विज्ञापन
विज्ञापन
शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021
Myjyotish

शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

विधानसभा चुनाव: यूपी में एक नवंबर से अधिकारियों के तबादले पर लगेगी रोक, पांच जनवरी तक प्रभावी

प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान 1 नवंबर से शुरू होगा। मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान शुरू होने के साथ ही प्रदेश में अधिकारियों के तबादलों पर रोक लग जाएगी। आयोग की पूर्व अनुमति के बगैर जिलाधिकारी से लेकर ब्लाक स्तर तक के अधिकारियों के तबादले नहीं किए जा सकेंगे। यह रोक 5 जनवरी 2022 तक मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन तक प्रभावी रहेगी।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए मतदाता सूचियों के संक्षिप्त पुनरीक्षण का कार्य 1 नवंबर से प्रारंभ होगा। इसी के साथ ही डीएम से लेकर ब्लाक स्तर तक के अधिकारियों और बूथ लेविल आफीसर्स (बीएलओ) के तबादलों पर रोक भी प्रभावी हो जाएगी। 

इन दौरान जिन अधिकारियों के तबादले नहीं किए जा सकेंगे उनमें डीएम, एडीएम, एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, बीडीओ, चकबंदी अधिकारी तथा सहायक चकबंदी अधिकारी और बीएलओ शामिल हैं। अपरिहार्य परिस्थितियों में किसी अधिकारी का स्थानांतरण करने के लिए शासन को आयोग की पूर्व अनुमति लेनी होगी। 

इसके लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी को प्रस्ताव भेजा जाएगा। मुख्य निर्वाचन अधिकारी इसे अपनी संस्तुति के साथ आयोग को भेजेंगे और आयोग की हरी झंडी मिलने के बाद ही स्थानांतरण आदेश जारी किया जा सकेगा।
... और पढ़ें
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

Prayagraj : संबित पात्रा के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में तहरीर, प्रियंका गांधी की रैली में अजान का मामला

उच्च न्यायालय के अधिवक्ता और कांग्रेस कमेटी की लीगल सेल के उपाध्यक्ष रवींद्र सिंह ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में तहरीर दी है। तहरीर के मुताबिक प्रियंका गांधी ने 10 अक्टूबर को वाराणसी में किसान न्याय रैली का आयोजन किया था।

प्रियंका गांधी के नेतृत्व में रैली का शुभारंभ सर्वधर्म प्रार्थना से हुआ थाm लेकिन संबित पात्रा ने 14 अक्टूबर को ट्वीट किया कि कांग्रेस पार्टी की नेता की उपस्थिति में केवल अजान कराई गई, जबकि सर्वधर्म प्रार्थना में पहले सनातन धर्म, इस्लाम और फिर सिख धर्म से संबंधित प्रार्थना की गई थी। संबित पात्रा ने धार्मिक वैमनस्यता फैलाने के लिए यह हरकत की है। उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जाए। इंस्पेक्टर जेपी शाही ने बताया कि तहरीर की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

पीएम मोदी का काशी आगमन: प्रधानमंत्री की सभा में दो लाख लोगों को जुटाने की तैयारी, हर विधान सभा क्षेत्र को मिला 25 हजार का लक्ष्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 25 अक्तूबर को प्रस्तावित आगमन के मद्देनजर तैयारियां तेज हो गई हैं। शनिवार को सर्किट हाउस में महानगर के मंडल अध्यक्ष व मंडल पदाधिकारी, जिले के मंडल अध्यक्ष व मंडल पदाधिकारी एवं पार्षदों, जिला पंचायत सदस्यों, ब्लाक प्रमुखों, जनप्रतिनिधियों की अलग-अलग बैठकें हुईं।

इस दौरान पीएम की सभा में दो लाख लोगों को जुटाने का लक्ष्य रखा गया। बैठक में भाजपा के प्रदेश सहप्रभारी सुनील ओझा एवं काशी क्षेत्र के अध्यक्ष महेश चंद श्रीवास्तव ने सबकी जिम्मेदारी तय करते हुए जिले की प्रत्येक विधानसभा क्षेत्रों से 25-25 हजार लोगों को बुलाने की जिम्मेदारी सौंपी है।

प्रदेश सह प्रभारी सुनील ओझा ने कहा कि इस दौरान पीएम केंद्र सरकार की रिंगरोड से जुड़ी 65 हजार करोड़ की राष्ट्रीय परियोजना का लोकार्पण-शिलान्यास करेंगे। बैठक में प्रदेश उपाध्यक्ष व एमएलसी लक्ष्मण आचार्य, कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, राज्यमंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी, अशोक चौरसिया, विद्या सागर राय, हंसराज विश्वकर्मा, महापौर मृदुला जायसवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मोर्या, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, सुरेंद्र नारायण सिंह, डॉ अवधेश सिंह, क्षेत्रीय महामंत्री सुशील त्रिपाठी, संतोष पटेल, दिलीप सिंह पटेल, नवरतन राठी, संतोष सोलापुरकर, संजय सोनकर, प्रवीण सिंह गौतम, नवीन कपूर, जगदीश त्रिपाठी, राहुल सिंह, आलोक श्रीवास्तव, शैलेंद्र मिश्रा उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

किल्लत: मेरठवासियों को आज से नहीं मिलेगा गंगाजल, इन स्थानों पर रहेगी पानी की भारी दिक्कत

गंगनहर और रजबहों की सफाई के लिए शुक्रवार मध्यरात्रि हरिद्वार से गंगनहर का पानी रोक दिया गया है। इससे मेरठ महानगर को मिलने वाला 38 हजार एमलडी गंगाजल भी आज से प्रभावित हो जाएगा। 

लगातार 22 दिन तक शहर की जनता को ट्यूबवेल, टैंकर और निजी संसाधनों से ही जलापूर्ति मिलेगी। अधिकारियों का दावा है कि शहर में पानी की कमी नहीं होने दी जाएगी।

यहां रहेगी पानी की भारी किल्लत 
विकासपुरी जलाशय से पूर्वी इस्लामाबाद, गोला कुंआ, स्टेट बैंक कालोनी, बुनकर नगर, रामनगर, आजाद रोड, विकासपुरी, आजाद नगर, लोहारपुरा, श्यामनगर, खुशहाल कालोनी, लक्खीपुरा,  किदवईनगर, उमरनगर, तारापुरी मुमताज नगर, ईदगाह कालोनी, समर कालोनी आदि क्षेत्रों में गंगाजल की आपूर्ति होती है। 

घंटाघर टाउन हॉल जलाशय :
इस जलाशय से घंटाघर, पत्थरवालान, सरायलालदास, लाला का बाजार, नील गली, शीशमहल, डालमपाड़ा, कागजी बाजार, जलीकोठी, केसरगंज, छतरी वाला पीर, खैरनगर, शहर सराफा, कबाड़ी बाजार, ब्रह्मपुरी सहित बड़े इलाकों में गंगाजल की आपूर्ति होती है। अब रविवार से इन इलाकों को ट्यूबवेल का पानी मिलेगा।

यह भी पढ़ें: 
आखिरी मोड़: राह भटकते ही एक साथ मौत के सफर पर निकल गए चार दोस्त, तालाब बना काल 
... और पढ़ें

अयोध्या : रामनगरी पहुंचे उत्तराखंड के सीएम धामी, कहा- पीएम मोदी के नेतृत्व में साकार हो रहा मंदिर निर्माण का सपना

गंगनहर
रामनगरी पहुंचे उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में राममंदिर निर्माण का सपना साकार हो रहा है। वह दिल्ली सेवा धाम के तत्वावधान में आयोजित भूमिपूजन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए अयोध्या पहुंचे हैं। उन्होंने नयाघाट पर पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि उनका अयोध्या से पहले से ही गहरा लगाव रहा है, पचासों बार अयोध्या आ चुके हैं। वह जब अयोध्या आते थे तो यही सोचते थे कि हमारे रामलला कब तक टेंट में विराजमान रहेंगे। आज राममंदिर निर्माण का कार्य अपनी आंखों से देख पा रहे हैं।

उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि भगवान राम हमारे आदर्श हैं, हर श्वांस में हम भगवान राम का नाम लेते हैं। रामराज्य हमेशा से हमारे लिए आदर्श शासन रहा है। 3 जुलाई से मुख्य सेवक के रूप में उत्तराखंड में काम शुरू किया गया है। इसलिए रामलला का आशीर्वाद लेने अयोध्या आए हैं ताकि उनके आशीर्वाद से जनता तक विकास का मॉडल पहुंचाया जा सके।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वह विशुद्ध रूप से धार्मिक यात्रा पर आए हैं। कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जो राजनीतिक यात्रा बता रहे हैं, यह उनका चश्मा हो सकता है। धर्म व राजनीति एक-दूसरे के पूरक रहे हैं। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में भगवान राम के प्रति गहरी आस्था है। उत्तराखंड भगवान शिव व अयोध्या भगवान राम की धरती है, दोनों में अभिन्नता प्रतिपादित है। उत्तराखंड के लोग राष्ट्रभक्त होने के साथ-साथ रामभक्त भी हैं।

छत्तीसगढ़ व लखीमपुर में हुई घटना पर कहा कि पीएम मोदी किसानों के हित में काम कर रहे हैं। किसान सम्मान निधि योजना आदि इसका प्रमाण है। किसानों की आय दोगुनी कैसी हो, इसके लिए भी काम हो रहा है। इससे पूर्व अयोध्या पहुंचने पर उत्तराखंड के सीएम का सांसद लल्लू सिंह, नगर विधायक वेदप्रकाश गुप्ता, महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, रुदौली विधायक रामचंद्र यादव आदि ने अगुवानी करते हुए स्वागत किया। इस दौरान भाजपा नेता अवधेश पांडेय बादल, अभय सिंह सहित अन्य भी मौजूद रहे।

रामलला का किया दर्शन, उतारी सरयू की आरती
उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने रामलला का दर्शन-पूजन किया और राममंदिर निर्माण की प्रगति भी देखी। उन्होंने हनुमानगढ़ी में भी दर्शन-पूजन किया। सायंकाल पावन सलिला सरयू की महाआरती में भी सीएम धामी शामिल हुए। वे रविवार को दिल्ली सेवा धाम के तत्वावधान में आयोजित भूमिपूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे।

दिल्ली सेवा धाम के संस्थापक ट्रस्टी सतीश वासिया ने बताया कि अयोध्या आने वाले भक्तों के लिए उनके ट्रस्ट द्वारा 500 कमरे की धर्मशाला बनाई जा रही है जिसका भूमिपूजन सीएम धामी करेंगे। इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए दिल्ली से करीब 2500 लोग भी अयोध्या पहुंचे हैं। ट्रस्ट द्वारा रामकथा पार्क से श्रीरामजन्मभूमि तक गाजे-बाजे के साथ भव्य शोभायात्रा भी निकाली गई।
... और पढ़ें

कुशीनगर : बुद्ध के उपदेशों से अंतरराष्ट्रीय संबंधों को प्रगाढ़ करेंगे प्रधानमंत्री, एयरपोर्ट का उद्घाटन 20 को

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 अक्तूबर को कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लोकार्पण करेंगे। इसके के बाद वे यहीं एयरलाइंस कंपनियों के सीईओ व टूर-ट्रेवल्स कंपनियों के संचालकों के साथ व्यवसाय व हवाई अड्डे के परिचालन को लेकर विचार-विमर्श भी करेंगे। इसी क्रम में पीएम अंतरराष्ट्रीय बुद्धिस्ट कॉन्क्लेव से बुद्ध के उपदेशों के माध्यम से विभिन्न देशों से संबंधों को और प्रगाढ़ करेंगे। उम्मीद है कि लोकार्पण के बाद अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी आरंभ हो जाएंगी। 

लोकार्पण के तुरंत बाद पीएम की हवाई फ्लीट कुशीनगर पहुंचेगी। यहां मुख्य महापरिनिर्वाण मंदिर में विशेष-पूजा अर्चना के बाद वे मंदिर परिसर में ही बने पंडाल में अंतरराष्ट्रीय बुद्धिस्ट संगोष्ठी-2021 को संबोधित करेंगे। इसमें भारत-श्रीलंका समेत अन्य बुद्धिस्ट देशों के साथ प्रगाढ़ संबंधों पर वे विचार रखेंगे। इसमें श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे व 25 डेलीगेट्स होंगे। 

उधर, संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से अंतरराष्ट्रीय बुद्धिस्ट संगोष्ठी -2021 को सफल बनाने के लिए देश के विभिन्न राज्यों से बड़ी संख्या में प्रमुख बौद्ध भिक्षुओं, अनुयायियों, उपासक-उपासिकाओं को बुलाया जा रहा है। संग्रहालय के अध्यक्ष अमित द्विवेदी ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय बुद्धिस्ट संगोष्ठी तीन दिवसीय है। 20 अक्तूबर से शुरू होकर यह 22 अक्तूबर चलेगी। इसमें बुद्ध धर्म व विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित होंगे। 

कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरा बोइंग बी-737 विमान
कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एयर फ्लीट में शामिल वायुसेना का बोइंग बी-737 विमान उतरा। उसने लैडिंग व टेकऑफ का पूर्वाभ्यास किया तो अड्डे पर सुरक्षा संबंधी जांच भी किया।

विमान के पायलट ने टेक्निकल पहलुओं का अध्ययन किया। यह पूर्वाभ्यास 20 अक्तूबर को हवाई अड्डे का लोकार्पण करने आ रहे प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर बताया जा रहा है। इसके पूर्व भी इस विमान ने बीते सात जून को यहां लैडिंग कर सुरक्षा की जांच की थी।

लैंडिंग से पूर्व विमान ने रन-वे का दो चक्कर लगाया। पायलट ने इस दौरान लैंडिंग व टेकऑफ प्वाइंट और नेविगेशनल सिस्टम आदि की जांच की। एप्रन के चार नंबर प्वाइंट पर विमान पार्क कर पांच सदस्यीय चालक दल ने एयरपोर्ट अथॉरिटी के अधिकारियों से वार्ता की और टेक्निकल पहलुओं को समझा।

आधा घंटा एप्रन पर रुकने के बाद विमान दिल्ली के लिए टेक ऑफ कर गया। बी-737 बोइंग विमान प्रधानमंत्री के हवाई बेड़े का विमान है। देश-विदेश में दौरे के लिए इस विमान का उपयोग प्रधानमंत्री के अतिरिक्त राष्ट्रपति व उप-राष्ट्रपति भी करते हैं। ऐसे में इस वीवीआईपी विमान के कुशीनगर एयरपोर्ट पर उतरने से हलचल और तेज हो गई है।
... और पढ़ें

बरेलीः कोई चुरा ले गया मां के साथ सो रहा 22 दिन का बच्चा

प्रयागराज डबल मर्डर केस : बहू ने ही कराई थी अपनी सास-ननद की हत्या, पुलिस ने किया खुलासा

औद्योगिक क्षेत्र स्थित मियां का पूरा गांव में मां-बेटी की हत्या का खुलासा करते हुए शनिवार को पुलिस ने बहु सलोनी तथा उसके पति के दोस्त शोभनाथ उर्फ शोभई को गिरफ्तार कर लिया। सलोनी खुद हत्या में शामिल थी। हत्या के बाद दोनों ने घर से गहने भी चुराए थे ताकि यह मामला लूट का लगे।

पुलिस को दिए बयान में सलोनी ने बताया कि ससुराल वाले उसकी छह साल की बेटी से उसे नहीं मिलने देते थे। इसी कारण उसने हत्या को अंजाम दिया। पुलिस ने उनके पास से गहने बरामद किए हैं। मियां का पूरा में मंगलवार रात प्रेमपति देवी और उसकी बेटी तनु 17 की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। प्रेमपति के पति बजरंग बहादुर पटेल उफ नचऊ पटेल पर जानलेवा हमला किया गया था। घटना के वक्त बजरंग की छह साल की पोती अंशिका भी थी लेकिन कातिलों ने उसे छोड़ दिया था।

इस मामले में पुरानी रंजिश के आधार पर पड़ोसी परिवार के चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई लेकिन पुलिस को मामला कुछ और ही लग रहा था। जांच में पता चला कि बजरंग के बेटे ने कुछ साल पहले आत्महत्या कर ली थी। उसकी पत्नी सलोनी ने दूसरी शादी कर ली थी। अंशिका सलोनी की बेटी है। सलोनी की कॉल डीटेल्स खंगाला गया तो पुलिस को काफी कुछ जानकारी मिल गई। इसके बाद सलोनी और शोभनाथ उर्फ शोभई को पकड़ लिया गया। शोभनाथ सलोनी के पति का दोस्त है।

... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00