंची। इस बार गेट पर ही गाड़ियों को छोड़ टीम ने खेतों का रास्ता लिया। विद्यालय के किनारे से खेतों में होते हुए एडीजी भानु भास्कर समेत अन्य अधिकारी नवोदय विद्यालय के पीछे पहुंचे। विद्यालय परिसर में बने गर्ल्स हॉस्टल (जहां छात्रा का शव मिला था) के ठीक पीछे टीम पहुंची। यहां एडीजी के आदेश पर बाहरी दीवार कूदकर सिपाही अंदर दाखिल हुए। एक नहीं तीन-तीन सिपाहियों को दीवार फांदकर अंदर दाखिल कराया गया।  
... और पढ़ें

आगरा: डॉक्टर के घर 20 लाख की डकैती का मामला, मजदूर ने की थी घर की रेकी, सीसीटीवी से मिले सुराग

आगरा में आवास विकास कॉलोनी के सेक्टर 2-बी में डॉक्टर जसवंत राय के घर में डकैती में पुलिस को अहम सुराग मिले हैं। सूत्रों के मुताबिक, एक मजदूर ने वारदात कराई थी। पुलिस अब बदमाशों की गिरफ्तारी के प्रयास में लगी है। डॉ. जसवंत राय के घर में शनिवार रात को साढ़े आठ बजे पांच बदमाशों ने डकैती डाली थी। तमंचे की बट मारकर डॉ. जसवंत को घायल कर दिया था। उनकी पत्नी डॉ. सुनीता और अनुज वधू सीमा को भी बंधक बना लिया था। इसके बाद आठ लाख रुपये नगद और 12 लाख के जेवरात लूटकर ले गए थे। बदमाश आते ही परिवार से कैश और जेवरात के बारे में पूछ रहे थे। चाभी मांगी थी। इसके बाद अंदर के कमरे में घसीटकर ले गए थे। पीछे के कमरे की जानकारी किसी परिचित को ही हो सकती थी। इसलिए पुलिस का शक किसी जानकार पर था। एसपी सिटी विकास कुमार ने बताया कि बदमाशों की गिरफ्तारी के प्रयास में पुलिस टीम लगी हैं। कुछ सुराग मिले हैं। उन पर पुलिस टीम कार्य कर रही है।
... और पढ़ें

अभिभावकों के खातों में पहुंचेगी ड्रेस और जूता मोजा के लिए धनराशि

आगरा में झमाझम बारिश: शहर की 'लाइफ लाइन पानी-पानी', गाड़ियां बंद होने से लोग परेशान

आगरा: झमाझम बारिश के बाद सेंट जोंस का हाल आगरा: झमाझम बारिश के बाद सेंट जोंस का हाल

आगरा डॉक्टर के घर डकैती कांड: ठेकेदार के बेटे ने दिया था अंजाम, आगरा पुलिस ने किए पांच गिरफ्तार

आगरा में आवास विकास कॉलोनी के सेक्टर 2-बी में डॉक्टर जसवंत राय के घर में डकैती का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। कारपेंटर के बेटे मुशर्रफ ने पूरी घटना को अंजाम दिलवाया था। पुलिस ने तीन बदमाश और रकम छिपाने वाले गिरफ्तार किए हैं। पुलिस ने आरोपियों से चार लाख रुपये से अधिक की रकम भी बरामद की है। सरगना पूर्व में भी डकैती कर चुका है। बता दें कि डॉ. जसवंत राय के घर में विगत शनिवार रात को साढ़े आठ बजे पांच बदमाशों ने डकैती डाली थी। तमंचे की बट मारकर डॉ. जसवंत को घायल कर दिया था। उनकी पत्नी डॉ. सुनीता और अनुज वधू सीमा को भी बंधक बना लिया था। इसके बाद आठ लाख कैश और 12 लाख के जेवरात लूटकर ले गए थे। बदमाश आते ही परिवार से कैश और जेवरात के बारे में पूछ रहे थे, चाभी मांगी थी। इसके बाद अंदर के कमरे में घसीटकर ले गए थे। पीछे के कमरे की जानकारी किसी परिचित को ही हो सकती थी। इसलिए पुलिस का शक किसी जानकार पर था। पुलिस ने बताया कि बदमाशों की गिरफ्तारी के प्रयास में पुलिस टीम लगी हैं। कई अहम सुराग मिले। पुलिस टीम ने उनपर कार्य किया और सफलता पाई।
... और पढ़ें

आगरा: दुष्कर्म पीड़िता ने जहरीला पदार्थ खाकर दी जान, जेल में है आरोपी

आगरा में बरहन क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली 17 वर्षीय दुष्कर्म पीड़ित किशोरी ने सोमवार को जहरीला पदार्थ खाकर जान दे दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने छानबीन कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा।  
गांव के युवक पर लगाया था आरोप
थानाध्यक्ष बरहन बहादुर सिंह ने बताया कि 12 जुलाई को किशोरी की तरफ से दुष्कर्म किए जाने की तहरीर दी थी। आरोप लगाया था कि 10 जुलाई की रात गांव का ही एक युवक उसे सोते समय जबरन उठा ले गया था। पीड़िता की तहरीर पर गांव निवासी मुरारी के खिलाफ दुष्कर्म और पोक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपी मुरारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। अभी आरोपी जेल में ही है। इधर, सोमवार को  किशोरी ने जहरीला पदार्थ खा लिया। जिससे उसकी मौत हो गई।
इसी साल पास की थी 12वीं की परीक्षा
एसओ ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस जांच कर रही है कि किशोरी ने किन परिस्थितियों में जहर खाकर जान दी है। किशोरी ने इसी साल 12वीं की परीक्षा पास की थी। उसकी मौत से घर में मातम पसरा हुआ है।
ये भी पढ़ें:
डॉक्टर के घर डकैती कांड: आठ टीमें, 24 घंटे में 50 संदिग्धों से पूछताछ, नतीजा शून्य, दहशत में परिवार 
आगरा: 24 घंटे में बुखार से दो बच्चों की मौत, एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती 14 मरीजों को डेंगू

 
... और पढ़ें

भाजपा का बड़ा दांव: उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल बेबीरानी को बनाया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, चुनाव में रहेगी अहम भूमिका

उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल बेबीरानी मौर्य को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपकर बड़ा दांव खेला है। अब सक्रिय राजनीति में लौटने पर उन्हें प्रदेश के विधानसभा चुनाव में पार्टी के दलित नेता के तौर पर अहम भूमिका दी जा सकती है।  

आगरा की रहने वाली बेबीरानी मौर्य ने अपने राजनीतिक कैरियर की शुरुआत 1995 में आगरा की पहली महिला महापौर बनकर की थी। महापौर का कार्यकाल खत्म होने के बाद वह पार्टी के अनुसूचित मोर्चा की राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रहीं। विभिन्न पदों पर काम किया। 

संबंधित खबर- 
बेबी रानी मौर्य: इस्तीफे से बढ़ाई राजनीतिक हलचल, ऐसे तय किया था मेयर से राज्यपाल तक का सफर

तीन साल पहले बनीं थीं उत्तराखंड की राज्यपाल
तीन साल पहले उन्हें उत्तराखंड का राज्यपाल बनाकर भेजा गया था। आठ सितंबर को उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। तभी से यह कयास लगाए जा रहे थे कि बेबीरानी मौर्य को पार्टी बड़ी जिम्मेदारी सौंपेगी। अब पार्टी उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाकर इस पर मुहर लगा दी।  ... और पढ़ें

आगरा: अवैध होर्डिंग से नगर निगम को लाखों रुपये के टैक्स का नुकसान, अधिकारियों ने दिए हटाने के आदेश

उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल बेबीरानी मौर्य
आगरा शहर के चौराहों पर लगे अवैध होर्डिंगों के कारण केवल एक महीने के अंदर ही नगर निगम को 55 लाख रुपये के टैक्स का नुकसान हुआ है। केवल निगम ही नहीं, बल्कि इन्हें लगाने के लिए करोड़ों रुपये की सड़कों और नए बने फुटपाथ, इंटरलॉकिंग टाइल्स को भी उखाड़ दिया गया है। 
फ्लेक्स कारोबारियों और वेंडरों ने पीडब्ल्यूडी द्वारा एमजी रोड पर बनाए गए फुटपाथ, फतेहाबाद रोड पर स्मार्ट सिटी के  फुटपाथ, यमुना किनारा पर नगर निगम और बाकी शहर में नगर निगम की करोड़ों रुपये की सड़कों की खोदाई कर बल्लियों पर अवैध होर्डिंग लगाए हैं। नगर निगम का विज्ञापन विभाग पांच दिन से इनके खिलाफ कार्रवाई करने से बच रहा है, जबकि मेयर नवीन जैन गुरुवार को ही अवैध होर्डिंग हटाने के आदेश दे चुके थे। 

दुकान पर झुका होर्डिंग
मेरी दुकान के बाहर बिजली के पोल और एक बल्ली लगाकर होर्डिंग लगा दिया है। पूरी दुकान तो छिप ही गई, तीन दिन पहले तेज हवा में होर्डिंग झुककर दुकान के गेट पर गिरने के कगार पर है। - श्याम बिहारी, आवास विकास कॉलोनी

हो रहे हैं हादसे
चौराहों के मोड़ पर अवैध होर्डिंग ऐसे लगाए हैं कि सड़क पर वाहनों का दिखना बंद हो गया। अचानक से मुड़ने पर वाहन टकरा रहे हैं। इनके कारण हादसे हो रहे हैं। - नितिन जैन, बल्केश्वर

हटेंगे होर्डिंग
सोमवार को कुछ कार्यों के कारण अभियान शुरू नहीं हो पाया। नगर निगम की टीम अवैध होर्डिंगों को हटाने का काम करेगी। पूरे शहर में लगे अवैध होर्डिंग हटाए जाएंगे। - निखिल टी फुंडे, नगर आयुक्त

अवैध होर्डिंग हटाने को कहा
मैने नगर आयुक्त से अवैध होर्डिंग हटवाने के लिए कहा था, पर अब तक क्यों नहीं हटाए गए, इस पर उनसे वार्ता करूंगा। कोई भी अवैध होर्डिंग हो, उसे हटाएं, चाहे किसी का भी हो। हमारे यूनीपोल पर ही लगाएं। - नवीन जैन, मेयर

ब्रज में बुखार का प्रकोप: डेंगू और वायरल से 12 लोगों की मौत, फिरोजाबाद में सबसे अधिक सात ने तोड़ा दम
 
... और पढ़ें

ऐसे मददगारों से बचकर रहें: बुलंदशहर का गैंग एटीएम में मदद का झांसा देकर खाते से निकालता था रुपये, आगरा पुलिस ने एक पकड़ा

आगरा की थाना न्यू आगरा पुलिस ने एटीएम केबिन में मदद का झांसा देकर एटीएम बदलकर खाते से रकम निकालने वाले गैंग के एक सदस्य को जेल भेजा है। पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि आरोपी एटीएम के कम जानकार लोगों को अपना शिकार बनाता था।
एसपी सिटी विकास कुमार ने बताया कि बुलंदशहर के गांव चिट्टा निवासी बिल्लू को गिरफ्तार किया है। उसके पास से एक मोबाइल और 29 एटीएम कार्ड बरामद हुए हैं। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह अपने साथी वाहिद के साथ एटीएम के पास खड़े रहते हैं। ऐसे लोगों के इंतजार में रहते हैं, जो एटीएम के कम जानकार होते हैं। जब वो रुपये निकालने आते हैं, तब उनके पास आ जाते हैं। पिन देख लेते हैं। इसके बाद रुपये नहीं निकलने पर कार्ड लेकर बदलकर दूसरा दे देते हैं। इसके बाद लोगों के एटीएम कार्ड से रकम निकाल लेते हैं।
दोनों साथी एटीएम केबिन में ही मौजूद रहते हैं। वाहिद बाहर खड़ा होकर आने वाले लोगों पर नजर रखता है। शहर में भगवान टाकीज, टेढ़ी बगिया सहित कई स्थानों पर एटीएम में वारदात की हैं। 18 सितंबर को एक महिला भगवान टाकीज स्थित एटीएम में रुपये निकालने आई थी। उसे मदद के बहाने झांसे में ले लिया था। इसके बाद एटीएम बदलकर खाते से 25 हजार रुपये निकाल लिए थे।

महिलाओं ने पकड़ा था बदमाश
आगरा के भगवान टाकीज चौराहे पर एटीएम बूथ में मदद का झांसा देकर एक ठग ने महिला का एटीएम कार्ड बदलकर खाते से 25 हजार रुपये निकाल लिए। महिला बैंक में एटीएम कार्ड बंद कराने पहुंची। वहां पर ठग एटीएम बूथ से बाहर निकलता मिल गया। महिला ने उसे पहचान लिया। साहस दिखाते हुए उसे सहेली की मदद से पकड़ लिया। उसकी चप्पल से पिटाई लगाई। इसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया। कालिंदी विहार के किरन बाग निवासी नीतू चौधरी पत्नी योगेश कुमार शनिवार दोपहर को एक बजे परिचित नीतू शर्मा के साथ भगवान टाकीज खरीदारी करने आई थीं। वह पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम से कैश निकालने पहुंचीं। कार्ड लगाने पर कैश नहीं निकला। पीछे खड़ा युवक आया। उसने कार्ड लगाया। इस दौरान उनका कार्ड बदल दिया। उसने कहा कि दूसरे एटीएम से कैश निकाल लो। यहां सर्वर डाउन है। नीतू चौधरी बाहर आ गईं। उनके मोबाइल पर कुछ देर बाद खाते से 25 हजार रुपये निकलने का मैसेज आया। यह देख उनके होश उड़ गए। उन्होंने पति योगेश को जानकारी दी। उन्होंने कालिंदी विहार स्थित यूनियन बैंक आकर एटीएम कार्ड बंद कराने के लिए बोला। इस पर दोनों यूनियन बैंक पर आईं। थाना एत्माद्दौला से फोर्स पहुंचा। पुलिस ने युवक को बचाया। उसे न्यू आगरा थाना भेज दिया। थाना न्यू आगरा के प्रभारी निरीक्षक भूपेंद्र कुमार का कहना है कि एक महिला का एटीएम कार्ड बदलकर खाते से 25 हजार रुपये निकाले गए थे।

मैनपुरी नवोदय छात्रा की मौत का मामला: दो साल बाद एसआईटी की छात्रा का पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सक से पूछताछ, इन पहलुओं पर जांच


आगरा: साहसी महिलाओं ने पकड़ा शातिर ठग, चप्पलों से पीटा, एटीएम कार्ड बदल निकाले थे 25 हजार रुपये



 
... और पढ़ें

आगरा: अंधेरे में हादसों-वारदात की झड़ी, पांच हजार से ज्यादा स्ट्रीट लाइटें बंद

आगरा शहर में पांच हजार से ज्यादा स्ट्रीट लाइटें खराब पड़ी हैं, अंधेरे के कारण हादसों और अपराध की झड़ी लग गई है। एसएसपी ने भी नगर निगम से बंद पड़ी स्ट्रीट लाइटों को ठीक कराने के लिए कहा है, फिर भी यमुनापार, ट्रांसयमुना, पश्चिमपुरी, सिकंदरा, राजपुर चुंगी, अवधपुरी समेत नवविकसित क्षेत्रों की सड़कों पर अंधेरा छाया हुआ है। अब नगर निगम के पार्षदों ने भी नगर आयुक्त से मिलकर उन्हें बंद पड़ी स्ट्रीट लाइटें चालू कराने की मांग उठाई है।

ये मेरी लाइट नहीं... झूल रहीं शिकायतें
शहर में स्ट्रीट लाइटों के 55 हजार से ज्यादा प्वाइंट हैं। इनमें अधिकांश स्ट्रीट लाइटें ईईएसएल और नगर निगम की हैं। एडीए की भी स्ट्रीट लाइटें लगी हैं।  ईईएसएल को शिकायत करने पर कर्मचारी उन्हें नगर निगम का बताकर पल्ला झाड़ रहे हैं। ज्यादातर एलईडी लाइटों के उपकरण खराब हैं। पतली केबिल और घटिया उपकरणों के कारण स्ट्रीट लाइटें बंद पड़ी हैं। मरम्मत से पल्ला झाड़ने के कारण शहर की सड़कों पर अंधेरा है।

यहां बंद पड़ी हैं स्ट्रीट लाइटें
शहर में पश्चिमपुरी रोड, अरविंद पुरम रोड, हिलमैन स्कूल से यूपीएसआईडीसी रोड, अवधपुरी-अलबतिया रोड, आवास विकास कॉलोनी, कैलाशपुरी गुरुद्वारा फ्लाईओवर, महर्षिपुरम रोड, बल्केश्वर, पृथ्वीनाथ फाटक से शंकरगढ़ पुलिया रोड, लोहामंडी, खातीपाड़ा, यमुनापार, टेढ़ी बगिया, 100 फुटा रोड, ट्रांसयमुना कॉलोनी, पीपलमंडी, कालामहल, राजपुर चुंगी, श्मशाबाद रोड पर स्ट्रीट लाइटें बंद पड़ी हैं।
... और पढ़ें

मैनपुरी नवोदय छात्रा की मौत का मामला: दो साल बाद एसआईटी की छात्रा का पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सक से पूछताछ, इन पहलुओं पर जांच

मैनपुरी के जवाहर नवोदय विद्यालय में जांच के बाद एसआईटी (विशेष जांच दल) ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट का रुख किया है। सोमवार को जांच दल के सदस्यों ने सौ शैय्या अस्पताल पहुंचकर छात्रा का पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सकों से पूछताछ की। लगभग आधे घंटे तक पूछताछ के बाद एसआईटी की टीम वापस लौट गई। एसआईटी छात्रा की कथित मौत और दुष्कर्म के मामले में हर पहलू पर बारीकी से जांच कर रही है। पहले चरण में नवोदय विद्यालय में घटनास्थल से शुरुआत कर परिसर और आसपास छानबीन की थी। दूसरे दिन बाहर से किसी व्यक्ति के प्रवेश की आशंका पर जांच की गई। छात्रा के परिजनों से भी पूछताछ की गई। सोमवार को एसआईटी के सदस्यों ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अध्ययन किया। पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सकों से पूछताछ की गई। दोपहर साढ़े 12 बजे के करीब एसआईटी में शामिल डीएसपी तनु उपाध्याय और इंस्पेक्टर पूनम अवस्थी सौ शैय्या अस्पताल पहुंचीं। उन्होंने पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सकों से रिपोर्ट पर चर्चा की। साथ ही उनकी नजर में मृत्यु एक आत्महत्या है या फिर हत्या इस बारे में जानकारी जुटाई। 
... और पढ़ें

Dengue: ब्रज में बुखार का प्रकोप, डेंगू और वायरल से 12 लोगों की मौत, फिरोजाबाद में सबसे अधिक सात ने तोड़ा दम

ब्रज में डेंगू व बुखार का प्रकोप कम नहीं हो रहा है। सोमवार को फिरोजाबाद में सात, कासगंज में दो, मैनपुरी, आगरा और मथुरा में एक-एकमौत हो गई। फिरोजाबाद के हिमांयूपुर निवासी करन (16) अवधेश की सौ शैय्या अस्पताल में मृत्यु हो गई। परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। गढ़ी तिवारी में गोलू (11) पुत्र पप्पू, रसूलपुर में कालीचरन (60) पुत्र रामभरोसे, धनीराम (70) पुत्र रामदयाल और रोशनी (28) पुत्री सियाराम की भी मौत हो गई। खैरगढ़ के कनवारा निवासी शबनम (18) पुत्री महेंद्र सिंह, पिंकी (22) पुत्री ज्वाला की भी बुखार से मौत हो गई। कासगंज के गनेशपुर निवासी आलिया (7 माह) पुत्री मोहम्मद मारूफ व पटियाली क्षेत्र के सिकंदरपुर वैश्य के बहोरा में नेकसू (55) पुत्र हेतराम की बुखार से मौत हो गई। मैनपुरी के गढ़िया जैन निवासी श्याम कुमार की पत्नी उमा देवी (42) की बुखार से आगरा में मौत हो गई।
... और पढ़ें

आगरा: 24 घंटे में बुखार से दो बच्चों की मौत, एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती 14 मरीजों को डेंगू

आगरा के खंदौली क्षेत्र के गांव खड़िया में बुखार से रविवार की रात एक वर्ष की बच्ची की मौत हो गई। उसे दो दिन से बुखार आ रहा था। परिजन निजी अस्पताल से उपचार करा रहे थे। इससे पहले गुरुवार को भी गांव की सात वर्षीय बालिका मोहिनी की मौत हुई थी। अब भी यहां कई लोग बुखार से पीड़ित हैं। पांच दिनों में दो बालिकाओं की मौत से गांव में दहशत भी है। 

खड़िया गांव निवासी ब्रजेश कुशवाह ने बताया कि उसकी एक वर्ष की पुत्री जिव्या को दो दिनों से बुखार था। जिसका आगरा एक निजी चिकित्सक से इलाज करा रहे थे। रविवार की रात अचानक तेज बुखार होने पर वह बेटी को लेकर आगरा जा रहा था। रास्ते में ही मौत हो गई। स्वास्थ्य केंद्र खंदौली के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. उपेंद्र कुमार ने बताया कि मंगलवार को गांव में फिर से शिविर लगाकर बीमारों का इलाज किया जाएगा। 

बाह के नीमडाडा में आठ माह के बच्चे की मौत 
बाह क्षेत्र के गांव नीमडाडा में रविवार को बुखार से आठ माह के आरव की मौत हो गई। परिजन आरव का झोलाछाप से इलाज करा रहे थे। सोमवार को उसकी ताई माधुरी (23) और उनके बेटे कुनाल (4) की बुखार से हालत बिगड़ गई। परिजन इलाज के लिए सीएचसी लेकर पहुंचे। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X